आखिर अयोध्या पहुंच गये उद्धव, झेलना पड़ा भारी विरोध

महाराष्ट्र में कांग्रेस के साथ सरकार बनाने वाले उद्धव ठाकरे आखिर अयोध्या पहुंच ही गये. उनके अयोध्या जाने की योजना नवंबर से बन रही थी लेकिन सरकार बचाने के चक्कर में सही समय का इंतजार करना पड़ा. 

आखिर अयोध्या पहुंच गये उद्धव, झेलना पड़ा भारी विरोध

अयोध्या: महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री और शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे आज अयोध्या पहुंचे हैं. हमेशा हिंदुत्व की बात करने वाली शिवसेना ने मुख्यमंत्री पद के लालच में कांग्रेस से हाथ मिलाकर अपनी मौलिक विचारधारा से समझौता कर लिया. इस बात का साधु संतों ने विरोध किया. महंत नृत्यगोपाल दास ने कहा था कि उद्धव ठाकरे का अयोध्या आना राजनीति से प्रेरित है और हम इस यात्रा विरोध करते हैं. 

परमहंस दास ने की अयोध्या में प्रवेश करने से रोकने की कोशिश 

अयोध्या में तपस्वी छावनी के महंत परमहंस दास का दावा था कि वह उद्धव ठाकरे को अयोध्या में प्रवेश तथा रामलला का दर्शन करने से रोकेंगे. अयोध्या में श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के अध्यक्ष महंत नृत्यगोपाल दास का विरोध करने के कारण रामनगरी में हाशिए पर पड़े तपस्वी छावनी के महंत परमहंस दास ने कहा कि उद्धव ठाकरे ने राम भक्तों से धोखा किया है. हालांकि उनको पुलिस ने पहले ही नजरबंद कर लिया. हनुमानगढ़ी के महंत राजू दास ने भी उद्धव का विरोध किया.

अब तक दो बार अयोध्या आ चुके हैं उद्धव

इससे पहले 2018 में लोकसभा चुनाव से पहले और फिर उसके बाद जून 2019 में उद्धव पार्टी के सांसदों के साथ अयोध्या गए थे. उस दौरान वे महाराष्ट्र के शिवनेरी किले की मिट्टी भी अपने साथ ले गए थे. शिवनेरी छत्रपति शिवाजी महाराज का जन्मस्थान है. अयोध्या में मंदिर-मस्जिद विवाद पर सुप्रीम कोर्ट का फैसला आने के बाद उद्धव ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा था कि वहां (अयोध्या) ऐसी शक्ति है, जिसे मैंने महसूस किया है. इसलिए अब मैं बार-बार वहां जरूर जाऊंगा.

उद्धव बोले- भाजपा को छोड़ा है, हिंदुत्व नहीं

 

राम मंदिर के दर्शन करने से पहले महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने प्रेस कांफ्रेंस में कहा कि उन्होंने भाजपा का साथ छोड़ा है लेकिन हिंदुत्व पर अब भी अड़े हैं. हालांकि उद्धव ठाकरे की यो बातें केवल खोखली ही नजर आती हैं. क्योंकि जिस मुस्लिम आरक्षण का विरोध बाल ठाकरे ने हमेशा किया, अब उन्ही मुसलमानों को आरक्षण देने की बाते उनकी ओर से की जा रही है. गौरतलब है कि उद्धव ठाकरे विशेष विमान से परिवार के साथ लखनऊ स्थित चौधरी चरण सिंह इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर आए और यहां से वे सड़क मार्ग से अयोध्या पहुंचे थे.

ये भी पढ़ें- जानिये महिला की किस बात को सुनकर पीएम मोदी की आंखें हो गईं नम