26/11: मुंबई हमला ऐसा घाव जो कभी भरेगा नहीं: देवेंद्र फडणवीस

भारतीय जनता पार्टी के नेता और राज्य के गृह मंत्री फडणवीस ने कहा कि हमले को लेकर खुफिया जानकारी थी लेकिन तत्कालीन सरकार उसे रोकने के लिए कार्रवाई नहीं कर सकी.

Edited by - Zee Hindustan Web Team | Last Updated : Nov 25, 2022, 09:16 PM IST
  • एक कार्यक्रम में बोल रहे थे डिप्टी सीएम.
  • सीसीटीवी निगरानी बढ़ाने पर जोर.

ट्रेंडिंग तस्वीरें

26/11: मुंबई हमला ऐसा घाव जो कभी भरेगा नहीं:  देवेंद्र फडणवीस

मुंबई. महाराष्ट्र के उपमुख्यमंत्री देवेंद्र फड़णवीस ने शुक्रवार को कहा कि 26/11 का आतंकी हमला 'एक ऐसा घाव है जो कभी नहीं भरेगा' और उनकी सरकार यह सुनिश्चित करने के लिए प्रतिबद्ध है कि ऐसी घटना दोबारा न हो. भारतीय जनता पार्टी के नेता और राज्य के गृह मंत्री फडणवीस ने कहा कि हमले को लेकर खुफिया जानकारी थी लेकिन तत्कालीन सरकार उसे रोकने के लिए कार्रवाई नहीं कर सकी.

फडणवीस ने 26/11 मुंबई आतंकी हमले की 14वीं बरसी की पूर्व संध्या पर राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ द्वारा प्रकाशित पत्रिका पांचजन्य द्वारा आयोजित एक कार्यक्रम में ये बातें कहीं. उन्होंने दावा किया कि खुफिया जानकारी थी, लेकिन उस समय की सरकार उस पर कार्रवाई नहीं कर सकी और कोई समन्वय नहीं था.

सीसीटीवी निगरानी बढ़ाने पर जोर
उपमुख्यमंत्री ने कहा, 'हमले के बाद, सीसीटीवी नेटवर्क के माध्यम से निगरानी बढ़ाने की आवश्यकता पर बल दिया गया. 2009 के बाद से निविदा जारी की गई लेकिन बाद में रद्द कर दी गई. परियोजना कभी शुरू नहीं हुई . 2014 में जब मैंने मुख्यमंत्री के रूप में पदभार संभाला, तभी इस परियोजना को गति मिली और इसका पहला चरण एक साल में पूरा हो गया.'

हमलों में 166 लोगों की मौत हो गई थी
उन्होंने कहा कि राज्य सरकार चेहरा पहचानने वाले कैमरे भी लगाएगी, जिनमें कृत्रिम मेधा (आर्टिफिशियल) इंटेलिजेंस का इस्तेमाल किया जाता है. उन्होंने कहा कि समुद्री सुरक्षा भी कड़ी कर दी गई है. उल्लेखनीय है कि 26 नवंबर 2008 को मुंबई में हुए आतंकी हमलों में 166 लोगों की मौत हो गई थी. 

यह भी पढ़िएः ब्रिटेनः पीएम बनने के बाद ऋषि सुनक की लोकप्रियता में इजाफा, लोगों में बढ़ा भरोसा

Zee Hindustan News App: देश-दुनिया, बॉलीवुड, बिज़नेस, ज्योतिष, धर्म-कर्म, खेल और गैजेट्स की दुनिया की सभी खबरें अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें ज़ी हिंदुस्तान न्यूज़ ऐप.  

ज़्यादा कहानियां

ट्रेंडिंग न्यूज़