हिज्बुल का जिला कमांडर हरून मुठभेड़ में ढेर, संघ नेता की हत्या में था शामिल

हिजबुल मुजाहिद्दीन के इस डिस्ट्रिक्ट कमांडर की भारतीय सेना को काफी दिनों से तलाश थी. डीजीपी ने कहा, 'हरून काफी एक्टिव हो गया था, इसका साथी अभी नहीं पकड़ा गया है. उन्होंने डोडा की पुलिस को इसके लिए बधाई दी है. 

हिज्बुल का जिला कमांडर हरून मुठभेड़ में ढेर, संघ नेता की हत्या में था शामिल

जम्मू-कश्मीर: राज्य के डीजीपी दिलबाग सिंह ने कश्मीर मसलों से जुड़े मामलों पर जानकारी दी है. उन्होंने बताया है कि घाटी में हुए एक ऑपरेशन में हरून अब्बास को मार गिराया गया है. उन्होंने कहा कि यह ऑपरेशन आज (बुधवार) किया गया था. उनके अनुसार हरून नवंबर में परिहार बंधुओं की हत्या में शामिल था, साथ ही आरएसएस नेता चंद्रकांत शर्मा व उनके पीएसओ की हत्या में भी इसी का हाथ था.

माना जा रहा है कि अभी भी एक से दो और आतंकी मुठभेड़ स्थल पर छिपे हुए हैं. हिजबुल मुजाहिद्दीन के इस डिस्ट्रिक्ट कमांडर की भारतीय सेना को काफी दिनों से तलाश थी. डीजीपी ने कहा, 'हरून काफी एक्टिव हो गया था, इसका साथी अभी नहीं पकड़ा गया है. उन्होंने डोडा की पुलिस को इसके लिए बधाई दी है. बताया कि हमाद खान का खात्मा 6 जनवरी को हुआ. बडगाम में आदिल मारा गया. 

हरुन के पास से एके-47 राइफल बरामद
सैन्य सूत्रों के अनुसार, सेना की राष्ट्रीय राइफल्स को सुबह हरुन के डोडा में छिपे होने की सूचना मिली थी. खुफिया इनपुट्स के आधार पर ही सेना ने गोंदाना में बड़ा तलाशी अभियान चलाया था. सेना की सख्त घेराबंदी के बीच हरुन ने फायरिंग कर मौके से भागने की कोशिश की थी, जिसके बाद जवानों ने जवाबी कार्रवाई करते हुए उसे मार गिराया. हरुन के पास से एके-47 राइफल, तीन मैगजीन, 73 कारतूस, एक चीनी ग्रेनेड और एक रेडियो सेट बरामद किए गए हैं. पुलिस के मुताबिक, उसका एक साथी मौके से फरार हो गया है जिसकी तलाश की जा रही है.

हथियार लूट और हत्या की वारदातों में आया नाम
सैन्य अधिकारियों के अनुसार, हरुन राज्य में हुई तमाम आतंकी वारदातों में शामिल था. इसके अलावा हथियार लूट और राजनीतिक कार्यकर्ताओं की हत्या के मामलों में भी उसका नाम सामने आया था. हरुन किश्तवाड़ के हिज्बुल कमांडर ओसामा जावेद के साथ इस इलाके में आतंकी गतिविधियां चलाया करता था. कुछ दिनों पहले ओसामा को सेना ने रामबन में हुई एक मुठभेड़ के दौरान ही मार गिराया था.

डीएसपी देवेंद्र का आतंकी नवेद से पहले का था कनेक्शन

'आतंकियों का साथी' DSP बर्खास्त
आतंकियों का साथ देने वाले और देशद्रोह के आरोप में घिरे DSP देविंदर सिहं को बर्खास्त कर दिया गया है. सूत्रों का कहना है कि देविंदर सिंह काफी समय से सुरक्षाबलों के रडार पर था और पिछले साल नवीद बाबू को सफलतापूर्वक जम्मू ले गया था, जहां वह सिदरा इलाके में रुका था और बाद में उसे भी वापस छोड़ दिया था. इस मामले में जम्मू-कश्मीर के डीजीपी दिलबाग सिंह ने बताया कि डिप्टी एसपी दविंदर सिंह को उनके पद से बर्खास्त करने के लिए सिफारिश कर रहे हैं. हालांकि इस दौरान उन्होंने पूछताछ में हुए खुलासे को साझा करने से इनकार किया. 

आखिर कैसे देवेन्द्र सिंह जैसा देशद्रोही हमेशा से बचता रहा? जानिए यहां