close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

पाकिस्तान, हो जाओ सावधान! अब अगर बॉर्डर पर दिखेगा ड्रोन तो हो जाएगा तबाह

आतंक की खेती करने वाला पाकिस्तान इस वहम में जी रहा है कि वो अपने जासूसों को हिंदुस्तान की सरहद पार कराकर अपनी नापाक कोशिश को अंजाम दे सकता है. लेकिन शायद इमरान खान और आतंकियों को पालने वाली आईएसआई इस गलतफहमी का शिकार हैं कि वो भारत की सुरक्षा में सेंध लगा लेगा और भारत देखता रह जाएगा.

पाकिस्तान, हो जाओ सावधान! अब अगर बॉर्डर पर दिखेगा ड्रोन तो हो जाएगा तबाह

नई दिल्ली: जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटने के बाद से पाकिस्तान तिलमिलाया और बौखलाया हुआ है. एक तरफ इमरान खान सरकार इस मुद्दे को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर तूल देने की कोशिशें कर रही है तो वहीं, पाकिस्तान के आतंकी संगठन लगातार भारत में घुसपैठ की साजिशें रच रहे हैं. 

इस बीच भारत सरकार ने सुरक्षाबलों को खुली छूट दे दी है कि अगर दुश्मन का कोई भी ड्रोन भारतीय सीमा में उड़ता नजर आए तो उसे पलक झपकते ही मार गिराओ. दरअसल, सरकार ने अंतर्राष्ट्रीय सीमा पर तैनात सुरक्षाबलों को भारतीय सीमा में 1000 फीट और उससे नीचे उड़ने वाले ड्रोन को मार गिराने का आदेश जारी किया है.

सूत्रों की मानें तो एक हजार फीट की अधिक ऊंचाई पर उड़ रहे ड्रोन्स को एजेंसियों से सुरक्षा क्लीयरेंस लेना होगा. इतना ही नहीं पाकिस्तान के आतंकी संगठन भारत में हथियारों और ड्रग्स तस्करी के लिए ड्रोन का सहारा भी ले रहे हैं. पिछले कुछ दिनों से पंजाब में ड्रोन से हथियार गिराने की खबरें आ रही हैं.

आपको बता दें, 7 अक्टूबर को पंजाब के फिरोजपुर के नजदीक हुसैनावाला बॉर्डर पर चेक पोस्ट के पास गांववालों और बीएसएफ के जवानों ने रात में पाकिस्तान की तरफ से 5 बार ड्रोन को उड़ते हुए भारत की सीमा में घुसते देखा था. इसके बाद इलाके में सर्च ऑपरेशन शुरू कर दिया गया और पंजाब पुलिस को भी घटना की जानकारी दी गई. जांच के बाद पता चला कि जब्त हुए दोनों ड्रोन्स पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी ISI से जुड़े अलग-अलग आतंकवादी संगठनों से हो सकते हैं. जिसके बाद अब सरकार किसी तरह की रियायत बरतने के मूड में नहीं है. इसी को देखते हुए पाकिस्तान की ड्रोन वाली साजिश के खिलाफ भारत ने सख्त कार्रवाई करने का फैसला किया है.

इतना ही नहीं पंजाब सीमा पर पाकिस्तान से आने वाले ड्रोन्स से निपटने के लिए बीएसएफ एन्टी ड्रोन्स सिस्टम खरीदेगा.

हालांकि, पाकिस्तान की ये हिमाकत कोई पहली बार नहीं है. इससे पहले 13 अगस्त को पंजाब के अटारी के पास पाकिस्तान सीमा से सटे गांव में एक ड्रोन बरामद हुआ था.

इसके अलावा राजस्थान के श्रीगंगानगर में जब इसी साल 9 मार्च को 18 घंटे में पाकिस्तान ने 3 ड्रोन भेजे थे और भारत ने उसके तीनों ड्रोन्स को मार गिराया था. एयर डिफेंस टीम ने मिसाइल दागी और ड्रोन तबाह हो गया.

श्रीगंगानगर से पहले पाकिस्तान ने बीकानेर और गुजरात के कच्छ में भी ड्रोन भेजे थे. 4 मार्च को बीकानेर के सीमावर्ती क्षेत्र में सुखोई-30 लड़ाकू विमानों ने पाकिस्तानी ड्रोन की धज्जियां उड़ा दी थीं.

उससे पहले 26 फरवरी यानी बालाकोट एयर स्ट्राइक वाले दिन भी गुजरात के कच्छ में पाक को उसकी जुर्रत महंगी पड़ी थी.

पाकिस्तान की नापाक हरकत देखिए, कि इसी महीने तीन दिनों में 9 बार पाकिस्तान से भारत की सरहद में ड्रोन ने घुसपैठ की कोशिश की. जिसका सबूत पूरी दुनिया के सामने है. लेकिन भारतीय फौज ने हर ड्रोन को कबाड़ बनाकर पाकिस्तानी मंसूबों को कुचलने का जो काम किया. उसे देखकर आतंक के आका जल भुने रहे होंगे. पाकिस्तान कई बार भारत पर परमाणु हमले की भी धमकी दे चुका है. लेकिन, वो ये भूल जाता है कि उसका कोई भी प्रोपगैंडा कामयाब नहीं होने वाला है.