निर्भया के गुनहगारों में से एक को फांसी देगा जल्लाद बाकी को स्टाफ

निर्भया के गुनहगारों की फांसी की तारीख टल गई है लेकिन उनकी फांसी नहीं टली है. फांसी की तैयारियां पूरी हो गई हैं और इन गुनहगारों में से एक को जल्लाद के हांथ से फांसी मिलेगी तो बाकी तीन को जेल स्टाफ के हांथों.   

निर्भया के गुनहगारों में से एक को फांसी देगा जल्लाद बाकी को स्टाफ

नई दिल्ली. 2012 का निर्भया काण्ड अभी भी अपने अंजाम का इंज़ार कर रहा है. निर्भया के गुनहगारों को फांसी की सज़ा तो सुनाई जा चुकी है पर उनकी फांसी की तारीख अभी भी तय नहीं हो पाई है. तारीख भले ही अभी तय होना बाकी है लेकिन उनकी फांसी के लिए तैयारियां पूरी हो चुकी हैं. 

एक की फांसी जल्लाद के हांथों 

निर्भया के गुनहगारों की फांसी को लेकर जो नई जानकारी सामने आई है उसके मुताबिक़ अब चारों गुनहगार जल्लाद के हांथों मौत के घाट नहीं उतारे जाएंगे बल्कि इनमें से एक को जल्लाद फांसी पर चढ़ाएगा. बाकी तीन को जेल स्टाफ फांसी देगा. फांसी को लेकर ये नया आदेश अदालत से आया है जिसका पालन जेल स्टाफ को करना है.

टल गई है निर्भया के गुनहगारोंं की फांसी 

आज पटियाला हाउस कोर्ट में निर्भया के एक गुनहगार मुकेश सिंह की याचिका पर सुनवाई हुई. सुनवाई बाद अदालत ने चारों दोषियों की फांसी पर स्टे लगा दिया है. दूसरे शब्दों में इसे ऐसे कहा जा सकता है कि अब निर्भया के गुनहगार 22 जनवरी को फांसी के फंदे पर नहीं लटकाये जाएंगे. अदालत ने जेल अधिकारियों को आदेश दिया है कि वे अदालत को रिपोर्ट दें कि वे 22 जनवरी को होने वाली फांसी रोक रहे हैं. 

फांसी की तारीख थी आने वाली 22 जनवरी 

पटियाला कोर्ट ने अपने पिछले फैसले के दौरान निर्भया के चारों गुनहगारों को 22 जनवरी को फांसी के फंदे पर लटकाने का आदेश दिया था. इसके लिए सुबह 7 बजे का समय तय किया था. किन्तु अब फांसी अदालत के अगले आदेश तक के लिए मुल्तवी कर दी गई है.

हो गई हैं फांसी की तैयारियां पूरी 

जेल अधिकारियों ने 22 जनवरी की फांसी की तारीख को ध्यान में रख कर अपनी तैयारियां पूरी कर ली थीं. फांसी के लिए बुलाये गए जल्लाद को फांसी देने के लिए 15 हजार रुपये का पारिश्रमिक दिया जाएगा. फांसी के लिए होने वाली रेत की बोरी पर फांसी के रिहर्सल के दौर भी पूरे हो चुके हैं.

ये भी पढ़ें. कभी पत्रकार थे अब हैं दिल्ली के छोटे राजा मनीष सिसोदिया