सुप्रीम कोर्ट की केंद्र को फटकार, दिल्ली को उपलब्ध करायें 700MT ऑक्सीजन

 देश की सर्वोच्च अदालत ने केंद्र सरकार को अहम निर्देश देकर केजरीवाल सरकार को बड़ी राहत दी.

Written by - Zee Hindustan Web Team | Last Updated : May 5, 2021, 03:45 PM IST
  • केंद्र 500 मीट्रिक टन देने पर तैयार
  • हाई कोर्ट के आदेश को सुप्रीम कोर्ट में दी थी चुनौती
सुप्रीम कोर्ट की केंद्र को फटकार, दिल्ली को उपलब्ध करायें 700MT ऑक्सीजन

नई दिल्ली: देश की राजधानी दिल्ली के अस्पतालों में ऑक्सीजन की कमी से त्राहिमाम मचा हुआ है. हर रोज सैकड़ों की संख्या में मरीज दम तोड़ रहे हैं.

दिल्ली की केजरीवाल सरकार असहाय और बेबस नजर आ रही है. इस बीच देश की सर्वोच्च अदालत ने केंद्र सरकार को अहम निर्देश देकर केजरीवाल सरकार को बड़ी राहत दी है. ऑक्सीजन के मामले पर अदालत में कल फिर सुनवाई होगी. 

700 मीट्रिक टन ऑक्सीजन दिल्ली को मिले- सुप्रीम कोर्ट

कोरोना संकट पर शीर्ष अदालत में सुनवाई हुई और केंद्र सरकार को सुप्रीम कोर्ट ने बड़ा आदेश दिया. सर्वोच्च न्यायालय ने कहा कि ये एक राष्ट्रीय आपदा है, ऑक्सीजन की कमी की वजह से लोगों की मौत हुई है. केंद्र अपनी ओर से कोशिश कर रहा है, लेकिन अभी शॉर्टेज है ऐसे में अपना प्लान हमें बताईये. 

अदालत ने कहा कि राजधानी में जितनी भीषण महामारी है इसे देखते हुए दिल्ली को हर रोज 700 मीट्रिक टन ऑक्सीजन मिलनी चाहिए. केंद्र सरकार तत्काल इसका प्रबंध करे.

केंद्र 500 मीट्रिक टन देने पर तैयार

केंद्र की ओर से कहा गया कि दिल्ली 500 MT ऑक्सीजन से काम चला सकता है, लेकिन जस्टिस चंद्रचूड़ ने इससे इनकार किया और कहा कि हमने 700 MT का आदेश दिया है, हम उससे पीछे नहीं हट सकते हैं. अदालत ने साफ कहा कि दिल्ली को 700 MT ऑक्सीजन मिलना चाहिए, उससे कम हमें मंजूर नहीं होगा. 

ये भी पढ़ें- सीएम ममता ने पीएम मोदी को बधाई के लिए कहा धन्यवाद, कोरोना से लड़ने के लिए मांगी मदद

हाई कोर्ट के आदेश को सुप्रीम कोर्ट में दी थी चुनौती

उल्लेखनीय है कि बीते कई दिनों से दिल्ली हाई कोर्ट केंद्र सरकार को आदेश दे रहा था कि दिल्ली में ऑक्सीजन की कमी को दूर किया जाए और पर्याप्त मात्रा में ऑक्सीजन उपलब्ध कराया जाए. हाई कोर्ट के इसी आदेश को केंद्र सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी.

सुप्रीम कोर्ट में भी केंद्र को राहत नहीं मिली और उसने हर रोज 700 मीट्रिक टन ऑक्सीजन उपलब्ध कराने का आदेश दिया.

Zee Hindustan News App: देश-दुनिया, बॉलीवुड, बिज़नेस, ज्योतिष, धर्म-कर्म, खेल और गैजेट्स की दुनिया की सभी खबरें अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें ज़ी हिंदुस्तान न्यूज़ ऐप.

ज़्यादा कहानियां

ट्रेंडिंग न्यूज़