अभिनेत्री से छेड़छाड़ के आरोप में विकास सचदेव को तीन साल की सजा

अभिनेत्री ने घटना का खुलासा वीडियो ट्विटर पर वीडियो शेयर के किया था. इस हादसे के दौरान उनकी उम्र 17 साल थी. इसके बाद पुलिस ने आरोपी विकास सचदेवा को मुंबई से गिरफ्तार किया था.हालांकि, कुछ समय बाद विकास को जमानत मिल गई थी. जायरा ने वीडियो में कहा था, एक व्यक्ति ने मेरी ढाई घंटे की यात्रा को नर्क बना दिया. 

अभिनेत्री से छेड़छाड़ के आरोप में विकास सचदेव को तीन साल की सजा

मुंबईः मुंबई की हिंडोशी कोर्ट ने बुधवार को 41 वर्षीय बिजनेस मैन विकास सचदेवा को तीन साल की सजा सुनाई है. विकास पर फ्लाइट में छेड़खानी करने का आरोप था और यह आरोप पूर्व अभिनेत्री दंगल फेम जायरा वसीम ने लगाया था. मामला तकरीबन दो साल पुराना है. जायरा वसीम ने दिसंबर 2017 में विस्तारा एयरलाइंस के विमान से दिल्ली से मुंबई की यात्रा की थी. आरोप था कि इस दौरान विकास सचदेवा ने फ्लाइट में जायरा से छेड़छाड़ की थी.  

घटना के समय नाबालिग थीं जायरा 
अभिनेत्री ने घटना का खुलासा वीडियो ट्विटर पर वीडियो शेयर के किया था. इस हादसे के दौरान उनकी उम्र 17 साल थी. इसके बाद पुलिस ने आरोपी विकास सचदेवा को मुंबई से गिरफ्तार किया था.हालांकि, कुछ समय बाद विकास को जमानत मिल गई थी. जायरा ने वीडियो में कहा था, एक व्यक्ति ने मेरी ढाई घंटे की यात्रा को नर्क बना दिया.

मैं इस घटना को फोन में रिकॉर्ड करना चाहती थी, लेकिन कम रोशनी के कारण ऐसा नहीं कर पाई. यह हरकत पांच से दस मिनट तक जारी रही. मैं समझ गई कि वह छेड़खानी कर रहा है. पीछे वाली सीट पर बैठा व्यक्ति अपने पैर को बार-बार ऊपर नीचे कर रहा था. कभी गर्दन पर तो कभी पीठ को छूने का प्रयास कर रहा था. 

पत्नी ने कहा, निर्दोष हैं पति
इस मामले पर दोषी करार दिए गए विकास सचदेवा की पत्नी ने कहा था, मेरे पति बेकसूर हैं. उनका छेड़खानी करने का कोई इरादा नहीं था. हमारे परिवार में एक जवान व्यक्ति की मौत हुई थी, जहां मेरे पति गए थे. मेरे पति बीते 24 घंटों से सोए नहीं थे. उन्होंने क्रू से कहा था कि उन्हें परेशान न करें, क्योंकि वह सोना चाहते हैं. उन्होंने सोते समय अपने पैर ऊपर कर लिए, उनका शोषण करने का कोई इरादा नहीं था. 

आरोपी अपने परिवार में अकेले कमाने वाले
विशेष न्यायाधीश एडी देव, यौन अपराधों से बच्चों के संरक्षण (POCSO) अधिनियम के तहत मामलों की सुनवाई करते हुए, भारतीय दंड संहिता की धारा 354 के तहत विकास सचदेव को दोषी ठहराया. विकास के लिए कम से कम सजा की मांग करते हुए उनके वकील अदनान शेख ने तर्क दिया कि आरोपी अपने परिवार में एकमात्र कमाने वाले हैं. घटना के तकरीबन एक साल बाद अभिनेत्री ने बॉलीवुड को अलविदा कह दिया था. उन्होंने इस निर्णय के पीछे धार्मिक वजहें बताई थीं. 

क्यों नहीं फिल्म 'छपाक' और 'तानाजी' को कांग्रेस-भाजपा की लोकप्रियता का पैमाना माना जाए?