close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

महाराष्ट्र के बीड में गृह मंत्री अमित शाह की चुनावी दस्तक, जनता को याद दिलाई मुंडे परिवार की उपलब्धियां

भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने महाराष्ट्र के बीड में चुनावी रैली को संबोधित किया. वह यहां पर भाजपा के वरिष्ठ और दिवंगत नेता गोपीनाथ मुंडे की बेटी पंकजा मुंडे के पक्ष में प्रचार करने के लिए आए हुए थे. 

महाराष्ट्र के बीड में गृह मंत्री अमित शाह की चुनावी दस्तक, जनता को याद दिलाई मुंडे परिवार की उपलब्धियां
महाराष्ट्र चुनाव प्रचार के लिए बीड में गृहमंत्री ने की रैली

मुंबई: महाराष्ट्र के बीड विधानसभा क्षेत्र से भारतीय जनता पार्टी प्रत्याशी पंकजा मुंडे इस बार चुनावी मैदान में उतरी हुई हैं. उनके पक्ष में प्रचार करने के लिए पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह बीड पहुंचे. उन्होंने बीड की जनता को यहां पर मुंडे परिवार द्वारा किए हुए कामों की याद दिलाई. 

मोदी सरकार की उपलब्धियां याद दिलाई
गृहमंत्री जब यहां पहुंचे तो पारंपरिक रुप से उन्हें साफा पहनाकर उनका स्वागत किया गया. उन्होंने बीड जिले के सावरगांव में दशहरा उत्सव में शिरकत की. अपने चुनावी भाषण के दौरान शाह ने जनता को मोदी सरकार की उपलब्धियों की याद दिलाई. उन्होंने कश्मीर पर मोदी सरकार के ऐतिहासिक फैसले की याद दिलाते हुए कहा कि 'आपने मोदी जी को 300 सीटें दी और उन्होंने 5 महीने में 370 हटा दी. आज उनके सम्मान में 370 ध्वज लेकर राष्ट्रभक्त खड़े हैं.'

ओबीसी वोटरों को लुभाने की कोशिश
बीड जिला ओबीसी बहुल क्षेत्र है. यहां के वोटरों के वोटरों के सामने मोदी सरकार के कदमों का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि 'मोदी सरकार वंचितों और ओबीसी समाज के लिए भगवान बाबा के रास्ते पर चलने का काम किया है. ओबीसी समाज को संवैधानिक दर्जा देने का काम किया है और ओबीसी समाज केलिए संवैधानिक आयोग की रचना का काम किया है. मोदीजी के नेतृत्व में देश दिन दूनी रात चौगुनी तरक्की कर रहा है. वंचितों के विकास के लिए बाबासाहेब अंबेडकर की जो कल्पना थी उसी तरह मोदी सरकार काम कर रही है.'

मुंडे परिवार के कार्यों की याद दिलाई
अमित शाह ने इस इलाके में मुंडे परिवार द्वारा किए हुए कदमों की भी याद दिलाते हुए जिक्र किया कि ' 'पांच साल पहले 2014 में भगवान गढ़ आया था, अब 5 साल बाद भगवान बाबा के गांव सावरगांव में आया हूं. भगवान बाबा के स्मृति का सुंदर निर्माण पंकजा मुंडे ने किया. यह वंचितो के लिए आदर्श बनेगा. वंचित समाज के लिए भगवान बाबा ने कार्य किया था, उन्होंने प्रगति का रास्ता वंचित को लिए बनाया. शिक्षा के रास्ते पर वंचित समाज को ले जाने के लिए भगवान बाबा ने कार्य किया. उनकी स्मृति चिंरजीव बनाने के लिए गोपीनाथ मुंडेजी ने कार्य किया है. पंकजा मुंडे उस कार्य को आगे बढा रही हैं. 
गोपीनाथ मुंडे ने गन्ना कटाई मजदूरों और चीनी कारखानों में काम करने वाले मजदूरों के लिए पूरा जीवन लगाया था. पंकजा मुंडे भी उसी रास्ते पर चल रहीं हैं. पांच साल पहले भगवान बाबा का स्मारक बनाने के घोषणा मेरे उपस्थिति में पंकजा जी ने की थी, अब यह स्मृति स्थल उन्होंने ट्रस्ट के माध्यम से खडा किया है.'

एनसीपी का गढ़ माना जाता है बीड
बीड इलाका राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी का गढ़ माना जाता है. यहां साल 2009 और 2014 के विधानसभा चुनाव में एनसीपी प्रत्याशी को जीत मिली थी. जबकि भाजपा दूसरे नंबर पर रही थी. हालांकि भाजपा प्रत्याशी की जीत का अंतर काफी कम रहा था. 

लोकसभा चुनाव में भाजपा का अच्छा प्रदर्शन
इस बार भाजपा ने महाराष्ट्र के कद्दावर राजनैतिक परिवार से आने वाली पंकजा मुंडे को टिकट दिया है, जो कि राज्य में मंत्री भी हैं. यहां 291514(दो लाख इक्यानबे हजार पांच सौ चौदह) मतदाता हैं. आम तौर पर बीड में 70 फीसदी वोटिंग होती है. 

भाजपा इसलिए भी यहां से जीत को लेकर उत्साहित है क्योंकि साल 2019 के लोकसभा चुनाव में इस इलाके से भाजपा की प्रीतम गोपीनाथ राव मुंडे 1.68 लाख वोटों के भारी अंतर से जीती थीं.