close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

महीने में तीसरी बार दिखे पंजाब में पाकिस्तानी ड्रोन

सीमा पार करके पाकिस्तान से आए ड्रोन विमान पंजाब में लगातार दिखाई दे रहे हैं. पिछले एक महीने में तीसरी बार दुश्मन देश के आया हुआ ड्रोन पंजाब सीमा में दिखाई दिया. जिसकी वजह से सुरक्षा को लेकर चिंता बढ़ गई है.   

महीने में तीसरी बार दिखे पंजाब में पाकिस्तानी ड्रोन
पंजाब में फिर दिखा ड्रोन

फिरोजपुर: पंजाब में संदिग्ध पाकिस्तानी ड्रोन दिखाई देने की घटनाएं बढ़ गई हैं. पंजाब में भारत पाकिस्तान जीरो लाइन के पास में फ़िरोज़पुर के हुसैनीवाला बोर्डर के नजदीक रात में पाकिस्तान से आए दो ड्रोन उड़ते हुए दिखाई दिए. यह दोनों सीमा पर बसे गांव हज़ारा सिंह वाला के ऊपर उड़ते हुए दिखाई दिए. गांव वालों ने जानकारी दी कि यह ड्रोन उन्हें गांव के उपर तक दिखाई दिया. जो कि बाद में फिरोजपुर की तरफ़ जाता हुआ आंखों से ओझल हो गया.

पाकिस्तान से लगातार दिखाए दे रहे यह ड्रोन सुरक्षा को लेकर चिंता पैदा कर रहे हैं. गांव के लोग भी इस तरह की गतिविधियों से सहमे हुए हैं. इससे पहले पाकिस्तानी ड्रोन को सोमवार रात में उसी क्षेत्र में तीन बार देखा गया था। लगभग एक महीने में भारत-पाकिस्तान सीमा पर सीमापार से भारत में हथियार लाने वाले दो ड्रोन्स के पकड़े भी गए हैं. इस मामले में पंजाब पुलिस की जांच चल रही है. इस इलाके में मंगलवार को भी ड्रोन देखा गया था. 

पंजाब पुलिस के एक प्रवक्ता ने 27 सितंबर को जानकारी दी थी कि पुलिस की टीमें पाकिस्तान से भेजे इन ड्रोन विमानों का भारतीय लिंक तलाश करने में जुटी हुई है. सीमा पार से आ रहे इन ड्रोनों को लेकर बीएसएफ और सेना व पुलिस द्वारा सर्च अभियान पिछले दो दिनों से जारी है यह अलग बात है अभी सुरक्षा बलों को कोई सफलता नही मिल रही है.

इससे पहले 8 अक्टूबर को भी हुसैनीवाला में बीएसएफ ने ड्रोन उड़ता देखा था. भारत पाक सीमा की चैक पोस्ट एच के टॉवर के पास पाकिस्तान की ओर 5 बार ड्रोन उड़ता देखा गया. ये ड्रोन एक बार भारतीय सीमा में भी प्रवेश हुआ. पाकिस्तान की तरफ से उड़े इस ड्रोन को पहली बार रात 10 बजे से 10:40 तक देखा गया. इसके बाद रात 12 बजकर 25 मिनट पर यह ड्रोन दोबारा दिखाई दिया.

अभी तक दो ड्रोन जब्त किए गए हैं, जिनमें एक पिछले महीने और दूसरा तीन दिन पहले तरन तारन जिले के धाबल नगर में जली हुई स्थिति में मिला था। 

जम्मू कश्मीर सीमा पर सख्ती के कारण पाकिस्तान उस रास्ते से भारत में गड़बड़ी पैदा करने वाले हथियार नहीं भेज पा रहा है. इसलिए आतंकवाद भड़काने के लिए पाकिस्तानियों ने ड्रोन के जरिए हथियार भेजने का नया तरीका निकाला है.