निर्भया की मां के कलेजे को मिली ठंडक, कहा- 'मैं बहुत खुश हूं'

सुप्रीम कोर्ट ने निर्भया गैंग रेप के दोषी अक्षय कुमार सिंह के फांसी की सजा के खिलाफ दायर हुआ पुनर्विचार याचिका को खारिज कर दिया. जिसके बाद निर्भया की मां ने सुप्रीम कोर्ट के इस फैसले पर खुशी जाहिर करते हुए ये कहा है कि 'मैं बहुत खुश हूं'

निर्भया की मां के कलेजे को मिली ठंडक, कहा- 'मैं बहुत खुश हूं'

नई दिल्ली: निर्भया गैंगरेप केस में दोषियों को अब फांसी पर लटकने से कोई नहीं बचा सकता है. क्योंकि देश की सर्वोच्च अदालत सुप्रीम कोर्ट ने अब चौथे दोषी अक्षय सिंह की पुनर्विचार याचिका भी खारिज कर दी है. सुप्रीम कोर्ट ने पहले ही चारों आरोपियों को फांसी की सजा बरकरार रखी थी.

निर्भया की मां ने कहा, 'मैं बहुत खुश हूं'

एक दोषी ने फांसी की सजा से बचने के लिए सुप्रीम कोर्ट में पुनर्विचार याचिका दाखिल की थी. जिसका नाम अक्षय कुमार सिंह है. हालांकि सुप्रीम कोर्ट ने अक्षय की पुनर्विचार याचिका खारिज कर दी है. जिसके बाद निर्भया की मां ने इस फैसले का स्वागत किया है. इंसाफ की आस में 17 साल से इंतजार कर रही मां ने सुप्रीम कोर्ट के इस फैसले पर खुशी जाहिर करते हुए कहा है कि 'मैं बहुत खुश हूं'

इस केस में देश की सर्वोच्च अदालत ने सभी आरोपियों को दोषी करार देते हुए फांसी की सजा सुनाई है.

ऐसे बढ़ती रही तारीख

10 सितंबर 2013 को सबसे पहले फास्ट ट्रैक कोर्ट ने चारों आरोपी मुकेश, विनय, पवन और अक्षय को दोषी करार दिया था और मौत की सजा सुनाई थी. जिसके बाद मामला दिल्ली हाईकोर्ट के पास गया. 13 मार्च, 2014 को दिल्ली हाईकोर्ट ने चारों दोषियों की मौत की सजा को बरकरार रखा.

इसे भी पढ़ें: निर्भया के दोषी अक्षय सिंह की पुनर्विचार याचिका खारिज

सुप्रीम कोर्ट ने पहले भी खारिज की है याचिका

साल 2017 के मई माह की 5 तारीख को सुप्रीम कोर्ट ने चारों दोषियों की मौत की सजा बरकरार रखी थी. जिसके बाद दोषी विनय, पवन और मुकेश ने पुनर्विचार याचिका दाखिल की थी. लेकिन उस वक्त सुप्रीम कोर्ट ने उन तीनों की याचिका को खारिज कर दिया था. अब सुप्रीम कोर्ट ने अक्षय कुमार सिंह की पुनर्विचार याचिका भी खारिज कर दी है.

इसे भी पढ़ें: जानिये! निर्भया गैंगरेप केस के दोषी ने फांसी से बचने के लिये कौन सी चाल चली?