जेएनयू हिंसाः पुलिस जांच में सहयोग नहीं कर रहे छात्र, रजिस्ट्रेशन की तारीख बढ़ी

पुलिस ने गुरुवार को दोबारा अक्षत, रोहित और चुनचुन को पूछताछ के लिए बुलाया था, लेकिन वो नहीं आए. और उनके आने के बाद जांच को आगे की दिशा मिलेगी इन लोगों को पहले भी बुलाया जा चुका है. अक्षत के बारे में तो पुलिस को पता भी नहीं है कि वह कहां है. 

जेएनयू हिंसाः पुलिस जांच में सहयोग नहीं कर रहे छात्र, रजिस्ट्रेशन की तारीख बढ़ी

नई दिल्लीः जेएनयू हिंसा मामले की जांच क्राइम ब्रांच की SIT टीम कर रही है. इस मामले में उसे परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है. टीम का कहना है कि कुछ छात्र जांच में सहयोग नहीं कर रहे हैं.  पुलिस भले ही छात्र के रूप में तोड़फोड़ करने वालों से जांच में मदद की उम्मीद कर रही हो, लेकिन छात्र पुलिस का सहयोग नहीं कर रहे हैं.  कई बार बुलाने के लिए बाद भी कुछ संदिग्ध पुलिस की जांच में शामिल होने के लिए नहीं आ रहे. 

पूछताछ के लिए नहीं पहुंच रहे 
पुलिस ने गुरुवार को दोबारा अक्षत, रोहित और चुनचुन को पूछताछ के लिए बुलाया था, लेकिन वो नहीं आए. और उनके आने के बाद जांच को आगे की दिशा मिलेगी इन लोगों को पहले भी बुलाया जा चुका है, लेकिन वह जांच में शामिल होने के लिए नहीं आए. अक्षत के बारे में तो पुलिस को पता भी नहीं है कि वह कहां है, जबकि जिस लड़की की फुटेज वायरल हुई थी, उस तक भी अभी पुलिस नहीं पहुंच सकी है.

वहीं दूसरी ओर, हंगामे के कारण कई वास्तविक छात्रों का भी रजिस्ट्रेशन नहीं हो सका है और उनकी समस्याओं को देखते हुए जेएनयू प्रशासन ने रजिस्ट्रेशन की तारीख 17 जनवरी तक बढ़ा दी है.

बढ़ाई गई है रजिस्ट्रेशन की तारीख
जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय विंटर सेमेस्टर के लिए रजिस्ट्रेशन की समय-सीमा बढ़ा चुका है. नई तिथि 17 जनवरी रखी गई है. गुरुवार को रजिस्ट्रेशन के अंतिम तारीख आगे बढ़ाए जाने की सूचना जेएनयू के रजिस्ट्रार मनोज कुमार ने दी है. जेएनयू प्रशासन के मुताबिक, 17 जनवरी तक पंजीकरण करवाने वाले छात्रों से कोई लेट फी नहीं ली जाएगी. हालांकि इस अंतिम तारीख के बाद जेएनयू ने लेट फी का प्रावधान रखा है. इस सहूलियत के पीछे का तर्क यह है कि हंगामे के कारण कई छात्र रजिस्ट्रेशन नहीं करा सके हैं. 

तीन बढ़ाई जा चुकी है तारीख
जेएनयू की तरफ से जारी सर्कुलर में कहा गया है कि बिना किसी लेट फीस के अब 17 जनवरी तक रजिस्ट्रेशन करवाया जा सकता है. 17 जनवरी के बाद लेट फीस के साथ 9 फरवरी तक छात्र रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं. यह तीसरा अवसर है, जब जेएनयू प्रशासन ने पंजीकरण की अंतिम तारीख को आगे बढ़ाया है. इससे पहले रजिस्ट्रेशन 12 जनवरी तक के लिए बढ़ाई गई थी. 12 जनवरी के बाद इसे 15 जनवरी और फिर अब 17 जनवरी कर दिया गया है.

रायसीना डायलॉग्स 2020: 'पाकिस्तान में पनप रहा है आतंकवाद'

सर्वर रूम में हुई थी तोड़फोड़
दरअसल, सर्वर रूम में तोड़फोड़ करने के बाद से ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन का सर्वर बंद हो गया था. जिसके कारण छात्र विंटर सेमेस्टर के लिए रजिस्टर नहीं कर पाए थे. जेएनयू प्रशासन ने बढ़ाई गई तारीख की सूचना सूचना मानव संसाधन विकास मंत्रालय को भी भेज दी है साथ ही छात्रों से भी अपील की गई है कि वे विंटर सेमेस्टर के लिए अपना पंजीकरण करवाएं. सर्वर रूम में तोड़फोड़ के बाद ही जेएनयू में हिंसा का माहौल भी पनपा था. 

शाहीन बाग में प्रदर्शन के लिए महिलाओं को मिलता है 500-500 रूपये, लगती है शिफ्ट