कोरोना काल में देश का क्या है हाल? जानिए, ताजा UPDATE

पूरी दुनिया में कोरोमा का कहर आफत बनकर बरप रहा है.  हर कोई दहशत में जीने को मजबूर है. इस बीच आपको भारत के ताजा अपडेट से रूबरू करवाते हैं..

कोरोना काल में देश का क्या है हाल? जानिए, ताजा UPDATE

नई दिल्ली: देश में कोरोना मरीजों की संख्या लॉकडाउन-3 के बाद भी तेजी से बढ़ती जा रही है. कई राज्यों में हालात कंट्रोल में हैं, तो कई राज्यों में हालात लगातार बिगड़ते ही जा रहे हैं. आपको भारत में कोरोना के ताजा अपडेट से रूबरू करवाते हैं.

देश में 'कोरोना अपडेट'

स्वास्थ्य मंत्रालय के ताजा आंकड़ों के मुताबिक, भारत में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 67,152 हो गया है. देश में एक दिन में कोरोना के 4,213 नये मामले आए हैं. जबकि कोरोना से मरने वालों की संख्या 2,206 हो गई है. एक दिन में देश में कोरोना से 97 लोगों की मौत हुई है.

सबसे पहले महाराष्ट्र की बात करें तो कोरोना के सबसे ज्यादा मामले यहीं से आ रहे हैं. मायानगरी मुंबई के हालात तो सबसे ज्यादा खराब हैं. कोरोना काल में मुंबई की पहचान बदल गई है. मुंबई देश में कोरोना संक्रमण का एपीसेंटर बनती जा रही है. यहां लगातार कोरोना संक्रमण के मामले बढ़ रहे हैं और जानलेवा बीमारी को रोकने की सारी सरकारी कोशिशें नाकाफी साबित हो रही है.

फिलहाल कभी न थमने वाली मुंबई की रफ्तार थम गई है. लेकिन कोरोना वायरस की तेजी पर कोई ब्रेक नहीं लग रहा है. मुंबई का धारावी इलाक कोरोना का हॉटस्पॉट बन गया है. जानलेवा वायरस को लेकर जो ताजा आंकड़े सामने आए हैं, वो हैरान करने वाले हैं.

महाराष्ट्र में 'कोरोना अपडेट'

महराष्ट्र में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 22,171 हो गया है. महराष्ट्र में एक दिन में कोरोना के 1,943 नये मामले आए हैं. जबकि कोरोना से मरने वालों की संख्या 832 हो गई है. एक दिन में महराष्ट्र में कोरोना से 53 लोगों की मौत हो गई है.

इस जानलेवा बीमारी से सबसे बड़ा खतरा उन कोरोना वॉरियर्स को है. जो लगातार जानलेवा वायरस और आम लोगों की जिंदगी के बीच ढाल बनकर खड़े हुए हैं. महाराष्ट्र में कई पुलिसकर्मी कोरोना वायरस का शिकार हो चुके हैं. महाराष्ट्र में अबतक 7 पुलिसकर्मियों की जान कोरोना वायरस की वजह से गई है.

गुजरात में 'कोरोना अपडेट'

महाराष्ट्र के बाद कोरोना के सबसे ज्यादा मामले गुजरात में हैं. गुजरात की राजधानी अहमदाबाद कोरोना का एपीसेंटर बन गया है. गुजरात में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 8,194 हो गया है. गुजरात में एक दिन में कोरोना के 398 नये मामले आए हैं. गुजरात में कोरोना से मरने वालों की संख्या 493 हो गई है. एक दिन में गुजरात में कोरोना से 21 लोगों की मौत हो गई है.

राजधानी में कोरोना कहर

देश में कोरोना के मामलों में दिल्ली तीसरे नंबर पर है. दिल्ली में कोरोना को लेकर बड़ी चिंता ये है कि यहां मरीजों के इलाज में लगे स्वास्थ्यकर्मी और पुलिसकर्मी लगातार कोरोना से संक्रमित हो रहे हैं. दिल्ली के सुल्तानपुरी थाने के 9 पुलिसकर्मी को कोरोना हो गया है. इसमें एक एसआई और तीन एएसआई हैं.

इसके अलावा एक पुलिसकर्मी की पत्नी भी कोरोना से संक्रमित पाई गई हैं. पहाड़गंज थाने का एक और जवान भी कोरोना सं संक्रमित मिला है. जिसके बाद उसके संपर्क में आए पुलिसकर्मियों को क्वारंटीन कर दिया गया है. शालीमार थाने का एक इंस्पेक्टर को भी कोरोना हो गया है. दिल्ली पुलिस में अब तक 120 से ज्यादा जवान कोरोना संक्रमित हो चुके हैं. हालांकि इसमें कई जावन ठीक होकर वापस काम पर भी लौट चुके हैं.

दिल्ली में 'कोरोना अपडेट'

ताजा आंकड़ों के मुताबिक, दिल्ली में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 6,923 हो गया है. दिल्ली में एक दिन में कोरोना के 381 नये मामले आए हैं. दिल्ली में कोरोना से मरने वालों की संख्या 73 है. राहत की बात है कि पिछले एक दिन में यहां कोई मौत नहीं हुई है.

महाराष्ट्र, गुजरात और दिल्ली के अलावा तमिलनाडु में कोरोना के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं. वहीं पश्चिम बंगाल में कोरोना से मरने वालों की संख्या 185 हो गई है. जो देश में कोरोना से मौत के मामले में चौथे स्थान पर है. लेकिन देश में कई ऐसे राज्य हैं. जहां कोरोना पर कुछ हद तक काबू पा लिया गया है. पिछले 24 घंटों में जिन राज्यों में कोरोना का कोई मामला सामने नहीं आया है, वो हैं...

  • अंडमान और निकोबार
  • अरुणाचल प्रदेश
  • असम
  • चंडीगढ़
  • छत्तीसगढ़
  • दादर नगर हवेली
  • गोवा
  • लद्दाख
  • मध्य प्रदेश
  • मणिपुर
  • मेघालय
  • मिजोरम और
  • पुडुचेरी

भारत में पिछले 24 घंटे में भले ही सबसे ज्यादा कोरोना के मरीज बढ़े हैं. लेकिन दुनिया के दूसरे देशों के मुकाबले आज भी भारत की स्थिति काफी बेहतर है. सरकार अब लॉकडाउन में भी काफी छूट भी दे रही है.

इसे भी पढ़ें: रियाज़ नायकू के बाद गाजी हैदर ने खरीदा जहन्नुम का कन्फर्म टिकट

ट्रेनों का आवागमन भी शुरु हो रहा है. ऐसे में जरुरत है और भी एहतियात बरतने की. जिससे हम इस वैश्विक महामारी पर विजय प्राप्त कर सकें और अब तक जो हमने कोरोना को फैलने से रोकने में कामयाबी हासिल की है. वो आगे भी जारी रहे.

इसे भी पढ़ें: PM मोदी की मुख्यमंत्रियों के साथ 5वीं बैठक आज, इन मुद्दों पर हो सकती है चर्चा

इसे भी पढ़ें: 132 हस्तियों ने पुलित्ज़र कमेटी को खुला खत लिखकर पूछा तीखा सवाल