किस प्रधानमंत्री ने कितनी बार फहराया तिरंगा? पढ़िए, इतिहास

क्या आपको इस बात की जानकारी है कि देश में स्वतंत्रता दिवस के मौके पर किस प्रधानमंत्री ने कितनी बार तिरंगा फहराया है? क्या आपको लाल किले पर तिरंगे के इतिहास की जानकारी है? इस खास रिपोर्ट में पढ़िए..

किस प्रधानमंत्री ने कितनी बार फहराया तिरंगा? पढ़िए, इतिहास

नई दिल्ली: भारत के लिए आज का दिन बेहद ही खास है, पूरा देश आजादी के 73 साल पूरे होने की खुशी में जश्न मना रहा है. तो वहीं देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज 7वीं बार लाल किले पर तिरंगा फहराया. आपको लाल किले के कुछ महत्वपूर्ण इतिहास और कुछ अहम तथ्यों से रूबरू करवाते हैं.

किस प्रधानमंत्री ने कितनी बार फहराया तिरंगा?

जवाहर लाल नेहरू- 17 
इंदिरा गांधी- 16
मनमोहन सिंह- 10
नरेन्द्र मोदी- 7
अटल बिहारी वाजपेयी- 6 
राजीव गांधी- 5 
पी वी नरसिम्हा राव- 5
लाल बहादुर शास्त्री- 2
मोरारजी देसाई- 2
चौधरी चरण सिंह- 1
वी पी सिंह- 1
एच डी देवेगौड़ा- 1
इंद्र कुमार गुजराल- 1

क्या आपको इस बात की जानकारी है कि पीएम मोदी सबसे लंबे कार्यकाल वाले गैर-कांग्रेसी प्रधानमंत्री हैं. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को आज 2273 दिन पूरे हो चुके हैं. आपको अन्य प्रधानमंत्री के कार्यकाल पर विशेष जानकारी दे देते हैं.

जवाहर लाल नेहरू - 6130 दिन
इंदिरा गांधी - 5829 दिन
मनमोहन सिंह - 3656 दिन
अटल बिहारी वाजपेयी - 2272 दिन
राजीव गांधी - 1857 दिन
पी वी नरसिम्हा राव - 1791 दिन
मोरारजी देसाई - 856 दिन 
लाल बहादुर शास्त्री - 581 दिन
विश्वनाथ प्रताप सिंह - 343 दिन

लालकिले पर तिरंगे का इतिहास

स्वतंत्रता दिवस पर प्रधानमंत्री लालकिले पर झंडा फहराते हैं. तिरंगा फहराने के बाद प्रधानमंत्री देश को संबोधित करते हैं. 15 अगस्त 1947 को लालकिले पर तिरंगा फहराया गया था. प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू ने लालकिले से तिरंगा फहराया था. 13 प्रधानमंत्री ने 73 बार 15 अगस्त पर तिरंगा फहराया. लाल किले से सबसे लंबा भाषण प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दिया. 15 अगस्त 2016 को प्रधानमंत्री मोदी ने 94 मिनट का भाषण दिया था.

जिन देशों के 15 अगस्त को मिली आजादी

अगर आप ये सोचते हैं कि 15 अगस्त के दिन सिर्फ भारत को ही आजादी मिली थी, तो आप गलत हैं क्योंकि इस तारीख को भारत के अलावा अन्य 5 और देश ऐसे हैं, जो स्वतंत्रता दिवस मनाते हैं.

भारत
दक्षिण कोरिया
उत्तर कोरिया
बहरीन
लिचेंस्टीन
कांगो

इसे भी पढ़ें: 'लालकिले' से PM मोदी का 'रामराज्य' वाला संबोधन! 10 खास बातें

इसे भी पढ़ें: भारत भाग्य विधाता! जानिए 73 सालों में कितना बदल गया हिन्दुस्तान?