हिमाचल में भीषण बर्फबारी के साथ बारिश भी हुई तेज, मौसम विभाग ने जारी किया अलर्ट

हिमाचल प्रदेश में भीषण बर्फबारी रूकने का नाम नहीं ले रही है. वहीं दूसरी और जहां कुछ इलाकों में हल्की बारिश हो रही थी, वहां भयावह बर्फबारी होने लगा है और जहां बर्फबारी हो रही थी वहां बारिश ने प्रकोप बरसाना शुरु कर दिया है. हिमाचल के किन्नौर में भारी बर्फबारी अभी भी जारी है, जिसमें निचार, कल्पा, पूह ब्लॉक पर बर्फबारी का सबसे ज्यादा असर देखने को मिल रहा है.  

हिमाचल में भीषण बर्फबारी के साथ बारिश भी हुई तेज, मौसम विभाग ने जारी किया अलर्ट

किन्नौर: मौसम विभाग ने इन हालातों को देखते हुए मंगलवार को हिमाचल प्रदेश में हो रही बारिश और बर्फबारी के चलते येलो वेदर की चेतावनी जारी की है. यह येलो वेदर मौसम विभाग ने हिमाचल में रहने वाले लोगों को सचेत करने के लिए जारी किया ताकि वह बदलते हुए मौसम के प्रकोप से बच सकें. कलर कोडेड चेतावनियों में येलो वेदर सबसे कम खतरनाक कहा जाता है लेकिन यह भी आने वाले खतरे को देखते हुए ही जारी किया जाता है. एक दो दिनों में मैदानी और निचले क्षेत्रों में बिजली गिरने की भी संभावना जताई जा रही है.

बता दें कि हिमाचल प्रदेश के 8 जिलों में येलो वेदर की चेतावनी दी गई है. किन्नौर के जनजातीय जिलों में कुछ दिनों से हल्की बारिश हो रही थी, जिसके चलते पूरे इलाके में ठंड काफी बढ़ गई थी. देर रात मौसम का मिजाज बदल गया और बारिश के साथ-साथ बर्फबारी भी शुरू हो गई और सुबह होते-होते पूरा इलाका बर्फ की चादर से ढक गया. यूं तो कई महीनों से बर्फबारी हो रही है. लेकिन हिमाचल के निचले इलाकों में सिर्फ बारिश हो रही थी लेकिन बीती रात बारिश के साथ-साथ बर्फबारी भी शुरू हो गई है. इसके चलते घर से बाहर निकलना लोगों के लिए काफी मुश्किल हो गया है. रास्तों पर भी बर्फ जम चुका है और रास्ते बंद हो चुके हैं. 

ISRO ने लॉन्च की 14 सैटेलाइट, क्लिक कर जाने देश की नई उपलब्धि.

26 दिसंबर को साल का आखिरी सूर्यग्रहण, लिंक पर क्लिक कर जाने खबर.

आम लोगों का जीवन भी अस्त-व्यस्त हो गया है. जिला में सारे जलस्त्रोत जम चुके है, बिजली-पानी की समस्या बढ़ चुकी है. इसके अलावा फोन पर भी जनसंपर्क नहीं हो पा रहा है.  सूत्रों के मुताबिक जिला के छितकुल, सांगला, रकच्छम, नाको, हांगो, चांगो, चुलिंग, कल्पा, नेसड्ग व कई अन्य ऊंचाई वाले क्षेत्रों में चार फीट तक बर्फबारी होने की सूचना है. साथ ही रिकांगपिओ व अन्य निचले क्षेत्रो में भी एक से डेढ़ फीट बर्फबारी हुई है. इसके चलते परिवहन निगम की बसों के सभी रास्ते फिलहाल बन्द कर दिए गए हैं, लेकिन अभी प्रशासन की तरफ से कोई जानमाल के नुकसान की सूचना नही मिली है. उधर बर्फबारी को देखते हुए किन्नौर जिला प्रशासन ने निचार, कल्पा, पूह के स्कूलों में छुट्टियों की घोषणा कर दी है. यहां दो दिन की छुट्टी हुई है, मौसम को देखते हुए इन छुट्टियों को आगे भी बढ़ाया जा सकता है.