दिल्ली में 116 किलोमीटर नई मेट्रो रेल लाइनों पर काम शुरू: पीएम मोदी

राजधानी दिल्ली की लाइफ लाइन मेट्रो रेल सेवा के विस्तार पर बोले प्रधानमंत्री   

दिल्ली में 116 किलोमीटर नई मेट्रो रेल लाइनों पर काम शुरू: पीएम मोदी

नई दिल्ली. दिल्ली चुनावों के मद्देनज़र रामलीला मैदान में आज हुई पीएम मोदी की रैली उनकी ऐतिहासिक रैलियों में एक रही. विशाल जन-सैलाब की उपस्थिति ने इस रैली को मोदी की मेगा रैली में बदल दिया. अपने सम्बोधन में प्रधानमंत्री ने कहा कि देश की राजधानी की मेट्रो सेवा के विस्तार पर केन्द्र सरकार ने काम शुरू कर दिया है.

पिछले 5 सालों में दिल्ली मेट्रो का अभूतपूर्व विस्तार किया है 

प्रधानमंत्री मोदी ने अपने भाषण में दिल्ली की लाइफ लाइन मेट्रो रेल सेवा पर केन्द्र सरकार की गंभीरता को समझाया. उन्होंने बताया कि केन्द्र सरकार ने पिछले पांच वर्षों में दिल्ली मेट्रो का अभूतपूर्व विस्तार किया है. अब तक कांग्रेस की पिछली केन्द्र सरकार हो या दिल्ली प्रदेश की केन्द्र सरकार हो, मेट्रो जैसे तमाम अहम सेवाओं के क्षेत्र में उनके द्वारा सिर्फ वायदे ही किये गए, वास्तविकता के धरातल पर कोई काम नहीं हुआ.

दिल्ली में 116 किलोमीटर नई मेट्रो रेल लाइनों पर काम शुरू

दिल्ली मेट्रो के विस्तार को लेकर प्रधानमंत्री ने अहम बयान दिया. अपने सम्बोधन के दौरान उन्होंने बताया कि दिल्ली मेट्रो का 116 किलोमीटर के विस्तार पर केन्द्र सरकार ने काम शुरू कर दिया है और अब इसके लिए नई मेट्रो लाइने भी तैयार की जा रही हैं.

मेट्रो के काम में दिल्ली सरकार ने रोड़े अटकाए 

दिल्ली सरकार का नारा था कि वे रोकते रहे और हम काम करते रहे. पीएम मोदी ने कहा कि इसके विपरीत हमारे मेट्रो पर किये जा रहे कार्यों पर दिल्ली सरकार लगातार रोड़े अटकाती रही, किन्तु हमारे काम को रोक पाने में नाकाम ही रही.

रुकावट के बाद भी २५ किलोमीटर हर साल विस्तार 

उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा रोड़े अटकाने के बाद भी केन्द्र सरकार ने मेट्रो के काम में अपनी तत्परता प्रभावित नहीं होने दी और पिछले पांच सालों में हर साल 25 किलोमीटर की रेलवे लाइन का विस्तार किया है.

ये भी पढ़ें. घर मिलने की ख़ुशी क्या होती है, मैं समझता हूँ, कहा मोदी ने

कांग्रेस की सुस्त कार्यशैली पर प्रहार 

पीएम मोदी ने तमाम उदाहरण देते हुए कांग्रेस की अकर्मण्यता पर शाब्दिक प्रहार किया. उन्होंने कहा कि सुस्ती ही कांग्रेस की मूल कार्यशैली की प्रेरणा है और इससे उनकी नीयत भी साफ़ ज़ाहिर होती है. चुनाई वायदे के तौर पर बड़ी बड़ी बातें करके उनके वोट हासिल करने के बाद निष्क्रियता का कंबल ओढ़ कर सो जाने वाले ये लोग जनता को ठगने का काम लगातार करते आये हैं.