Delhi के प्राइवेट अस्पतालों में Corona मरीजों के लिए बेड्स की किल्लत

देश की राजधानी दिल्ली में कोरोना मरीजों को खासा परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है. इसमें सबसे बुरा हाल निजी अस्पतालों का है, जहां कई बड़े अस्पतालों में कोरोना पेशेंट्स के लिए बेड्स ही मौजूद नहीं हैं.

Written by - Abhishek Dubey | Last Updated : Apr 12, 2021, 07:39 PM IST
  • दिल्ली में कई प्राइवेट अस्पतालों की हालत खराब
  • अस्पतालों में कोरोना मरीजों के लिए बेड्स जीरो
Delhi के प्राइवेट अस्पतालों में Corona मरीजों के लिए बेड्स की किल्लत

नई दिल्ली: दिल्ली में कोरोना के मामलों में लगातार बढ़ोतरी हो रही है. बीते 24 घंटे में 10 हजार से ज्यादा कोरोना मरीजों की संख्या आने लगी है. ऐसे में दिल्ली की हालत काफी चिंताजनक हो गई है. ऐसे में कोरोना मरीजों के लिए प्राइवेट अस्पतालों में बेड्स की काफी दिक्कत हो रही है. एक दर्जन से ज्यादा प्राइवेट अस्पतालों में बेड्स जीरो हो गए हैं.

दिल्ली के अस्पतालों में नहीं हैं बेड्स

दिल्ली सरकार (Delhi Government) के 'Corona App' के अनुसार 12 अप्रैल को दोपहर 1 बजे तक 17 बड़े प्राइवेट अस्पतालों में कोरोना मरीजों के लिए बेड्स जीरो हैं. कौन से हैं वो 17 अस्पताल जिनमें बेड्स की संख्या जीरो है.

1. ओखला के होली फैमली अस्पताल में सभी 164 बेड फुल

2. शालीमार के मैक्स अस्पताल में सभी 158 बेड पर भर्ती हैं मरीज

3. पंजाबी बाग के महाराज अग्रसेन अस्पताल के सभी 150 बेड्स फुल

4. रोहिणी के जयपुर गोल्डन अस्पताल में के सभी 124 बेड्स फुल

5. द्वारका के वेन्कटेशवर हॉस्पिटल में सभी 98 बेड्स फुल

6. रोहिणी के सरोज अस्पताल में सभी 84 बेड्स फुल

7. राजेन्द्र नगर बीएल कपूर हॉस्पिटल में सभी 81 बेड्स फुल

8. लाजपत नगर के VIMHANS हॉस्पिटल के सभी 66 बेड्स फुल

9. द्वारका के आयुष्मान हॉस्पिटल में 65 बेड्स फुल

10. कीर्ति नगर के कालरा हॉस्पिटल के सभी 65 बेड्स फुल

11. कृष्णा नगर के गोयल हॉस्पिटल के सभी 60 बेड्स फुल 

12. निर्माण विहार के मलिक रेडिक्स हॉस्पिटल में सभी 46 बेड्स फुल

13. ईस्ट ऑफ कैलाश के नेशनल हर्ट इंस्टिट्यूट के सभी 46 बेड फुल

14. पंचकुइयां रोड के हार्ट एंड लंग्स हॉस्पिटल के सभी 43 बेड्स फुल

15. द्वारका के महाराजा अग्रसेन हॉस्पिटल के सभी 32 बेड्स फुल

16. तिलक नगर के रिवाइव हॉस्पिटल के सभी 28 बेड्स फुल

17. द्वारका के भगत चंद्र हॉस्पिटल के सभी 23 बेड्स फुल

आपको बता दें कि ये सिर्फ प्राइवेट अस्पतालों की लिस्ट हैं, जहां पर बेड्स की कमी है. लेकिन केंद्र और दिल्ली के सरकारी अस्पतालों को जोड़कर अगर आंकड़ा निकालें, तो करीब 50 हॉस्पिटल ऐसे हैं जहां पर बेड्स की भारी कमी का काफी सामना करना पड़ रहा है.

इसे भी पढ़ें- क्या है कोरोना की L1, L2, L3 कैटेगरी?

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने कोरोना को लेकर बैठक की है, जिसमें उन्होंने प्राइवेट अस्पतालों को बेड्स बढ़ाने के निर्देश दिए हैं और फिर से कुछ अस्पतालों को पूरी तरीके से कोविड-19 हॉस्पिटल बनाने के लिए कहा है और लोगों से अनुरोध किया है कि बेवजह घर से बाहर ना निकले और जरूरत पड़े तभी अस्पताल जाएं.

इसे भी पढ़ें- Expert से जानिए Lockdown से जुड़े सभी सवालों के जवाब

Zee Hindustan News App: देश-दुनिया, बॉलीवुड, बिज़नेस, ज्योतिष, धर्म-कर्म, खेल और गैजेट्स की दुनिया की सभी खबरें अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें ज़ी हिंदुस्तान न्यूज़ ऐप.

ज़्यादा कहानियां

ट्रेंडिंग न्यूज़