• देश में कोविड-19 से सक्रिय मरीजों की संख्या 1,10,960 पहुंची, जबकि संक्रमण के कुल मामले 2,26,770: स्त्रोत-PIB
  • कोरोना से ठीक होने वाले लोगों की संख्या- 1,09,462 जबकि अबतक 6,348 मरीजों की मौत: स्त्रोत-PIB
  • अंतर्राष्ट्रीय टीकाकरण गठबंधन के लिए भारत ने 15 मिलियन डॉलर देने का वचन दिया
  • केंद्र ने 4 जून, 2020 को राज्यों / संघ राज्य क्षेत्रों को जीएसटी मुआवजे के तौर पर 36,400 करोड़ रुपया जारी किया
  • कोविड-19 की रोकथाम हेतु MoHFW ने निवारक उपायों पर एसओपी जारी किया
  • ट्यूलिप– सभी यूएलबीऔर स्मार्ट शहरों में नए स्नातकों को अवसर प्रदान करने के लिए शहरी अध्ययन प्रशिक्षण कार्यक्रम की शुरूआत
  • स्वास्थ्य मंत्री ने दिल्ली को आक्रामक निगरानी, ​​संपर्क का पता लगाने और कड़े नियंत्रण कार्यों के साथ जांच बढ़ाने की आवश्यकता जोर
  • आइए कोविड-19 के खिलाफ भारत की लड़ाई को मजबूत करें और सरकार द्वारा जारी किए गए सभी दिशानिर्देशों का पालन करें
  • मनरेगा के तहत मजदूरी और सामग्री दोनों के ही लंबित बकाये को समाप्त करने के लिए राज्यों को 28,729 करोड़ रुपये जारी किए गए
  • पीएमजीकेपी के तहत (02.06.2020 तक): चालू वित्तीय वर्ष में 48.13 करोड़ मानव कार्य-दिवस के रोजगार का सृजन

खास समुदाय के लिए खतरा बताकर सीएम योगी को उड़ाने की धमकी

एक विशेष समुदाय के लिए सीएम योगी को खतरा बताया गया. इस मामले में पुलिस ने गोमती नगर पुलिस स्टेशन में धारा 505(1)b 506,और 507 के तहत मुकदमा दर्ज किया है. सीएम योगी आदित्यनाथ को मिली धमकी के बाद इंस्पेक्टर धीरज कुमार की ओर से एफआईआर दर्ज कराई गई है.

खास समुदाय के लिए खतरा बताकर सीएम योगी को उड़ाने की धमकी

लखनऊः लॉकडाउन और कोरोना महामारी के इस नाजुक मौके में भी देश आतंकवादी गतिविधियों से सुलग रहा है. कश्मीर घाटी में इसकी ज्वलंत आग भड़की हुई है, अब तो चिंगारी मैदान तक भी आने लगी है. शुक्रवार को उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ को बम से उड़ाने की धमकी मिली है. इसे लेकर FIR दर्ज की गई है. 

डॉयल 112 के वाट्सऐप पर भेजी धमकी
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को शुक्रवार सुबह बम से उड़ाने की धमकी भरा एक मैसेज मिला. किसी ने डायल 112 की सोशल मीडिया डेस्क के व्हॉट्सएप पर धमकी भरा यह मैसेज भेजा. मैसेज में सीएम योगी को एक विशेष समुदाय के लिए खतरा बताते हुए बम से उड़ाने की धमकी दी गई है. इस मामले को लेकर गोमती नगर पुलिस स्टेशन में रिपोर्ट दर्ज कर ली गई है.

मैसेज में विशेष समुदाय के लिए बताया खतरा
एक विशेष समुदाय के लिए सीएम योगी को खतरा बताया गया. इस मामले में पुलिस ने गोमती नगर पुलिस स्टेशन में धारा 505(1)b 506,और 507 के तहत मुकदमा दर्ज किया है. सीएम योगी आदित्यनाथ को मिली धमकी के बाद इंस्पेक्टर धीरज कुमार की ओर से एफआईआर दर्ज कराई गई है. धीरज कुमार के मुताबिक, यूपी 112 के सोशल मीडिया डेस्क के व्हाटसएप नम्बर पर 7570000100 पर मोबाइल नम्बर 8828453350 से गुरुवार रात 12:32 पर धमकी भरा मैसेज आया था.

यह लिखा था मैसेज में
इंस्पेक्टर धीरज कुमार ने कहा, 'मैसेज में लिखा था कि मैं योगी आदित्यनाथ को बम से हमला कर जान से मार दूंगा. फिर उसने योगी को कुछ लोगों की जान का दुश्मन बताया. ट्रू कॉलर पर इस नम्बर को चेक करने पर लिखा आता है- हाय गॉय...जस्ट एबुसिंग..'
खैर पुलिस इस मोबाइल नंबर की पड़ताल कर रही है. आरोपी के बारे में कई जानकारी पुलिस को मिल गई है. लखनऊ के पुलिस कमिश्नर सुजीत पाण्डेय ने बताया कि एफआईआर दर्ज कर पड़ताल की जा रही है.

हथकड़ियों में ISIS का नया कमांडर अब्दुलनसर अल-किरदश! पढ़ें, कबूलनामा

पुलिस कर रही है आरोपी की तलाश
धमकी भरा यह संदेश यूपी 112 के हेल्पडेस्क के व्हाट्सएप नंबर पर 21 मई की रात 12.35 बजे आया. तब से आरोपी की तलाश में टीमें जुटी हैं. यूपी पुलिस ने अन्य राज्यों की पुलिस से भी संपर्क किया है. मामला बेहद गंभीर और मुख्यमंत्री की सुरक्षा से जुड़ा है, लिहाजा उनकी सुरक्षा से लेकर सभी पहलुओं पर विशेष सतर्कता बरती जा रही है.

देश में रिकॉर्ड रफ्तार से बढ़ रहा है कोरोना संक्रमण! महज 15 दिन में 56 हजार केस