भीषण सर्दी से कांपा पूरा उत्तर भारत, अभी राहत की उम्मीद नहीं

पूरा उत्तर भारत इन दिनों सर्दी की चपेट में है. कई प्रदेशों में स्कूलों को बंद कर दिया गया है.   

 भीषण सर्दी से कांपा पूरा उत्तर भारत, अभी राहत की उम्मीद नहीं

दिल्ली: पहाड़ों पर बर्फबारी हो रही से मैदानी इलाकों में कोहरे के साथ कंपकंपा देने वाली ठंड पड़ रही है। हरियाणा, मध्यप्रदेश, झारखंड, बंगाल और छत्तीसगढ़ में भी शीतलहर जारी है. मौसम विभाग के मुताबिक अभी तीन दिन और ऐसा ही मौसम बना रहेगा. राजधानी दिल्ली समेत कई इलाकों में शुक्रवार सुबह घना कोहरा होगा.

हिमाचल और उत्तराखंड में हो रही है बर्फबारी

हिमाचल और उत्तराखंड में अधिक ऊंचाई वाले स्थानों में रुक-रुक कर बर्फबारी हुई, जबकि मैदानी इलाकों में बादल छाए रहे. भारी बर्फबारी के कारण एक सप्ताह से रोहतांग दर्रे में लोगों की आवाजाही नहीं हो सकी है. उत्तराखंड के हरिद्वार व नैनीताल के स्कूलों में शुक्रवार को अवकाश घोषित कर दिया गया है. जम्मू कश्मीर और लद्दाख में न्यूनतम तापमान में बढ़ोतरी होने से लोगों को कड़ाके की ठंड से थोड़ी राहत मिली.

रबी फसलों के लिए फायदेमंद ठंड

केंद्रीय मृदा लवणता अनुसंधान संस्थान के मुताबिक कोहरा पड़ने और तापमान में गिरावट होने से रबी फसलों की अच्छी पैदावार की उम्मीद है. इनमें गेहूं, सरसों, चना, मटर, गन्ने आदि की फसलों को व्यापक स्तर पर फायदा पहुंचने की उम्मीद काफी बढ़ गई है.

पनबिजली इकाइयों का उत्पादन प्रभावित

पहाड़ी क्षेत्रों में हो रही बर्फबारी के कारण नदियों के जलस्तर में भारी गिरावट आई है. इसकी वजह से पन बिजली इकाइयों में उत्पादन घट गया है. हरियाणा के यमुनानगर में पश्चिमी यमुना नहर पर स्थापित बिजली इकाइयों पर बिजली उत्पादन घटकर करीब पांच लाख यूनिट रह गया है, जबकि क्षमता 10 से 12 लाख है.