हिरासत में लिए गए लोगों को छुड़ाने आधी रात को पुलिस मुख्यालय पर जुटे दंगाई

नई दिल्लीः राजधानी में दिनभर चले प्रदर्शनों के दौर के बाद शुक्रवार-शनिवार मध्यरात्रि को प्रदर्शनकारी पुलिस मुख्यालय पर जुट गए. वे यहां हिरासत में लिए गए लोगों को छुड़ाने की मांग कर रहे थे. राजधानी दिल्ली में नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ हिंसक प्रदर्शन के बीच पुलिस ने करीब 40 लोगों को शुक्रवार को हिरासत में लिया. इसके बाद उनकी रिहाई की मांग करते हुए आईटीओ स्थित पुलिस मुख्यालय के बाहर 200-300 लोग जमा हो गए.

हिरासत में लिए गए लोगों को छुड़ाने आधी रात को पुलिस मुख्यालय पर जुटे दंगाई

नई दिल्लीः राजधानी में दिनभर चले प्रदर्शनों के दौर के बाद शुक्रवार-शनिवार मध्यरात्रि को प्रदर्शनकारी पुलिस मुख्यालय पर जुट गए. वे यहां हिरासत में लिए गए लोगों को छुड़ाने की मांग कर रहे थे. राजधानी दिल्ली में नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ हिंसक प्रदर्शन के बीच पुलिस ने करीब 40 लोगों को शुक्रवार को हिरासत में लिया. इसके बाद उनकी रिहाई की मांग करते हुए आईटीओ स्थित पुलिस मुख्यालय के बाहर 200-300 लोग जमा हो गए.

कार में लगाई आग
पुरानी दिल्ली के दरियागंज में शुक्रवार शाम प्रदर्शन ने उस वक्त उग्र रूप धारण कर लिया जब पुलिस ने उन्हें जंतर-मंतर जाने से रोका. पुलिस जब उन्हें पीछे कर रही थी इसी दौरान कुछ शरारती तत्वों ने वहां मौजूद निजी कार में आग लगा दी.

वहीं, दिल्ली गेट इलाके में प्रदर्शनकारियों ने पुलिसकर्मियों पर पथराव भी किए जिसमें कुछ पुलिसकर्मी घायल हो गए हैं. पुलिस ने कार्रवाई करते हुए करीब 40 लोगों को हिरासत में लिया. राजधानी दिल्ली के इंडिया गेट, दिल्ली गेट, दरियागंज, जामा मस्जिद इलाके में आज व्यापक प्रदर्शन हुआ. वहीं, कुछ लोग नए नागरिकता कानून के समर्थन में भी केंद्रीय दिल्ली के सेंट्रल पार्क में जुटे.

जानिए किसके आदेश से बंद की जाती है इंटरनेट सेवाएं

मेट्रो स्टेशन किए बंद
पिछले दिनों हुए हिंसक प्रदर्शनों को देखते हुए एहतियातन कई मेट्रो स्टेशनों को शुक्रवार को भी बंद कर दिया गया जिससे आम लोगों को दिक्कतों का सामना करना पड़ा.  प्रदर्शन के उग्र रुख को ध्यान में रखते हुए कर दिल्ली में 15 मेट्रो स्टेशनों में आवाजाही बंद कर दी गई थी. इन मेट्रो स्टेशनों में चावड़ी बाजार, लाल किला, जामा मस्जिद, दिल्ली गेट, जाफराबाद, मौजपुर-बाबरपुर, जामिया मिल्लिया इस्लामिया, दिलशाद गार्डन, शिव विहार, जौहरी एंक्लेव, राजीव चौक, प्रगति मैदान, खान मार्केट, जनपथ और मंडी हाउस मेट्रो स्टेशन शामिल रहे.

दिल्ली में शुक्रवार को कई जगह प्रदर्शन हुए. लेकिन सीलमपुर के आगे सीमापुरी में हालत बेकाबू सी नज़र आई. उपद्रवियों की भीड़ ने सीमापुरी इलाके हिंसक प्रदर्शन किया. लोगों द्वारा की गई पत्थरबाजी में पुलिसकर्मियों को चोट पहुंची और डीसीपी राजबीर सिंह घायल हो गए. तीन जगहों पर बड़े प्रदर्शन देखे गए. इन जगहों में जामा मस्जिद, सीलमपुर और जामिया नगर शामिल है. हैरानी और राहत की बात ये रही कि इन सभी स्थानों पर प्रदर्शन शांतिपूर्ण ढंग से चलता हुआ देखा गया. शुक्रवार को आधे दिन के बाद से प्रदर्शनों के कारण चावड़ी बाजार, लाल किला, जामा मस्जिद, दिल्ली गेट, जाफराबाद, मौजपुर-बाबरपुर, जामिया मिल्लिया इस्लामिया मेट्रो स्टेशन - ये सात मेट्रो स्टेशन और भी बंद कर दिए गए थे.

दिल्ली में प्रदर्शनकारियों की हिंसा से पुलिस अधिकारी घायल