• देश में कोविड-19 से सक्रिय मरीजों की संख्या 1,10,960 पहुंची, जबकि संक्रमण के कुल मामले 2,26,770: स्त्रोत-PIB
  • कोरोना से ठीक होने वाले लोगों की संख्या- 1,09,462 जबकि अबतक 6,348 मरीजों की मौत: स्त्रोत-PIB
  • अंतर्राष्ट्रीय टीकाकरण गठबंधन के लिए भारत ने 15 मिलियन डॉलर देने का वचन दिया
  • केंद्र ने 4 जून, 2020 को राज्यों / संघ राज्य क्षेत्रों को जीएसटी मुआवजे के तौर पर 36,400 करोड़ रुपया जारी किया
  • कोविड-19 की रोकथाम हेतु MoHFW ने निवारक उपायों पर एसओपी जारी किया
  • ट्यूलिप– सभी यूएलबीऔर स्मार्ट शहरों में नए स्नातकों को अवसर प्रदान करने के लिए शहरी अध्ययन प्रशिक्षण कार्यक्रम की शुरूआत
  • स्वास्थ्य मंत्री ने दिल्ली को आक्रामक निगरानी, ​​संपर्क का पता लगाने और कड़े नियंत्रण कार्यों के साथ जांच बढ़ाने की आवश्यकता जोर
  • आइए कोविड-19 के खिलाफ भारत की लड़ाई को मजबूत करें और सरकार द्वारा जारी किए गए सभी दिशानिर्देशों का पालन करें
  • मनरेगा के तहत मजदूरी और सामग्री दोनों के ही लंबित बकाये को समाप्त करने के लिए राज्यों को 28,729 करोड़ रुपये जारी किए गए
  • पीएमजीकेपी के तहत (02.06.2020 तक): चालू वित्तीय वर्ष में 48.13 करोड़ मानव कार्य-दिवस के रोजगार का सृजन

देश के कई हिस्सों में 'बर्फ की बारिश'! ठंड की वापसी के संकेत

देश के अलग-अलग हिस्सों में बर्फबारी का नजारा देखने को मिल रहा है. सिक्किम, हिमाचल, उत्तराखंड और पश्चिम बंगाल के सिलीगुड़ी में बर्फबारी देखने को मिली. बर्फबारी को देखते हुए ये माना जा रहा है कि ये ठंड के दोबारा वापसी के संकेत हैं.

देश के कई हिस्सों में 'बर्फ की बारिश'! ठंड की वापसी के संकेत

नई दिल्ली: भारत में हर उस जगह जहां बर्फबारी देखने को मिल रही है, वो इलाके सैलानियों से गुलजार हैं. आलम ये है कि इन इलाकों में नजरें जहां तक देख पाएंगी सिर्फ बर्फ और बर्फ से पटे रास्ते, घर, सड़कें, पेड़ गाड़ियां हर तरफ बस बर्फ देखने को मिल रही हैं. इसमें सबसे ज्यादा तादाद उत्तर भारत की है, जहां बर्फबारी का नजारा देखा जा रहा है,

सिक्किम में भारी बर्फबारी

सिक्किम के लाचेन और लाम्बुंग में भी भारी बर्फबारी हो रही है. बर्फबारी के चलते सिक्किम सरकार की तरफ से फिलहाल गाड़ियों का परमिट बंद कर दिया गया है. यहां करीब 12 इंच बर्फ की चादर जम गई. दार्जीलिंग पहुंचने वाले पर्यटकों के लिए मौसम विभाग से अच्छी खबर आई है. यहां आने वाले वक्त में बर्फबारी होती रहेगी.

उत्तर पूर्व भारत में जहां भारी बर्फबारी के बावजूद पर्यटकों की संख्या में कोई खास इजाफा नहीं देखने को मिल रहा वहीं दूसरी तरफ उत्तर भारत और खसकर के शिमला-मनाली में बर्फबारी से पर्यटकों में खासा जोश देखने को मिला,

शिमला में 'बर्फ की बारिश' 

बर्फबारी की यूं तो इस पूरे सीजन काफी तस्वीरें देखने को मिली हैं, लेकिन ऐसी बर्फबारी कम ही देखने को मिली. शिमला में तो ऐसा लग रहा है जैसे बर्फ की बारिश हो रही हो, लोग बर्फबारी का अलग-अलग अंदाज में लुत्फ उठा रहे हैं. कोई घोड़े में बैठकर तो कहीं ऐसे झूमकर शिमला की मॉल रोड़ पर्यटकों से पूरी तरह भरी हुई है और नए साल के दस्तक देते ही यहां मौसम और ज्यादा खुशनुमा हो गया है.

उत्तराखंड में स्नोफॉले से बढ़ गई ठंड

उत्तराखंड के नैनीताल में स्नोफॉल के बाद ठंड बढ़ गई है. मौसम विभाग की माने तो अब न्यूनतम तापमान में तोजी से गिरावट आएगी. लंबे समय से सैलानी बर्फबारी का इंतजार कर रहे थे. नए साल पर में कारोरियों को बर्फबारी की उम्मीद थी. जो कि नए साल में तीन दिन के बाद ही पूरी हो पाई.

मसूरी की बर्फबारी ने लोगों की ख्वाहिश कर दी पूरी

पहाड़ों की रानी मसूरी में नए साल के सीजन की पहली बर्फबारी ने मानो हर पर्यटक की दिल की ख्वहिश पूरी कर दी हो. पर्यटकों के साथ-साथ स्थानीय लोग भी इस बर्फबारी से काफी खुश हैं क्योंकि अब सैलानियों की संख्या यहां लगातार बढ़ेगी. क्योंकि यहां आने वाले तो कह रहे हैं कि उन्हें बहुत मजा आ रहा है. सीजन की पहली बर्फबारी ने मसूरी, धनोल्टी और जौनपुर को भी सैलानियों से गुलजार कर दिया है  

जम्मू-कश्मीर के राजौरी में जोरदार बर्फबारी

उत्तर भारत के अधितकर इलाकों में इस वक्त जोरदार बर्फबारी देखने को मिली है और जम्मू-कश्मीर के राजौरी के ऊंचाई वाले इलाकों में शनिवार को भी बर्फबारी जारी रही. यहां बीते कुछ दिनों से रूक-रूक कर लगातार बर्फबारी हो रही है. सड़कें पूरी तरह से बर्फ ढकी हुई हैं पहाड़ों के साथ पेड़ भी पूरी तरह बर्फ से लदे हुए हैं. पहाड़ी इलाकों में बर्फबारी के कारण बिजली गुल होने से लोगों को कई प्रकार की परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है. बर्फबारी की वजह से बुफ्लियाज रोड को बंद कर दिया गया है.

इसे भी पढ़ें: प्लास्टिक से नहीं किया परहेज़, तो जिंदगी ऐसे ही हो जाएगी बोतल में कैद