• पूरे देश में कोरोना वायरस के कुल सक्रिय मामले अभी तक 4312 हैं, अभी तक 124 लोगों की मृत्यु हुई, 353 लोग इलाज के बाद ठीक हुए
  • स्वास्थ्य मंत्रालय ने कोरोना मरीजों की देखभाल के लिए अस्पताल और अन्य सुविधाओं को तीन भागों में बांटा.
  • भारतीय रेलवे अपने डॉक्टरों और चिकित्साकर्मियों की सुरक्षा के लिए हर रोज एक हजार पीपीआई किट का निर्माण करेगी
  • कोरोना से निपटने के लिए राहत कार्यों में योगदान देने के लिए पूर्व सैनिकों ने स्वैच्छिक सेवाएं प्रदान की
  • लॉकडाउन के बीच जहाजों का आवागमन होगा, पोत परिवहन मंत्रालय ने सुनिश्चित किया
  • सरकार के दीक्षा ऐप पर कोरोना से जूझने वालों के लिए इंटीग्रेटेड ऑनलाइन गवर्नमेन्ट ट्रेनिंग यानी IGOT कोर्स लाया गया है
  • पूरी दुनिया में कोरोना वायरस की चपेट में 1,428,428, अब तक कुल 82,020 की मौत हो चुकी है. 3,00,198 मरीज ठीक भी हुए.
  • राज्यों में कुल कोरोना संक्रमण- महाराष्ट्र में 1161, तमिलनाडु में 690, दिल्ली में 606, तंलंगाना में 404, केरल में 336
  • उत्तर प्रदेश में 332 राजस्थान में 343, आंध्र में 324, मध्य प्रदेश में 280, कर्नाटक में 204, गुजरात में 168

कोरोना वायरस के कहर बीच जानिये विधायकों को योगी सरकार ने क्या दी राहत

कोरोना वायरस के कहर के बीच योगी सरकार ने उत्तर प्रदेश के सभी विधायकों को बड़ी राहत दी है. आपको बता दें कि यूपी में कोरोना वायरस के मरीजों की संख्या लगातार बढ़ रही है.

कोरोना वायरस के कहर बीच जानिये विधायकों को योगी सरकार ने क्या दी राहत

लखनऊ: कोरोनावायरस का खतरा लगातार बढ़ रहा है. उत्तर प्रदेश में कोरोना के मामले 42 हो गए हैं. इसको उत्तर प्रदेश में आपदा घोषित किया जा चुका है. इस महामारी से निपटने के लिए कई सांसद व विधायकों ने अपनी निधि देने का ऐलान किया लेकिन नियम कानून आड़े आ रहे थे. ऐसे में योगी सरकार ने विधायक निधि के इस्तेमाल के लिए निधि आवंटन नियमावली में संशोधन किया गया है.

अब अपनी निधि से 25 लाख से ज्यादा दे सकेंगे विधायक

योगी सरकार के नए प्रावधानों के मुताबिक अब कोई भी विधायक एक साथ 25 लाख रुपये अपनी विधायक निधि से दे सकता है. उल्लेखनीय है कि विधायक निधि से अभी तक इलाज के लिए किसी एक व्यक्ति को अधिकतम 5 लाख रुपए दिए जा सकते हैं.

साथ ही सरकारी अस्पतालों में कक्ष निर्माण व उपकरण आदि की खरीद के लिए 25 लाख रुपए दिए जा सकते हैं. यह धनराशि जिलाधिकारी की अध्यक्षता में बनी कमेटी व राज्यस्तरीय समिति से स्वीकृति मिलने के बाद जारी होती है.

विधायक निधि से व्यक्तिगत इलाज के लिए निधि देने की व्यवस्था सपा शासन में तत्कालीन मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने शुरू की थी.

कोरोना से युद्ध में हमारे हाथ मजबूत करेगा DRDO, विकसित किया स्वदेशी वेंटिलेटर

कई विधायक और सांसद कर रहे आर्थिक सहयोग

अखिलेश यादव, उर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा व सांसद जया बच्चन ने अपनी निधि से एक-एक करोड़ रुपए देने की घोषणा की है. इनके अलावा अंबेडकरनगर के बसपा सांसद रितेश पांडेय ने अपनी लोकसभा क्षेत्र के लोगों से बचाव व रोकथाम पर खर्च के लिए 50 लाख रुपए सांसद निधि से दिया है.

मिर्जापुर की सांसद अनुप्रिया पटेल ने अपनी सांसद निधि से 25 लाख रुपए दिए हैं. इसके अलावा भाजपा विधायक शशांक त्रिवेदी ने भी अपनी विधायक निधि से 10 लाख रुपये देने की घोषणा की.

कोरोना को देंगे मात इकोनॉमी के लौटेंगे अच्छे दिन!

यूपी में लगातार बढ़ रहा कोरोना का खतरा

उत्तर प्रदेश में कोरोना संक्रमितों की संख्या तेजी से बढ़ रही है. गुरुवार को चार नए केस सामने आए हैं. इनमें तीन नोएडा के और एक बागपत का रहने वाला है. अब यूपी में संक्रमितों की संख्या 42 हो गई है.

केजीएमयू के अनुसार, नोएडा की रहने वाली 21 साल की युवती में कोविड-19 का टेस्ट पॉजिटिव पाया गया है. उसके माता-पिता पहले से ही कोरोना संक्रमित हैं, जिनका इलाज चल रहा हैं.