close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

पाकिस्तान को धूल चटाने वाले शूरवीर का एक बार फिर हुआ 'अभिनंदन'

130 करोड़ हिंदुस्तानियों का जिस वायुवीर पर भरोसा है, उसका इस्तकबाल करना हर देशवासियों के लिए गर्व की बात है. आसमानी ताकत का नायक अभिनंदन का वायुसेना दिवस के मौके पर सम्मान देख हर हिंदुस्तानी का सीना गर्व से चौड़ा हो गया. अभिनंदन पर पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान को औंधे मुंह गिरना पड़ा था. अभिनंदन का सम्मान पाकिस्तान के लिए जले पर नमक छिड़कने के समान है.

पाकिस्तान को धूल चटाने वाले शूरवीर का एक बार फिर हुआ 'अभिनंदन'

नई दिल्ली: 87वें वायुसेना स्थापना दिवस के मौके पर विंग कमांडर अभिनंदन वर्धमान के 51 स्क्वॉर्डन को वायुसेना प्रमुख एयर चीफ मार्शल आरकेएस भदौरिया ने सम्मानित किया. दहशतगर्दों को पालने वालों को उनकी औकात बताने वाले शेर का सम्मान और भारतीय वायुसेना दिवस पर गाजियाबाद के हिंडन एयरबेस पर दिया गया ये सम्मान मां भारत के सपूत का है.

दरअसल, विंग कमांडर अभिनंदन को ये अवॉर्ड इसी साल 27 फरवरी को पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान के एफ-16 लड़ाकू विमान को मार गिराने के लिए दिया गया. हालांकि स्क्वॉर्डन की ओर से यह सम्मान कमांडिंग ऑफिसर ग्रुप कैप्टन सतीश पवार को दिया गया. अभिनंदन और बालाकोट के बांकुरों ने आसमान में जैसे ही दम दिखाया था. भारतीय शूरवीरों की गरजना से ही पाकिस्तान के छक्के छूट गए होंगे.

आसमान में दिखी वायुसेना की ताकत

पाकिस्तान के F-16 विमान को खाक में मिलाने वाले अभिनंदन ने हिंडन एयरबेस पर आज एक बार फिर वायुसेना स्थापना दिवस के मौके पर मिग लड़ाकू विमान में उड़ान भरी. और फिर से आसमान में अपनी ताकत का प्रदर्शन किया. इसी दौरान 3 मिराज 2000 एयरक्राफ्ट, सुखोई ने भी वायुसेना दिवस के मौके पर उड़ान भरी.

इस अवसर पर बालाकोट में जैश आतंकी कैंपों पर हवाई हमले में शामिल 9 स्क्वॉर्डन को भी सम्मानित किया गया. इसी स्क्वॉर्डन के मिराज 2000 फाइटर जेट ने जैश के ठिकानों को नेस्तनाबूत कर दिया था.

अभिनंदन की बहादुरी का लोहा..

अभिनंदन.. उस शौर्य का दूसरा नाम है, जिसने पाकिस्तान जैसे खूनी दुश्मन मुल्क में जाकर जो दिलेरी दिखाई थी. वो हिंदुस्तान ही नहीं बल्कि पूरी दुनिया ने देखी थी.

14 फरवरी को पुलवामा में सीआरपीएफ काफिले पर आतंकियों ने कायराना हरकत का बदला भारत ने बालाकोट पर एयर स्ट्राइक से लिया. जिसके बाद 27 फरवरी को पाकिस्तान के तीन लड़ाकू विमानों ने भारत के हवाई क्षेत्र में घुसने की हिमाकत की थी, लेकिन वायुसेना के जांबाज विंग कमांडर अभिनंदन वर्धमान ने एरियल फाइट में पांच दशक पुराने भारत के मिग-21 से पाकिस्तान के आधुनिक F-16 को मार गिराया था.

इसे भी पढ़ें: दुनिया की चौथी सबसे ताकतवर वायुसेना है IAF

पाकिस्तानी फाइटर्स ने ये सोचा भी नहीं होगा कि F-16 के जिस अहंकार पर सवार होकर वो भारत का नुकसान करने निकले थे, उसे भारत के वीर सपूत तबाह कर देगा. 2414 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से आसमान में उड़ान भरने वाले F-16 का मलबा पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर यानी पीओके में मिला था. पहले पाकिस्तान ये मानने से इनकार करता रहा, कि भारत ने उसके F-16 लड़ाकू विमान को मार गिराया है. लेकिन जैसे ही F-16 के मलबे की तस्वीरें सामने आई, तो पाकिस्तान का झूठ एक बार फिर से पूरी दुनिया के सामने बेनकाब हो गया.

MIG-21 हो गया था हादसे का शिकार

इस ऑपरेशन के दौरान भारतीय वायुसेना का विमान MIG-21 हादसे का शिकार हो गया था जिसे पायलट विंग कमांडर अभिनंदन उड़ा रहे थे. जो पाकिस्तान के कब्जे वाले इलाके में पहुंच गए थे. इसके बाद अभिनंदन के ऊपर पाकिस्तानियों ने हमला कर दिया और फिर पाक आर्मी ने उन्हें पकड़ लिया था. हालांकि, अभिनंदन को 48 घंटे में ही पाकिस्तान को छोड़ना पड़ा था. अभिनंदन जब अपने वतन लौटे तो वो पूरे देशवासियों के हीरो बन चुके थे.

वायुसेना दिवस के मौके पर जिस वायुवीर का अभिनंदन किया गया. उसे हर कोई अपना हीरो मानता है और उस जैसा बनना चाहता है. भारत माता की सेवा और सरहद का रक्षा कवच बनकर पाकिस्तान जैसे दुश्मन मुल्क को सबक सिखाना चाहता है. इसीलिए अभिनंदन जैसे जवानों को पूरा देश सलाम करता है. जब-जब पाकिस्तान भारत की तरफ आंख उठाकर भी देखता है, उसे मुंह की खानी पड़ती है. बार-बार औंधे मुंह गिरने के बावजूद पाकिस्तान अपनी नापाक करतूतों से बाज नहीं आता है.