• कोरोना वायरस पर नवीनतम जानकारी: भारत में संक्रमण के सक्रिय मामले- 2,69,789 और अबतक कुल केस- 7,67,296: स्त्रोत PIB
  • कोरोना वायरस से ठीक / अस्पताल से छुट्टी / देशांतर मामले: 4,76,378 जबकि मरने वाले मरीजों की संख्या 21,129 पहुंची: स्त्रोत PIB
  • कोविड-19 की रिकवरी दर 61.53% से बेहतर होकर 62.08% पहुंची; पिछले 24 घंटे में 19,547 मरीज ठीक हुए
  • कोविड-19 की राष्ट्रीय रिकवरी दर 62.08% पर पहुंची; सक्रिय मामलों की तुलना में ठीक होने वाले लगभग 2 लाख ज्यादा
  • देश में प्रयोगशालाओं की कुल संख्या 1,119 हुई. पिछले 24 घंटे में 2.6 लाख से ज्यादा नमूनों की जांच की गई
  • भारतीय नौसेना का ऑपरेशन समुद्र सेतु पूरा हुआ, इसके तहत 3,992 भारतीय नागरिकों को सफलतापूर्वक स्वदेश लाया गया
  • 30 जून तक 62,870 करोड़ रुपये की क्रेडिट सीमा के साथ 70.32 लाख किसान क्रेडिट कार्ड स्वीकृत किए गए हैं
  • उत्तर प्रदेश में वर्ष 2020-21 में 1.02 करोड़ घरों में नल कनेक्शन देने की योजना है
  • आपकी सुरक्षा आपके हाथों में है, बिना मास्क/फेस कवर पहने घर से बाहर न निकलें
  • कोविड-19 से संबंधित मदद, सलाह और उपायों के लिए 24x7 टोल-फ्री राष्ट्रीय हेल्पलाइन नंबर 1075 पर कॉल करें

आतंक की राह पर निकले दो युवकों को पुलिस ने बचाया

एकबार फिर से घाटी के दो युवकों को आतंकी बनने की राह पर जाने से पहले रोक लिया गया. दक्षिणी कश्मीर के दो युवाओं को नियंत्रण रेखा लांघने से पहले ही सेना के जवानों ने उन्हें गिरफ्तार कर, उनके परिवार को सौंप दिया. 

आतंक की राह पर निकले दो युवकों को पुलिस ने बचाया

श्रीनगर: पुलिस द्वारा दक्षिणी कश्मीर के दो युवाओं को आतंकवाद में शामिल होने से पूर्व गिरफ्तार कर इनके मुस्तकबिल को बिगड़ने से बचाया गया. पर सीमापार करने से पहले ही उन्हें रोक लिया गया और उनके परिजनों के हवाले कर दिया गया. पुलिस की इस कारकर्दगी को परिजनों सहित सभी लोगों ने सराहा है. पुलिस अधिकारीयों ने परिजनों से अपील की है कि अपने बच्चों पर सही तरह से ध्यान दें ताकि वह ताकि वह गलत रास्तों पर जाने से बच सकें.

लखनऊ में एक और हिंदूवादी नेता की हत्या, यूपी में सनसनी, लिंक पर क्लिक कर जानें खबर.

पिता की डांट के बाद आतंकी बनने घर से निकला था युवक
उत्तरी कश्मीर के बारामुला जिले के एसएसपी अब्दुल कयूम ने शनिवार को पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि पुलिस और सेना द्वारा दक्षिणी कश्मीर के दो युवाओं को उस समय इंटर्सेप्ट किया गया, जब वो पाकिस्तान जाने के मंसूबे से अपने घर से निकले थे. उन्होंने कहा कि इन दोनों की शिनाख्त शोपियां के नदीम अहमद और नयीना बटपुरा पुलवामा के शाकिर के तौर पर हुई है और दोनों 11वीं के छात्र हैं. कयूम ने बताया कि इनसे पूछताछ के दौरान पता चला कि शाकिर इसलिए घर से निकला था क्यूंकि उसके पिता ने उसे डांटा था जबकि दूसरा इसलिए प्रभावित हुआ क्यूंकि उसका एक पड़ोसी भी आतंकी बना था.

ओवैसी की गलत बयानी, गोली चलाने वाले के शब्दों को बताया भाजपा का नारा

पुलिस ने किया सराहनीय कार्य
मिली जानकारी के अनुसार दोनों घर से निकले और पुलवामा से उन्होंने एक दुकानदार से जम्मू कश्मीर का नक्शा खरीदा जिसपर उन्होंने देखा कि बारामुला के साथ ही मुजफ्फरबाद का इलाका है. इसके बाद यह इस इरादे के साथ निकले कि वह पाकिस्तान जाएंगे और वहां जाकर आतंकी ट्रेनिंग हासिल करेंगे. दोनों दक्षिणी कश्मीर से ट्रेन से निकले और बारामुला स्टेशन पर पहुंच और वहां पहुंचने पर इनके सामने एक पहाड़ी थी जिसे देख इन्हें लगा कि इसके पार पाकिस्तान है. दोनों ने स्थानीय लोगों से पूछताछ कि और उस पार जाने की तैयारी कर ली. जिसे दौरान पुलिस को उनकी जानकारी मिली और उसके बाद दोनों का पता कर उन तक पहुंचे. यह ऐसी चौथी घटना है जब वहां के बच्चे बिना सोचे समझे खुद ही आतंकी बनने के लिए घरों से रवाना हुए हैं. लेकिन सरहद पार जाना इतना आसान नहीं, भारी संख्या में फौज तैनात रहती है.