• कोरोना वायरस पर नवीनतम जानकारी: भारत में संक्रमण के सक्रिय मामले- 6,28,747 और अबतक कुल केस- 21,53,010: स्त्रोत PIB
  • कोरोना वायरस से ठीक / अस्पताल से छुट्टी / देशांतर मामले: 14,80,884 जबकि मरने वाले मरीजों की संख्या 43,379 पहुंची: स्त्रोत PIB
  • कोविड-19 की रिकवरी दर 68.32% से बेहतर होकर 68.78% पहुंची; पिछले 24 घंटे में 53,878 मरीज ठीक हुए
  • सरकार ने 500 करोड़ का आवंटन आत्म निर्भर अभियान के तहत मधुमक्खी पालन बढ़ाने के लिए किया
  • शहद का उत्पादन 242% बढ़ा और निर्यात 265% बढ़ा
  • 115 जिलों में एमएसएमई पदचिह्न बढ़ाने के लिए पहल
  • ₹50 करोड़ तक का सेक्टर निवेश और MSME की नई परिभाषा में 250 करोड़ तक का कारोबार
  • ₹50 करोड़ तक का सेक्टर निवेश और MSME की नई परिभाषा में 250 करोड़ तक का कारोबार
  • यह डिजिटल और आउटडोर इंस्टॉलेशन से सुसज्जित है, जो स्वछता पर जानकारी और शिक्षा प्रदान करता है
  • अगले पांच वर्षों में पीएलआई योजना के तहत ₹11.5 लाख करोड़ रुपये के मोबाइल फोन और इसके पुर्जे तैयार किए जाएंगे

महबूबा मुफ्ती की बेटी ने 5 अगस्त को बताया काला दिन, इसी दिन खत्म हुई थी 370

5 अगस्त 2019 को मोदी सरकार ने ऐतिहासिक कदम उठाते हुए भारत के संविधान की मूल आत्मा पर कलंक अनुच्छेद 370 को जम्मू कश्मीर से खत्म कर दिया था. 5 अगस्त को भाजपा बड़ा कार्यक्रम मनाएगी.  

महबूबा मुफ्ती की बेटी ने 5 अगस्त को बताया काला दिन, इसी दिन खत्म हुई थी 370

नई दिल्ली: जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 के खत्म होने का झटका अब तक महबूबा मुफ्ती और उनके परिवार के दिल में बस हुआ है. जम्मू कश्मीर 370 की बेड़ियों से आजाद को चुका है. जम्मू कश्मीर में 370 के नाम पर युवाओं को बहकाने की राजनीति करने वाले नेता अब राजनीतिक रूप से अस्तित्व हीन हो गए हैं. ये दंश अब तक महबूबा मुफ्ती और उनकी बेटी को परेशान कर रहा है.

ऐतिहासिक नहीं काला दिन है 5 अगस्त

जम्मू-कश्मीर की पूर्व सीएम महबूबा मुफ्ती की बेटी इल्तिजा मुफ्ती ने कहा है कि 5 अगस्त हमारे लिए काला दिन है. उन्होंने कहा है कि जम्मू-कश्मीर में खौफ का वातावरण बनाया जा रहा है. यहां किसी को बोलने की आजादी नहीं है. झूठ बोलकर लोगों को भ्रमित करने की महबूबा मुफ्ती की ये साजिश बहुत पुरानी है. जम्मू कश्मीर में हमेशा झूठे आरोप लगाकर कश्मीरियों को बरगलाने की साजिश पीडीपी और नेशनल कांफ्रेंस के नेता करते रहे हैं.

क्लिक करें- पाकिस्तान की गोलीबारी में एक भारतीय सैनिक को वीरगति, भारत ने दिया मुंहतोड़ जवाब

3 महीने और बढ़ी महबूबा मुफ्ती की नजरबंदी

आपको बता दें कि जन सुरक्षा कानून के तहत केंद्र सरकार ने पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती की नजरबंदी 3 महीने और बढ़ा दी है. उल्लेखनीय है कि उनकी हिरासत को केंद्र सरकार ने शुक्रवार को तीन महीने तक के लिए और बढ़ा दिया है. केंद्र ने उन्हें जन सुरक्षा कानून के तहत नजरबंद रखा है. साल 2019 में जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के समय से महबूबा मुफ्ती हिरासत में हैं.

सभी कश्मीरी जेल में हैं- इल्तिजा मुफ़्ती

महबूबा मुफ्ती की बेटी इल्तिजा मुफ़्ती ने कहा कि इल्तिजा मुफ्ती ने कहा कि जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के खिलाफ सामूहिक संघर्ष की जरूरत है. जम्मू कश्मीर में जब से 370 हटाई गई है तब से सेना वहाँ से आतंकवादियों का सफाया कर रही है. कई जिले आतंक मुक्त घोषित किये जा चुके हैं. इल्तिजा ने अपनी सियासत चमकाने के लिए केंद्र सरकार पर आरोप लगाया कि जम्मू-कश्मीर में अब कोई आजाद नहीं है यहां पर खौफ का वातावरण तैयार किया गया है. सभी लोग जेल में हैं.