देश में बाढ़ से पीएम मोदी चिंतित

कई राज्यों में बाढ़ की स्थिति पर पीएम मोदी बेहद दुखी हैं. उन्होंने बाढ़ प्रभावित 6 राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक की है.   

देश में बाढ़ से पीएम मोदी चिंतित

नई दिल्ली: देश में बाढ़ के हालातों से देश के 6 राज्यों की जनता बेहाल है. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी(PM Modi) से उनका दुख देखा नहीं जा रहा. उन्होंने बाढ़ प्रभावित 6 राज्यों के मुख्यमंत्रियों से स्थानीय हालातों और उनके राज्यों की स्थिति पर विचार विमर्श किया. 

वीडियो कांफ्रेन्सिंग से जुड़े 6 राज्य
प्रधानमंत्री कार्यालय द्वारा जारी की गई सूचना के मुताबिक असम, बिहार, उत्तर प्रदेश, महाराष्ट्र, कर्नाटक और केरल के मुख्यमंत्रियों से प्रधानमंत्री ने वीडियो कांफ्रेन्सिंग के जरिए चर्चा की. पीएम ने बाढ़ सूचना और पुर्वानुमान प्रणाली को आधुनिक तकनीक से लैस करने पर जोर दिया और मुख्यमंत्रियों से उनके संबंधित राज्यों में बाढ़ से निपटने के लिए उठाए जा रहे कदमों की जानकारी हासिल की. 
पीएम मोदी ने राज्यों को कहा कि वह हर साल आने वाली बाढ़(Flood in India) की समस्या के स्थायी समाधान के लिए केन्द्र और राज्य सरकार की एजेन्सियों के बीच बेहतर समन्वय स्थापित करें. 
बिहार में 74 लाख लोग प्रभावित 
बाढ़ से सबसे ज्यादा प्रभावित राज्य बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार(Nitish Kumar) ने बताया कि रविवार को बागमती नदी में अचानक जलस्तर बढ़ जाने से दरभंगा शहर के पश्चिमी हिस्से के मुहल्लों में पानी घुस गया. बागमती नदी का पानी राष्ट्रीय राजमार्ग 57 की तरफ से घुस रहा है. जिसकी वजह से दरभंगा के कई इलाकों में एक से डेढ़ फुट पानी जमा हो गया है. नीतीश ने राज्य सरकार द्वारा राहत और बचाव कार्यों की जानकारी पीएम को प्रदान की. उन्होंने बताया कि बाढ़ से विस्थापित लोगों के लिए 1267 सामुदायिक रसोई चलाई जा रही है. बिहार में बाढ़(Bihar Flood) से 74 लाख लोग प्रभावित हुए हैं. जिसमें से 23 लोगों की मौत हो गई है.  


उत्तर प्रदेश के कई जिलों का संपर्क कटा
बाढ़ से यूपी(Uttar Pradesh) के 20 जिलों के 800 गांव प्रभावित हुए हैं. जिसमें से 428 गांव का संपर्क कट गया है. शारदा नदी लखीमपुर खीरी में खतरे के निशान से उपर बह रहा है. 
यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ(CM Yogi) ने बाढ़ की शुरआत से पहले कई इलाकों में तटबंधों की मरम्मत का काम शुरु कर दिया था. जिसकी वजह से बाढ़ का असर इस बार थोड़ा कम हुआ है. 
उधर केरल में लगातार बारिश के कारण कई जगहों पर भूस्खलन की खबरें आई हैं. वहां इडुक्की में 49 लोगों की मौत हो गई है. अभी भी कुछ शव निकाले नहीं जा सके हैं.

 

ये भी पढ़ें-भारत को बाढ़ में डुबाने की साजिश कर रहा है नेपाल

ये भी पढ़ें--बाढ़ में बह गया 'सुशासन'? बदलते रहे साल, बिहार का वही हाल!