महाराष्ट्र में कोरोना का 'महा'तांडव! बेकाबू हो रहे हालात

तमाम कोशिशों के बावजूद महाराष्ट्र में कोरोना संक्रमित मरीजों का आंकड़ा तेजी से बढ़ता जा रहा है. देश में कोरोना का सबसे बड़ा एपिसेंटर महाराष्ट्र बन चुका है. महाराष्ट्र में अब तक करोना के 2600 से ज्यादा मामले सामने आ चुके हैं.

महाराष्ट्र में कोरोना का 'महा'तांडव! बेकाबू हो रहे हालात

मुंबई: हर गुजरते दिन के साथ महाराष्ट्र के हालात और बिगड़ते जा रहे हैं. कोरोना के कालचक्र में महाराष्ट्र फंसता चला जा रहा है. महाराष्ट्र कोरोना संक्रमण के मामले में न सिर्फ देश में नंबर वन है बल्कि इकलौता राज्य है जहां कोरोना संक्रमितों की संख्या 2 हजार से ज्यादा है.

कोरोना से महाराष्ट्र में 'महा' मुसीबत!

प्रदेश में कोरोना संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 2687 तक पहुंच गई है. मौत का आंकड़ा भी 178 तक पहुंच गया है वहीं 259 लोग अब तक ठीक हो चुके है. मौत का आंकड़ा भी लगातार बढ रहा है. मुंबई की स्थित तो महाविकट होती जा  रही है. राज्य और केंद्र सरकार दोनों के लिए ये सबसे बड़ी चुनौती है कि माहाराष्ट्र में कैसे कोरोना के रफ्तार पर ब्रेक लगाया जाए.

मुंबई में कोरोना का बवंडर तेज

महाराष्ट्र में कोराना का सबसे ज्यादा कहर देश की आर्थिक राजधानी मुंबई पर टूटा है. अकेले मुंबई में कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या 1800 के पार पहुंच गई है एशिया के सबसे बड़े स्लम धारावी में भी कोरोना से मौत का आकंड़ा बढ़ता जा रहा है.

धारावी में कोरोना से अब तक 8 लोगों की मौत हो चुकी है. जबकि 60 कोरोना संक्रमण के मामले सामने आ चुके है. धारावी को सील पहले ही किया जा चुका है. लेकिन, यहां सामुदायिक संक्रमण फैलने का खतरा सबसे ज्यादा है. कोरोना के बढ़ते मामले राज्य और केंद्र सरकार दोनों के लिए चिंता का सबब बनी हुई है.

महाराष्ट्र के 11 जिले कोरोना के हॉटस्पॉट

स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक महाराष्ट्र के 11 जिले कोरोना के हॉटस्पॉट हैं जिनमें मुंबई, पुणे, ठाणे, नागपुर, सांगली, अहमदनगर, यवतमाल, औरंगाबाद, बुलढाना, मुंबई सब अर्बन और नासिक शामिल है.

महाराष्ट्र के मंत्री अशोक चव्हाण ने कहा है कि "महाराष्ट्र में जो दिखाई दे रही है वो बड़े शहरों में है, बाकी जिलों में कम है. आने वाले लोग चीन अमेरिका यूएई से आ रहा है, विदेशों से आए लोगों के कारण हो रहा है. तुलना नहीं करना चाहता हूं कि देश में क्या हुआ और हमने कब किया. लेकिन हमने कदम उठाए हैं."

इसे भी पढ़ें: झूठा: यहां देखिए, चीन की सच्चाई सामने लाने वाले 4 सबूत

जाहिर है कोरोना के खिलाफ देश में जारी महायुद्ध में महाराष्ट्र सबसे कमजोर कड़ी साबित हो रहा है. मुंबई और महाराष्ट्र की स्थिति महाविकट होती जा रही है. ऐसे में ये सवाल उठता है कि महाराष्ट्र इस माहामारी से कैसे निपटेगा?

इसे भी पढ़ें: कोरोना कंट्रोल में ब्रिटेन के पीएम जॉनसन को हराया सीएम योगी ने

इसे भी पढ़ें: कोरोना के माहौल में हो रही थी बेशर्म पूल पार्टी