close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

कांग्रेस आलाकमान में रार, खड़गे ने खुर्शीद का भाजपा से जोड़ा ये 'रिश्ता'

कांग्रेस पार्टी में चल रही अंदरूनी कलह की तस्वीर अब बाहर भी आ रही है. पार्टी के दो बड़े नेताओं में उठापटक का दौर शुरू हो गया है. लोकसभा चुनाव में हार का घाव अभी तक भर नहीं पाया है. तभी तो, दिग्गजों की बौखलाहट अब पार्टी के लिए मुश्किलों की वजह बन रही है.

कांग्रेस आलाकमान में रार, खड़गे ने खुर्शीद का भाजपा से जोड़ा ये 'रिश्ता'

नई दिल्ली: लोकसभा चुनाव में करारी हार का मुंह देखने के बाद से ही कांग्रेस पार्टी की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही है. एक तो देश के सबसे बड़े चुनाव में औंधे मुंह गिरना और उपर से अब पार्टी के दो दिग्गज नेताओं में घमासान के हालात बन गए हैं. पार्टी के दिग्गज नेता एक-एक कर के अपनी बयानबाजियों से पार्टी की बखिया उधेड़ रहे हैं.

दरअसल, मंगलवार को कांग्रेस सरकार में विदेश मंत्री रहे सलमान खुर्शीद ने पार्टी के आलाकमान पर लोकसभा चुनाव में हार के कारणों की समीक्षा को ले कर बयान दिया था. जिसके बाद कांग्रेस के शीर्ष नेतृत्व में खलबली सी मच गई. इस दौरान खुर्शीद के बयान के साइड-इफेक्टस भी देखने को मिलने लगे हैं, जब कांग्रेस के दो नेताओं ने पलटवार करना शुरू कर दिया.

सिंधिया ने कांग्रेस को दी नसीहत

कांग्रेस नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया से जब सलमान खुर्शीद के बयान के विषय में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि वे उनके बयान पर कोई टिप्पणी नहीं करेंगे लेकिन फिर मध्यप्रदेश के मुखिया बनने की चाह रखने वाले सिंधिया ने ये माना कि कांग्रेस को आत्मचिंतन करने की जरूरत तो है. सिंधिया के इस बयान के कितने बड़े राजनीतिक मायने निकलते हैं, ये कांग्रेस भलिभांति समझती है. 

ऐसे कई मौके आए जब सिंधिया को बैकफुट पर ला कर कांग्रेस के शीर्ष नेतृत्व ने पार्टी के अन्य चेहरे को आगे किया, हालांकि उसका कोई फायदा कांग्रेस को नहीं मिला.

खुर्शीद पर खड़गे ने दिया बड़ा बयान

बयानबाजियों का दौर यही नहीं रूका. खुर्शीद पर पलटवार करते हुए कांग्रेस के रसूखदार नेता मल्लिकार्जुन खड़गे इससे भी कहीं ज्यादा आगे चले गए. खड़गे ने खुर्शीद को आड़े हाथें लेते हुए उऩ्हें भाजपा के इशारों पर बयानबाजियां करने वाला बता दिया. उन्होंने कहा कि खुर्शीद भाजपा के इशारों पर विवादास्पद बयान देने लगे हैं, जिनका कोई मतलब नहीं निकलता. कांग्रेस के दो दिग्गज नेताओं की नोंक-झोंक का हालिया चुनाव पर असर कितना पड़ेगा, इसकी भी समीक्षा पार्टी चुनाव परिणाम के बाद जरूर करना चाहेगी.

क्या होगा असर?

हिंदुस्तान के दो बड़े राज्यों में चुनावी सीजन का पारा हाई है, कुछ ही दिनों में हरियाणा और महाराष्ट्र में विधानसभा चुनाव के लिए मतदान होना है. ऐसे में कांग्रेस में मचे अंदरूनी घमासान का खामियाजा पार्टी को इन चुनाव में ङुगता पड़ सकता है