Lockdown in UP: उत्तर प्रदेश के पांच शहरों में लॉकडाउन लगाने के निर्देश

इलाहाबाद उच्च न्यायालय (Allahabad High Court) ने उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के पांच शहरों में लॉकडाउन (Lockdown) लगाने के निर्देश दिए हैं.

Written by - Zee Hindustan Web Team | Last Updated : Apr 19, 2021, 07:26 PM IST
  • यूपी के 5 शहरों में लॉकडाउन लगाने के निर्देश
  • इलाहाबाद हाईकोर्ट ने सुनाया बड़ा फैसला
Lockdown in UP: उत्तर प्रदेश के पांच शहरों में लॉकडाउन लगाने के निर्देश

नई दिल्ली: उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस संक्रमण (Corona Virus in Uttar Pradesh) के बढ़ते मामलों को देखते हुए इलाहाबाद उच्च न्यायालय ने प्रदेश के सबसे अधिक प्रभावित पांच शहरों में लॉकडाउन लगाने के निर्देश दिए हैं.

उत्तर प्रदेश में लॉकडाउन

हाईकोर्ट ने प्रयागराज, लखनऊ, वाराणसी, कानपुर नगर और गोरखपुर में 26 अप्रैल, 2021 तक के लिए लॉकडाउन लगाने का प्रदेश सरकार को सोमवार को निर्देश दिया.

न्यायमूर्ति सिद्धार्थ वर्मा और न्यायमूर्ति अजित कुमार की पीठ ने प्रदेश में पृथक-वास केंद्रों की स्थिति को लेकर दायर एक जनहित याचिका पर सुनवाई करते हुए यह निर्देश पारित किया.

लॉकडाउन से टूटेगी चेन

पीठ ने कहा, 'हमारा विचार है कि मौजूदा समय के परिदृश्य को देखते हुए यदि लोगों को उनके घरों से बाहर जाने से एक सप्ताह के लिए रोक दिया जाता है तो कोरोना संक्रमण (Corona Infection) की श्रृंखला तोड़ी जा सकती है और इससे अग्रिम पंक्ति के स्वास्थ्य कर्मियों को भी कुछ राहत मिलेगी.'

कड़ाई से करें पालन

पीठ ने कहा, 'इस प्रकार से हम प्रयागराज, लखनऊ, वाराणसी, कानपुर नगर और गोरखपुर शहरों के संबंध में कुछ निर्देश पारित करते हैं और सरकार को तत्काल प्रभाव से इनका कड़ाई से अनुपालन करने का निर्देश देते हैं.'

इसे भी पढ़ें- Manmohan Singh कोरोना पॉजिटिव, AIIMS में भर्ती

अदालत ने कहा कि वित्तीय संस्थान और वित्तीय विभाग, चिकित्सा एवं स्वास्थ्य सेवाएं, औद्योगिक एवं वैज्ञानिक प्रतिष्ठानों, आवश्यक सेवाओं (नगर निकाय के कार्य और सार्वजनिक परिवहन शामिल हैं) को छोड़कर सभी प्रतिष्ठान चाहे वह सरकारी हों या निजी, 26 अप्रैल, 2021 तक बंद रहेंगे.

इसे भी पढ़ें- Lockdown In Delhi: कोरोना को देखते हुए दिल्ली में एक हफ्ते का लॉकडाउन

 Zee Hindustan News App: देश-दुनिया, बॉलीवुड, बिज़नेस, ज्योतिष, धर्म-कर्म, खेल और गैजेट्स की दुनिया की सभी खबरें अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें ज़ी हिंदुस्तान न्यूज़ ऐप

ज़्यादा कहानियां

ट्रेंडिंग न्यूज़