रेलवे करेगा CAA प्रदर्शनकारियों से 88 करोड़ की वसूली

योगी-फॉर्मूले को अब भारतीय रेलवे भी इस्तेमाल करेगा और गिरफ्तार उपद्रवी तत्वों से क्षतिग्रस्त सार्वजनिक सम्पत्ति की भरपाई होगी.   

रेलवे करेगा CAA प्रदर्शनकारियों से 88 करोड़ की वसूली

नई दिल्ली. ये एक अच्छे सिलसिले की शुरुआत  का संकेत है. और इस समझदार सफलता का श्रेय निस्संदेह उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को जाता है. उन्होंने ही इस फॉर्मूले को ईजाद किया था जिसका इस्तेमाल कर वे भरपाई कर रहे हैं प्रदेश में CAA के उपद्रवी तत्वों द्वारा किये गए नुकसान की और अब उनका ही अनुसरण भारतीय रेलवे विभाग कर रहा है .

गिरफ्तार 21 लोगों से होगी 88 करोड़ की भरपाई 

CAA के नाम पर राष्ट्रविरोधी उपद्रवियों द्वारा की गई क्षति की पूर्ती अब हो सकेगी. भारतीय रेलवे को इन दंगाइयों ने जो भी नुकसान पहुंचाया है अब इन्हीं की सम्पत्ति कुर्क करके ये भरपाई होगी. इस तरह से ये एक सन्देश भी है इन दंगाइयों के साथ-साथ उन सभी राष्ट्रविरोधी तत्वों को भी है जो आम आदमी को मुहरा बना कर देश को नुकसान पहुंचाने का गंदा खेल खेलते हैं. 

बंगाल, बिहार और असम में किया था उत्पात 

जिन उपद्रवी तत्वों ने CAA की आड़ में राष्ट्रीय सम्पत्ति को नुकसान पहुँचाया था उनकी पहचान की जा रही है. इस सिलसिले में 21 लोगों की गिरफ्तारी भी हो गई है. इन लोगों ने असम, बिहार और बंगाल में प्रदर्शन की आड़ में तोड़-फोड़ को अंजाम दिया था. रेलवे पुलिस फ़ोर्स के एक अधिकारी के माध्यम से इस संबंध में जानकारी सामने आई है. 

इन उपद्रवी तत्वों ने बसें और ट्रेनें जलाईं 

सीएए के विरोध प्रदर्शन के दौरान देश के कई हिस्सों में तोड़-फोड़ की घटनाएं देखी गईं. लेकिन योगी फॉर्मूले के आते ही इन घटनाओं में तुरंत कमी आई. आरपीएफ के अधिकार के अनुसार लगभग 88 करोड़ रुपये की संपत्ति के नुकसान की भरपाई रेलवे इन उपद्रवी तत्वों से करने जा रहा है. इन लोगों ने  प्रदर्शनकारी बन कर बसों में आग लगाई, पटरियों पर अवरोधक डाले और ट्रेन के डब्बे भी जलाए.

ये भी पढ़ें. ''चीन को भारत के साथ चलना ही पडेगा, उसके पास कोई और विकल्प नहीं''