Punjab: आलाकमान ने अमरिंदर को इस्तीफे के लिए कहा, नाराज कैप्टन ने दी कांग्रेस छोड़ने की धमकी

Punjab Congress: आज शाम पंजाब में कांग्रेस विधायक दल की बैठक बुलाई गई है. अधिकतर विधायकों ने हस्ताक्षरित पत्र के माध्यम से मुख्यमंत्री को पद से हटाने की मांग की है.   

Written by - Zee Hindustan Web Team | Last Updated : Sep 18, 2021, 03:05 PM IST
  • पंजाब कांग्रेस में सियासी भूचाल तेज
  • कैप्टन के सामने मुसीबतों का पहाड़
Punjab: आलाकमान ने अमरिंदर को इस्तीफे के लिए कहा, नाराज कैप्टन ने दी कांग्रेस छोड़ने की धमकी

चंडीगढ़ः पंजाब में शनिवार को कांग्रेस विधायक दल (CLP) की बैठक से चंद घंटे पहले पार्टी आलाकमान मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह को एक नए पदाधिकारी के चुनाव को सक्षम करने के लिए इस्तीफा देने के लिए कहा है. हालांकि मुख्यमंत्री ने अपमानित होने पर पार्टी छोड़ने की 'धमकी' दी है.

'अपमानित महसूस कर रहे कैप्टन'
मुख्यमंत्री के एक करीबी विश्वासपात्र ने मीडिया से कहा, 'अमरिंदर सिंह ने सुबह कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से बात की और उनसे कहा कि उन्हें अपमानित किया जा रहा है और वह पार्टी से इस्तीफा दे देंगे.' पार्टी के कुछ वरिष्ठ नेताओं के मुताबिक, आलाकमान ने अमरिंदर सिंह को साफ तौर पर पद छोड़ने को कहा है.

आज शाम होनी है विधायक दल की बैठक
मिनट दर मिनट बदलते राजनीतिक घटनाक्रम की शुरुआत शुक्रवार की रात करीब 11 बजकर 42 मिनट पर हुई, जब पंजाब कांग्रेस के प्रभारी हरीश रावत ने शनिवार को तत्काल सीएलपी की बैठक करने के फैसले के बारे में ट्वीट किया. करीब 10 मिनट बाद प्रदेश पार्टी अध्यक्ष नवजोत सिद्धू ने सभी विधायकों को सीएलपी की बैठक में उपस्थित रहने का निर्देश दिया.

यह भी पढ़िएः Punjab Congress: फिर मुश्किल में कैप्टन? पार्टी ने आज बुलाई विधायक दल की बैठक

रावत की घोषणा को हाईकमान की ओर से नए पदाधिकारी को नियुक्त करने के संकेत के रूप में देखा जा रहा है, जिसके नेतृत्व में पार्टी मार्च 2022 में होने वाले विधानसभा चुनाव में जाएगी. 

पूर्व प्रदेश अध्यक्ष ने दी प्रतिक्रिया
राजनीतिक घटनाक्रम पर प्रतिक्रिया देते हुए, पूर्व राज्य अध्यक्ष सुनील जाखड़ ने ट्वीट किया, 'वाह राहुल गांधी, आपने बेहद उलझी हुई गुत्थी के पंजाबी संस्करण के समाधान का रास्ता निकाला है. आश्चर्यजनक ढंग से नेतृत्व के इस साहसिक फैसले ने ना सिर्फ पंजाब कांग्रेस के झंझट को खत्म किया है, बल्कि इसने कार्यकर्ताओं को मंत्रमुग्ध कर दिया है और अकालियों की बुनियाद हिला दी है.'

कैप्टन के खिलाफ विधायकों में है असंतोष
सीएलपी को बुलाने का निर्णय अधिकांश विधायकों द्वारा हस्ताक्षरित नए पत्र के मद्देनजर आता है, जिन्होंने अमरिंदर सिंह से असंतोष व्यक्त किया और उन्हें मुख्यमंत्री पद से हटाने की मांग की. इस बीच, मुख्यमंत्री सीएलपी की बैठक में जाने से पहले पार्टी विधायकों से मिलने के लिए यहां अपने आधिकारिक आवास पर पहुंच रहे हैं. बैठक में मुख्यमंत्री खेमे को बदलने की मांग होने की स्थिति में सख्त रुख अपनाने का विकल्प चुन सकता है.

Zee Hindustan News App: देश-दुनिया, बॉलीवुड, बिज़नेस, ज्योतिष, धर्म-कर्म, खेल और गैजेट्स की दुनिया की सभी खबरें अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें ज़ी हिंदुस्तान न्यूज़ ऐप.  

ज़्यादा कहानियां

ट्रेंडिंग न्यूज़