• पूरी दुनिया में कोरोना से 1140570 लोग प्रभावित, अब तक 61181 लोगों की मौत हुई,236528 लोग रोगमुक्त हुए
  • भारत में कोरोना मरीजों की कुल संख्या 3072, इसमें से 75 लोगों की मौत हुई, 212 इलाज के बाद ठीक हुए
  • महाराष्ट्र में कोरोना के सबसे ज्यादा 490 मरीज, 24 लोगों की मौत हुई, 42 लोग ठीक हुए
  • तमिलनाडु में कोरोना से 411 लोग प्रभावित, 2 की मौत, 6 लोग ठीक हुए
  • केरल में अब तक 295 लोगों को हुआ कोरोना, 2 की मौत हो चुकी है, 41 इलाज के बाद ठीक हुए
  • दिल्ली में कोरोना के 445 मरीज, 6 की मौत, 15 लोग ठीक हुए, मध्य प्रदेश में कोरोना से 155 लोग संक्रमित, 9 लोगों की मौत
  • यूपी में कोरोना के 174 मरीज, 19 लोग ठीक हुए, 2 लोगों की मौत
  • राजस्थान में कोरोना के 200 मरीज, 21 लोग इलाज के बाद ठीक हुए, अभी तक एक भी मौत नहीं
  • तेलंगाना में कोरोना के 158 मरीज, 7 लोगों की मौत, मात्र 1 ही इलाज के बाद ठीक हुआ
  • कर्नाटक में कोरोना के 128 मरीज और आंध्र प्रदेश में 161 लोगों में कोरोना वायरस का असर

पीएम मोदी से मिले महाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे, CAA पर जताई सहमति

दिल्ली में प्रधानमंत्री मोदी और उद्धव ठाकरे की पहली मुलाकात हुई.  महाराष्ट्र का मुख्यमंत्री बनने के बाद पीएम मोदी से यह उद्धव ठाकरे की पहली मुलाकात थी.

पीएम मोदी से मिले महाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे, CAA पर जताई सहमति

दिल्ली: प्रधानमंत्री आवास पर शुक्रवार को महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री और शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे की मुलाकात पीएम मोदी से हुई. उन्होंने कहा कि हमारी पीएम से सीएए, एनआरसी और एनपीआर को लेकर चर्चा हुई. सीएए को लेकर किसी को डरने की आवश्यकता नहीं है. नागरिकता कानून, पड़ोसी देश में जो अल्पसंख्यक हैं उन्हें नागरिकता देने का कानून है. ऐसे में हमारे यहां के लोगों को इससे डरने की जरूरत नहीं है.

जनगणना की प्रक्रिया है NPR- उद्धव

एनपीआर को लेकर मुख्यमंत्री ठाकरे ने कहा कि एनपीआर तो जनगणना की प्रक्रिया है. उसे सिर्फ आगे बढ़ाया है. इसके अलावा हमारी राज्य के विकास को लेकर प्रधानमंत्री से कई मुद्दों पर बातचीत हुई. एनपीआर में भी अगर हम देखेंगे कि कुछ चीजें गलत हैं तो आगे उस पर फैसला लिया जाएगा.

पूरे देश में नहीं होगी NRC- उद्धव ठाकरे

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने कहा कि पीएम मोदी ने हमें भरोसा दिया है कि फिलहाल पूरे देश में NRC लागू नहीं होगी. एनपीआर लागू करने पर कांग्रेस-एनसीपी के एतराज से जुड़े सवाल पर मुख्यमंत्री ने कहा कि हर दस साल में जनगणना होती है और एनपीआर इसका हिस्सा है. एनपीआर किसी को घर से बाहर निकालने के लिए नहीं है.

कांग्रेस-एनसीपी से अलग रुख अपनाया 

सीएए-एनआरसी-एनपीआर पर उनका यह रुख कांग्रेस-एनसीपी से मेल नहीं खा रहा तो क्या गठबंधन में समस्या नहीं आएगी? इस सवाल पर उद्धव ने कहा कि वे अपनी समझ के हिसाब से बात कह रहे कि हमारे किसी भी नागरिक का अधिकार नहीं जाएगा. सीएए पर मुसलमानों को डरने की जरूरत नहीं है और एनआरसी नहीं होने जा रहा है.

सोनिया और आडवाणी से भी मिले उद्धव

दिल्ली यात्रा के दौरान उद्धव ठाकरे ने कांग्रेस की अध्यक्ष सोनिया गांधी और भाजपा के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी से भी मुलाकात की. आदित्य ठाकरे और संजय राउत के साथ प्रेस क्रांफ्रेंस करते हुए उद्दव ठाकरे ने कहा कि हमनें यह समझ लिया है कि CAA, NRC और NPR की भूमिका क्या है. 

ये भी पढ़ें- वारिस पठान को फडणवीस की चेतावनी, 'हिंदुओं की सहिष्णुता को कमजोरी न समझें'