close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

केरल भाजपा अध्यक्ष को मिजोरम की कमान! पीएस श्रीधरन पिल्लई राज्यपाल नियुक्त

केरल से भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष पीएस श्रीधरन पिल्लई को मिजोरम का राज्यपाल नियुक्त किया गया है. क्या है पिल्लई का राजनीतिक इतिहास, आइए जानते हैं-

केरल भाजपा अध्यक्ष को मिजोरम की कमान! पीएस श्रीधरन पिल्लई राज्यपाल नियुक्त

नई दिल्ली: केरल के भाजपा प्रदेश अध्यक्ष पीएस श्रीधरन पिल्लई को मिजोरम का राज्यपाल नियुक्त किया गया है. केंद्र सरकार की अनुशंसा पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने ये नियुक्ति की है. पीएस श्रीधरन पिल्लई को मिजोरम का गवर्नर बनाया गया है.

कौन हैं पिल्लई?

पिल्लई का जन्म केरल के अलाप्पुझा जिले के वेनमनी पंचायत में हुआ. उन्होंने एन एस एस कॉलेज, पंडालम से कला में स्नातक किया. बाद में उन्होंने गवर्नमेंट लॉ कॉलेज, कालीकट से कानून में डिग्री हासिल की. साल 1978 में पाठ्यक्रम पूरा किया. लॉ कॉलेज में अपने कार्यकाल के दौरान वे कॉलेज पत्रिका के संपादक थे, जिसने आपातकाल और इंदिरा के खिलाफ विरोध का किया था. पिल्लई ने अपने राजनीतिक जीवन की शुरुआत अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (ABVP) के माध्यम से की. वो साल 1978 में ABVP के राज्य सचिव भी थे. उन्होंने भाजपा में कई पदों पर काम किया, कोझिकोड जिला अध्यक्ष, राज्य सचिव, महासचिव, और सीके पद्मबन कार्यकाल के बाद राज्य स्तर के अध्यक्ष बने. 

कब-कब बने भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष

इसके बाद वो 2003 से 2006 तक केरल में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के प्रदेश अध्यक्ष चुने गए. 2018 में उन्हें फिर से भाजपा प्रदेश अध्यक्ष के रूप में नियुक्त किया गया. 2004 में भाजपा के पीएस श्रीधरन पिल्लई के नेतृत्व में एनडीए गठबंधन ने केरल और लक्षद्वीप से संयुक्त रूप से इतिहास में पहली बार 2 लोकसभा सीटे हासिल की थी. अब 25 अक्टूबर 2019 को उन्हें मिजोरम का राज्यपाल नियुक्त किया गया है.