हिंद महासागर में 'ड्रैगन' की 'घुसपैठ'! हिन्दुस्तान ने लगाई दहाड़

हिंद महासागर में चीन अपना दखल और दबदबा बढ़ा रहा है. ये खुलासा नौसेना चीफ एडमिरल करमबीर सिंह ने किया है. दिल्ली में चल रहे रायसीना डॉयलॉग के दौरान ने उन्होंने ये बात कही.

हिंद महासागर में 'ड्रैगन' की 'घुसपैठ'! हिन्दुस्तान ने लगाई दहाड़

नई दिल्ली: चीन अपनी नई चालबाजी अपना रहा है और वो हिंद महासागर में अपना दखल बढ़ाने में जुट गया है. इस बात का खुलासा देश के नौसेना प्रमुख एडमिरल करमबीर सिंह ने किया है. साथ ही उन्होंने चीन को चेतावनी देते हुए ये आगाह किया है कि अगर जरूरत पड़ी तो कठोर कार्रवाई की जाएगी.

समंदर में 'ड्रैगन से होशियार हुआ हिंदुस्तान

नेवी चीफ एडमिरल करमबीर सिंह ने कहा कि चीन की नौसेना तेजी से हिंद महासागर में अपनी मौजूदगी बढ़ा रही है. रायसीना डायलॉग के दौरान उन्होंने कहा कि ऐसी घटनाएं हुई हैं जब चीन के जहाज़ भारत के आर्थिक क्षेत्र में घुस आए.

साथ ही नौसेना चीफ ने ये भी कहा कि 'ऐसे कई मौके आए जब चीन के जहाज हमारे एक्सक्लूसिव आर्थिक क्षेत्र में घुस आए. हमें उन्हें कहना पड़ा कि आप हमारी सीमा के अंदर आ गए हैं.

भारतीय नौसना की चीन को चेतावनी

नौसेना चीफ का ये बयान अंडमान सागर में भारत के एक्सक्लूसिव आर्थिक क्षेत्र में घुस आए चीनी नौसैनिक जहाज वाली घटना पर थी. एडमिरल सिंह ने बताया कि कि ऐसी एक घटना के दौरान भारत की नौसना ने चीन को चेतावनी दी. इसके बाद चीन के जहाज वापस चले गए.

अगर नहीं माना चीन तो होगी कार्रवाई

नौसेना चीफ एडमिरल करमबीर सिंह ने बताया है कि ''हम नजर रख रहे हैं. हमने अपने जहाज तैनात कर रखे हैं ताकि हमें जानकारी मिल सके कि किस तरह की गतिविधियां हैं. सिर्फ चीन ही नहीं दूसरे देशों के जहाजों पर भी नजर है. अगर हमारे राष्ट्रीय हितों या संप्रभुता पर असर हुआ तो हम कार्रवाई करेंगे.

इसे भी पढ़ें: ''चीन को भारत के साथ चलना ही पड़ेगा, उसके पास कोई और विकल्प नहीं''

नौसेना चीफ के मुताबिक पहले हिंद महासागर में चीन की मौजूदगी पता नहीं चलती थी. लेकिन अब किसी भी वक्त चीनी नौसेना के 7 से 8 युद्ध पोत दिख जाते हैं. हालांकि नौसेना भी हर वक्त चीन की गतिविधियों पर लगातार पैनी नजर रख रही है.

इसे भी पढ़ें: ना'पाक' ISI का '26 जनवरी' प्लान! 4 आतंकी गिरफ्तार, 2 की तलाश

इसे भी पढ़ें: 72वें सेना दिवस के अवसर पर देश के शूरवीर को सलाम