कैबिनेट विस्तार के बाद एक्शन में सीएम शिवराज, नये मंत्रियों को दिए नये लक्ष्य

मध्यप्रदेश में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की सरकार का आज विस्तार हो गया है. इसमें कई नए मंत्रियों को मौका दिया गया है. शपथ ग्रहण के ठीक बाद मुख्यमंत्री एक्शन में आ गए हैं.

कैबिनेट विस्तार के बाद एक्शन में सीएम शिवराज, नये मंत्रियों को दिए नये लक्ष्य

भोपाल: कांग्रेस से सत्ता छीनने वाली  भाजपा की सरकार का आज मंत्रिमंडल विस्तार हुआ है. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह की उपस्थिति में कार्यवाहक राज्यपाल आनंदी बेन पटेल ने मंत्रियों को पद एवं गोपनीयता की शपथ दिलायी. सिंधिया गुट के आठ विधायकों को भी शिवराज मंत्रिमंडल में जगह मिली है.

मुख्यमंत्री शिवराज ने नई कैबिनेट के साथ की बैठक

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कैबिनेट विस्तार के बाद आज अपने नए मंत्रिमंडल सहयोगियों के साथ बैठक की. वक्रतुंड महाकाय... नामक पूरा श्लोक पढ़ने के साथ बैठक की शुरुआत की. बैठक में सीएम शिवराज ने अपने सभी नए सहयोगियों को बधाई दी. साथ ही उन्होंने कैबिनेट को एक परिवार की तरह बताया. उन्होंने कहा कि हम नई ऊर्जा और नए उत्साह के साथ मध्यप्रदेश के विकास में जुटेंगे और पिछले डेढ़ साल की अव्यवस्था को दूर करेंगे.

'न मैं चैन से बैठूंगा और न आपको बैठने दूंगा'

ये भी पढ़ें- लद्दाख में भूकंप के झटके, इन राज्यों में भी डोली धरती

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कैबिनेट की बैठक में मंत्रियों से यह भी कहा कि अब सभी लोग काम में जुट जाएं. उन्होंने कहा, 'न मैं चैन से बैठूंगा और न आप लोगो को बैठने दूंगा'. मुख्यमंत्री ने अपने मंत्रिमंडल सहयोगियों को इस बैठक के बाद काम में जुट जाने को कहा, साथ ही उन्हें प्राथमिकता के स्तर पर करने को कुछ काम भी गिनाए.

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मध्यप्रदेश को कोरोना संकट से निकालने के लिए और विकास के पथ पर तेज गति से आगे ले जाने के लिए कैबिनेट मंत्रियों की दस टास्क दिए. इनमे जनहित और विकास को सबसे अधिक वरीयता दी गयी है.