close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

पीएमसी बैंक की एक और खाताधारक की मौत, जमा थे सवा दो करोड़ रुपये

पंजाब एंड महाराष्ट्र को-ऑपरेटिव बैंक का घोटाला जानलेवा होता जा रहा है. मंगलवार बैंक की खाताधारक एक बुजुर्ग महिला की मौत हो गई. उनके करीब सवा दो करोड़ रुपये बैंक में जमा थे, इसके कारण वह दबाव में थीं. परिवार ने तनाव की वजह से हार्ट अटैक होने की जानकारी दी है. 

पीएमसी बैंक की एक और खाताधारक की मौत, जमा थे सवा दो करोड़ रुपये

मुंबईः पीएमसी बैंक घोटाले की वजह से लोगों की जान पर बनती जा रही है. मंगलवार को सोलापुर की रहने वाली एक वृद्धा की मौत हो गई. परिवार ने मीडिया को बताया कि 73 साल की भारती सदारंगानी बैंक में फंसे हुई रकम को लेकर काफी तनाव में थीं. उनका कहना है कि बैंक में उनकी बेटी के करीब 2.25 करोड़ रुपये जमा हैं, जिनका लेनदेन नहीं हो पा रहा है. इसके पहले 5 अन्य खाताधारकों की मौत की खबर आ चुकी है. पंजाब एंड महाराष्ट्र को-ऑपरेटिव बैंक का घोटाला दिनोंदिन लोगों पर भारी पड़ता जा रहा है. रिपोर्ट के मुताबिक 73 साल की भारती सदारंगनी की मौत हार्ट अटैक से हुई. परिवार का कहना है कि पीएमसी बैंक घोटाला सामने आने के बाद भारती काफी तनाव में थी. बैंक घोटाला सामने आने के बाद रिजर्व बैंक की पाबंदियों की वजह से महिला की बेटी पैसे निकाल नहीं पा रही थीं, इससे उनकी मां परेशान रहती थीं. 

घटना से पहले थीं स्वस्थ
मीडिया से बातचीत में मृतका के दामाद ने बताया कि पिछले दो महीने से वह लगातार फोन कर खाते की जानकारी ले रही थीं. हम उन्हें सारे पैसे सुरक्षित होने का दिलासा देते थे और कहते थे कि जल्द ही सारा पैसा निकाल लिया जाएगा. इसके बावजूद उनकी चिंता नहीं खत्म हो रही थीं. मेरी पत्नी की उन्हें समझाने की सारी कोशिशें बेकार रहीं. इसी दौरान उन्हें दिल का दौरा पड़ा और वह गिर पड़ी, इसके बाद उनकी मौत हो गई. रिपोर्ट के मुताबिक इस महिला का परिवार विदेशों से सामान आयात कर भारत में बिजनेस करता था. उन्होंने बड़ी मेहनत से पैसे बचाए थे और बैंक में जमा किया था. रिपोर्ट के मुताबिक महिला मुंबई के मुलुंड में रहती थी, और बैंक उनके घर के ठीक सामने था. महिला और परिवार के दूसरे सदस्यों के लिए बैंक जाना आसान था, लेकिन अचानक घोटाले की बात सामने आने से चीजें बिगड़ने लगीं. इस घटना के बाद महिला का पूरा परिवार सदमे में हैं.

सीएम ने दिलाया था पैसे सुरक्षित होने का भरोसा
पीएमसी बैंक मामले में कुछ दिन पहले सीएम देवेंद्र फड़नवीस सभी खाताधारकों को उनका धन सुरक्षित होने का दिलासा दिया था. मुख्यमंत्री ने कहा था कि खाताधारकों का जमा धन पूरी तरह से सुरक्षित है. हालांकि सरकार इस बैंक का रिवाइवल नहीं कर सकती है. यह काम केवल आरबीआई कर सकता है. सरकार केवल इसके विलय में सहयोग कर सकती है. उनका कहना था कि इसके लिए उन्होंने खुद प्रधानमंत्री के साथ-साथ वित्तमंत्री से बात कर ली है. विधानसभा चुनाव के बाद इस बारे में फैसला लेने की बात कही थी.