close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

आतंकी दाऊद के साथी और पूर्व मंत्री प्रफुल्ल पटेल में कनेक्शन का संदेह, ईडी कर रही है जांच

यूपीए सरकार में शामिल राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के बड़े नेता प्रफुल्ल पटेल और कुख्यात आतंकवादी और माफिया दाऊद इब्राहिम के सहयोगी इकबाल मिर्ची के बीच संबंधों के सबूत मिले हैं. प्रवर्तन निदेशालय इसकी जांच में जुटा हुआ है. एनसीपी में अध्यक्ष शरद पवार के बाद प्रफुल्ल पटेल को बेहद कद्दावर नेता माना जाता है. वह कांग्रेस शासनकाल में नागरिक उड्डयन जैसा अहम मंत्रालय संभाल चुके हैं. 

आतंकी दाऊद के साथी और पूर्व मंत्री प्रफुल्ल पटेल में कनेक्शन का संदेह, ईडी कर रही है जांच
क्या है प्रफुल्ल पटेल का 'डी' कंपनी कनेक्शन

नई दिल्ली: केन्द्रीय जांच एजेन्सी प्रवर्तन निदेशालय दाऊद इब्राहिम के अहम सहयोगी इकबाल मिर्ची और एनसीपी के वरिष्ठ नेता प्रफुल्ल पटेल के बीच संबंधों की परतें खंगाल रही है. ऐसा आरोप है कि पटेल के परिवार की कंपनी मिलेनियम डेवलपर्स को इकबाल मिर्ची के परिवार ने मुंबई की बेहद अहम लोकेशन पर एक प्लॉट दिया. जिसपर इस कंपनी ने कंस्ट्रक्शन कराया.

मिर्ची और पटेल परिवार के सहयोग से खड़ी हुई अरबों की संपत्ति
मिर्ची परिवार ने पटेल परिवार की कंपनी को जो प्लॉट दिया वह मुंबई के वर्ली में नेहरु प्लैनेटोरियम के सामने की बेहद अहम जगह पर मौजूद है. जिसपर पटेल परिवार की कंपनी मिलेनियम डेवलपर्स ने सीजे टावर नाम की 15 मंजिला इमारत बनाई. इसमें रेसिडेंशियल और कमर्शियल दोनों तरह की संपत्तियां मौजूद हैं. जिसके बाद इस संपत्ति का बाजार भाव अरबों रुपए पहुंच गया.    

नेता और अपराधी के परिवार के बीच लीगल एग्रीमेन्ट भी हुआ
प्रवर्तन निदेशालय इस मामले में इकबाल मिर्ची के परिवार और पटेल परिवार की कंपनी मिलेनियम डेवलपर्स के बीच हुए लीगल एग्रीमेन्ट की जांच कर रहा है. इस मामले में ईडी अधिकारियों ने पिछले दो हफ्तों में 11 जगहों पर छापेमारी की. जिसमें कई अहम दस्तावेज बरामद किए गए. इन दस्तावेजों में डिजिटल सबूत, ईमेल सहित कई तरह के दस्तावेज शामिल हैं. इस मामले में अब तक 18 लोगों के बयान दर्ज किए गए हैं. 

मिर्ची की पत्नी के नाम था प्लॉट
पटेल परिवार की कंपनी मिलेनियम डेवलपर्स ने जिस जगह पर सीज टावर्स बनाया है, वह प्लॉट इकबाल मिर्ची की पत्नी हाजरा मेमन के नाम से था. इकबाल मेमन अब मर चुका है. वह दाऊद इब्राहिम का बेहद अहम सहयोगी था. उस पर कई आपराधिक और आतंकवादी गतिविधियों में लिप्त होने के मामले चल रहे थे. 

पटेल परिवार ने अपराधी के खानदान को पहुंचाया 200 करोड़ का फायदा
मिलेनियम डेवलपर्स ने इकबाल मिर्ची के परिवार को 200 करोड़ का लाभ पहुंचाया. दरअसल इस प्लॉट को डेवलप करने के बाद इसके दो फ्लोर मेमन परिवार के नाम कर दिये गए. जिनकी कीमत बाजार के मुताबिक लगभग 200 करोड़ रुपए है. यह मामला साल 2006-2007 का है. जब जमीन की यह डील की गई थी. 

पटेल की पत्नी को किया जा सकता है समन
इस मामले में प्रवर्तन निदेशालय प्रफुल्ल पटेल की पत्नी को समन करने की तैयारी कर रहा है. क्योंकि मिलेनियम डेवलपर्स में उसका अपने पति प्रफुल्ल पटेल के साथ बेहद अहम शेयर मौजूद है. ईडी के सूत्रों ने बताया कि पटेल परिवार को समन करने के बाद उनसे इकबाल मिर्ची के साथ संबंधों के बारे में सवाल जवाब किया जाएगा और पैसे के लेन देन के बारे में जानकारी निकाली जाएगी.