स्वामी वासुदेवानंद बोले, राम मंदिर ट्रस्ट में शामिल हो सकते हैं नृत्यगोपाल दास

सुप्रीम कोर्ट के निर्देश पर केंद्र सरकार ने ट्रस्ट का गठन किया है. इसमें शंकराचार्य स्वामी वासुदेवानंद सरस्वती भी शामिल हैं. उन्होंने ट्रस्ट के बाकी बचे सदस्यों के चयन पर बात की है.

स्वामी वासुदेवानंद बोले, राम मंदिर ट्रस्ट में शामिल हो सकते हैं नृत्यगोपाल दास

लखनऊ: शंकराचार्य स्वामी वासुदेवानंद सरस्वती ने केंद्र सरकार द्वारा गठित श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट में महंत नृत्यगोपाल दास को शामिल करने का समर्थन किया है. उन्होंने कहा कि राम मंदिर निर्माण की लड़ाई में नृत्य गोपाल दास जी का बड़ा योगदान रहा है. अभी ट्रस्ट की बैठक होनी है और उसमें इस बात की कोशिश की जाएगी कि उन्हें भी इसमें शामिल किया जाए. राम मंदिर के निर्माण के लिये उन्होंने अविस्मरणीय योगदान दिया है जिसका सभी सम्मान करते हैं. 

राम मंदिर सनातन धर्म की आस्था का केंद्र- वासुदेवानंद

शंकराचार्य स्वामी वासुदेवानंद सरस्वती ने कहा कि राम मंदिर सनातन धर्म की आस्था का केंद्र है और हिंदू धर्म के लोग राम मंदिर निर्माण में अपना सर्वस्व न्योछावर कर चुके हैं. हमारे वेद, ग्रंथ और उपनिषद किसी भी धार्मिक स्थल के निर्माण में धर्म से जुड़े व्यक्तियों की सहभागिता की बात कही गई है. अभी तक तो ऐसा नहीं है. आगे भी इसकी कोई गुंजाइश नहीं दिख रही है.

ट्रस्ट का लक्ष्य भव्य राम मंदिर निर्माण

स्वामी वासुदेवानंद सरस्वती ने कहा कि श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट का मकसद सनातन धर्म की आस्था अनुरूप अयोध्या नगरी में रामलला मंदिर का भव्य निर्माण करना है. जहां तक ट्रस्ट के गठन और मंदिर निर्माण को लेकर लोगों की ओर से किए जा रहे सवाल है, वह सिर्फ मीडिया में बने रहने के लिए है. इसका कोई औचित्य नहीं है.

VHP के मॉडल पर ही होगा राम मंदिर निर्माण

श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट में शामिल स्वामी वासुदेवानंद सरस्वती ने कहा कि विश्व हिंदू परिषद की ओर से जो मॉडल तैयार किया गया है, उसी आधार पर अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण कराया जाएगा.

नृत्यगोपाल दास से अमित शाह ने की बात

राम जन्मभूमि न्यास का दावा है कि केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने फोन पर बातकर आश्वासन दिया कि महंत नृत्यगोपाल दास को आगे ट्रस्ट में अध्यक्ष बनाया जाएगा. आपको बता दें कि खबरें आ रही थीं कि ट्रस्ट में शामिल नहीं किये जाने पर महंत नृत्यगोपाल दास नाराज हैं लेकिन बाद में खुद उनकी तरफ से इसका खंडन किया गया था.

ये भी पढ़ें- असहिष्णु दौरः आतंकियों के निशाने पर सीएम योगी, RSS कार्यालय