कोरोना काल में भारतीयों ने स्विस बैंक में सबसे ज्यादा पैसा जमा किया, 13 साल का रिकॉर्ड टूटा

कोरोना काल में भले ही भारतीय अर्थव्यवस्था को झटका लगा हो, लेकिन इस दौरान भी कई भारतीय रईसों और कंपनियों ने स्विस बैंक में अपनी जमापूंजी बढ़ाई.  

Written by - Zee Hindustan Web Team | Last Updated : Jun 18, 2021, 11:53 AM IST
  • केन्द्रीय बैंक की ओर से जारी किए गए सालाना डेटा में पता चला
  • इस साल सबसे ज्यादा लोगों ने जमा कराए पैसे

ट्रेंडिंग तस्वीरें

कोरोना काल में भारतीयों ने स्विस बैंक में सबसे ज्यादा पैसा जमा किया, 13 साल का रिकॉर्ड टूटा

नई दिल्लीः कोरोना के चलते एक ओर कई लोगों के रोजगार छिने हैं और देश की अर्थव्यवस्था को भी गहरा झटका पहुंचा है, लेकिन दूसरी तरफ खबर ये भी है कि इस कोरोना काल के दौर में सबसे ज्यादा पैसे स्विस बैंक में भारतीयों ने जमा कराए हैं. दरअसल, केन्द्रीय बैंक की ओर से जारी किए गए सालाना डेटा में पता चला कि साल 2020 में भारतीय रईसों और कंपनियों ने स्विस बैंक में सबसे ज्यादा पैसा जमा किया. जिसके चलते जमा रकम में बढ़ोत्तरी हुई है.

13 सालों में सबसे ज्यादा
कोरोना काल में भले ही भारतीय अर्थव्यवस्था को झटका लगा हो, लेकिन इस दौरान भी कई भारतीय रईसों और कंपनियों ने स्विस बैंक में अपनी जमापूंजी बढ़ाई. उन्होंने इस मुश्किल वक्त में भी जमकर पैसा कमाया है. इसी बीच गुरुवार को स्विट्जरलैंड के केन्द्रीय बैंक की ओर से जारी किए गए सालाना डेटा से पता चला कि साल 2020 में स्विट्जरलैंड के बैंकों (Swiss Banks) में भारतीयों और भारतीय कंपनियों का जमा पैसा बढ़कर करीब 2.55 अरब स्विस फ्रैंक यानी 20,700 करोड़ रुपए से ज्यादा हो गया है. ये आंकड़ा पिछले 13 सालों में सबसे ज्यादा है. ये आंकड़ा थोड़ा हैरान करने वाला जरूर है, लेकिन सच है.

ये भी पढ़ेंः Explained: वैक्सीन के बनाने में क्यों और कितना जरूरी है Animal Serum

क्या कहता है डेटा
डेटा के मुताबिक, 2019 के आखिर में स्विस बैंकों में भारतीयों और भारतीय कंपनियों की जमा रकम लगभग 89.9 करोड़ फ्रैंक्स (6,625 करोड़ रुपए) थी. वहीं साल 2020 के आखिर तक कुल जमा रकम बढ़कर 20,706 करोड़ रुपए हो गई. इस रकम में 4,000 करोड़ रुपए से ज्यादा के कस्टमर डिपॉजिट, 3100 करोड़ रुपये से ज्यादा दूसरे बैंकों के जरिए, 16.5 करोड़ रुपये ट्रस्ट के जरिए और लगभग 13500 करोड़ रुपये बॉन्ड, सिक्योरिटीज व विभिन्न अन्य वित्तीय विकल्पों से संबंधित चीजें शामिल हैं.

ये भी पढ़ेंः देश में तेजी से घट रहा कोरोना संक्रमण, 61 दिनों में सामने आए सबसे कम नए मामले

बैंक के मुताबिक, इससे पहले साल 2006 में लगभग 6.5 बिलियन स्विस फ्रैंक के साथ भारतीयों की जमा रकम ने रिकॉर्ड उच्च स्तर छुआ था, लेकिन इसके बाद  2011, 2013 और 2017 को छोड़कर स्विस बैंक में पैसा जमा कराने में भारतीयों ने ज्यादा रुचि नहीं दिखाई थी. लेकिन 2020 ने जमा रकम के सारे आंकड़े पीछे छोड़ दिए. साल 2020 में भारतीय जमा राशि में जहां निजी कस्टमर खातों की हिस्सेदारी करीब 4000 करोड़ रुपये थी, वहीं 3100 करोड़ रुपये अन्य बैंकों के जरिये जमा कराए गए थे.

Zee Hindustan News App: देश-दुनिया, बॉलीवुड, बिज़नेस, ज्योतिष, धर्म-कर्म, खेल और गैजेट्स की दुनिया की सभी खबरें अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें ज़ी हिंदुस्तान न्यूज़ ऐप.  

ज़्यादा कहानियां

ट्रेंडिंग न्यूज़