पब्लिक में अगर आप भी करते हैं यह काम तो शर्माएं नहीं, होगा फायदा

कुछ आदतों को बुरी बता कर इंसान को अव्यवहारिक या अनैतिक बता दिया जाता है. कहीं न कहीं समाज ने भी इन आदतों को लेकर एक मापदंड तैयार कर रखा है लेकिन आपको जान कर हैरानी होगी कि यह आदतें बुरी नहीं बल्कि स्वास्थ्य के लिए बहुत लाभदायक हैं. 

पब्लिक में अगर आप भी करते हैं यह काम तो शर्माएं नहीं, होगा फायदा

नई दिल्ली: जब कभी आप पब्लिक के बीच में गैस छोड़ते हैं या जोर से डकार लेते हैं तो लोग आपको तुच्छ नजर से देखने लगते हैं. जिसके बाद जिस इंसान ने यह किया होता है वह भी संकुचित होकर नजरें छुपाने लगता है, पर लोगों की अवधारणा कब बदलेगी यह तो कहना मुश्किल है क्योंकि हर एक इंसान इन चीजों को दैनिक जीवन में करता तो है भले इन चीजों को ही गलत आदतों में रखा गया हो. 

कुछ ऐसी चीजें जिसे करने में शर्माएं नहीं क्योंकि यह आपके सेहत के लिए लाभदायक हैं:-

1. गैस छोड़ना 
सुनकर अजीब लग रहा होगा लेकिन जी हां गैस छोड़ना मनुष्य के स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद है. प्रतिदिन हम कम से कम 14 बार पादते हैं और खास तौर पर रात के समय 3-5 बार हम गैस छोड़ते हैं. पादते समय कार्बन डाइ ऑक्साइड और मिथेन गैस निकलता है जो पाचन क्रिया के समय उत्पादित होती है.

अगर यह गैस रोक कर रखा जाए तो पेट में दर्द और पेट फूलने की समस्या होती है.

गायों को ठंड से बचाने का नायाब तरीका, लिंक पर क्लिक कर आप भी जानें.

2. नहाते समय पेशाब
नहाते समय मूत्र करने की बात को लोग हास्यास्पद समझ कर मुंह-नाक सिकोड़ने लग जाते हैं, लेकिन अगर आप भी इस आदत के शिकार हैं तो इसे बुरी आदत न मानें. क्योंकि स्नान के समय पेशाब करने से उसमें मौजूद यूरिक एसिड और अमोनिया पैरों को फंगल इंफेक्शन से बचाते हैं. 

3. डकार लेना
कहा जाता है कि खाने के बाद अगर कोई इंसान डकार लेता है तो इसका मतलब उसका पेट भर चुका है. लेकिन जब इंसान घर के बाहर और अगर घर की महिलाएं ही बड़ों के सामने जोर से डकार ले लेती है तो लोग घुरने लग जाते हैं मानों किसी ने कोई बहुत बड़ी गलती कर दी हो.

जबकि अगर खाने के बाद डकार आए तो लेने से कभी न बचें क्योंकि डकार लेने से पेट की हवा बाहर निकल जाती है. लेकिन इसे दबा कर रखा जाए तो इसका प्रतिकूल प्रभाव देखने को मिलता है जैसे छाती और पेट में दर्द, गैस को बाहर नहीं निकाला जाता है तो यह छाती और पेट में घुमने लगता है.  किंतु जरूरत से ज्यादा डकार का आना भी ठीक नहीं है इसके लिए डॉक्टर से संपर्क करें.

पर्यावरण को प्रदूषण से बचाने के जाने उपाय, क्लिक कर पढ़े खबर.

4. नाखून चबाना व दांतों से काटना
नाखून को दांतों के बीच रख कर चबाना या उसे दांतों से काटने को लोग हमेशा मना करते हैं. बच्चों को सिखाया भी जाता है कि ऐसा न करें लेकिन क्या आप जानते हैं यह आपको संक्रमण से लड़ने में मदद करता है. जो व्यक्ति नाखून चबाता या काटता है उसके इम्यून सिस्टम को खास चीज की प्राप्ति होती है.

क्योंकि नाखून में बैक्टीरिया मौजूद होता है और जब हम नाखून को मुंह में लेते हैं तो हमारी बॉडी इससे बचने के लिए एंजायम उत्सर्जित करती है और वह फिर हमारे शरीर में चला जाता है. जब कभी यह बैक्टीरिया दोबारा हमारे शरीर में प्रवेश करता है तो पहले से मौजूद एंजायम इससे हमारा बचाव करता है. इस तरह के लोगों में एलर्जी होने का खतरा भी काफी कम होता है.

5.च्यूंइग गम चबाना
च्यूंइग गम चबाने को भी गलत आदतों में रखा जाता है लेकिन यह कैफीन की तुलना में ज्यादा मददगार होती है.

इसके सेवन से यादाश्त तेज, ध्यान केंद्रित, तनाव कम और कोलेस्ट्रोल यानी चर्बी लेवल को संतुलित रखने में मदद करता है.