• देश में कोविड-19 से सक्रिय मरीजों की संख्या 1,10,960 पहुंची, जबकि संक्रमण के कुल मामले 2,26,770: स्त्रोत-PIB
  • कोरोना से ठीक होने वाले लोगों की संख्या- 1,09,462 जबकि अबतक 6,348 मरीजों की मौत: स्त्रोत-PIB
  • अंतर्राष्ट्रीय टीकाकरण गठबंधन के लिए भारत ने 15 मिलियन डॉलर देने का वचन दिया
  • केंद्र ने 4 जून, 2020 को राज्यों / संघ राज्य क्षेत्रों को जीएसटी मुआवजे के तौर पर 36,400 करोड़ रुपया जारी किया
  • कोविड-19 की रोकथाम हेतु MoHFW ने निवारक उपायों पर एसओपी जारी किया
  • ट्यूलिप– सभी यूएलबीऔर स्मार्ट शहरों में नए स्नातकों को अवसर प्रदान करने के लिए शहरी अध्ययन प्रशिक्षण कार्यक्रम की शुरूआत
  • स्वास्थ्य मंत्री ने दिल्ली को आक्रामक निगरानी, ​​संपर्क का पता लगाने और कड़े नियंत्रण कार्यों के साथ जांच बढ़ाने की आवश्यकता जोर
  • आइए कोविड-19 के खिलाफ भारत की लड़ाई को मजबूत करें और सरकार द्वारा जारी किए गए सभी दिशानिर्देशों का पालन करें
  • मनरेगा के तहत मजदूरी और सामग्री दोनों के ही लंबित बकाये को समाप्त करने के लिए राज्यों को 28,729 करोड़ रुपये जारी किए गए
  • पीएमजीकेपी के तहत (02.06.2020 तक): चालू वित्तीय वर्ष में 48.13 करोड़ मानव कार्य-दिवस के रोजगार का सृजन

लॉकडाउन तोड़ने वालों सावधान, आसमान से पुलिस रख रही है नजर

कोरोना वायरस की वजह से पूरे भारत में लॉकडाउन है. लेकिन कुछ लोगों कानून का उल्लंघन करने में मजा आता है. ऐसे लोगों पर कानून के रखवाले आसमान से नजर रख रहे हैं.   

लॉकडाउन तोड़ने वालों सावधान, आसमान से पुलिस रख रही है नजर

नई दिल्ली: देश में लॉकडाउन शौक से नहीं लगाया गया है. बल्कि वायरस ना फैले इसलिए मजबूरी में सरकार ने ये फैसला लिया है. इस लॉकडाउन का पालन करवाने के लिए पुलिस को भारी जद्दोजहद करनी पड़ रही है. लेकिन इसके बावजूद लोग मानने के लिए तैयार नहीं हैं. ऐसे लोगों के लिए पुलिस ने नया तरीका निकाला है. 

ड्रोन से रखी जा रही है लॉकडाउन तोड़ने वालों पर नजर
देश के कई हिस्सों में पुलिस लॉकडाउन तोड़कर घर से बाहर निकलने वालों पर ड्रोन से नजर रख रही है. यूपी के मुरादाबाद, उत्तराखंड के देहरादून, पंजाब के मोगा और केरल के कोझिकोड में पुलिस ने ड्रोन कैमरे से शहर की गलियों और सड़कों पर नजर रखनी शुरु कर दी है. 

पुलिस ने ड्रोन चलाने वालों किया हायर
इसके लिए पुलिस ने प्रोफेशनल ड्रोन संचालकों को हायर किया है. जो कि भीड़ भाड़ वाले इलाकों में सर्विलांस का काम कर रहे हैं. देहरादून में ड्रोन चलाने वालों की तीन टीमें काम कर रही हैं. वहां पर 56 लोकेशन्स को सर्विलांस पर रखा गया है. 
उधर यूपी के मुरादाबाद में ड्रोन कैमरा ना केवल वीडियो रिकॉर्डिंग कर रहा है, बल्कि लॉकडाउन तोड़ने वालों की तस्वीरें खींचकर पुलिस मुख्यालय भी भेज रहा है. जिससे कि अगर ये लोग भाग भी जाएं तो बाद में इन्हें सजा दी जा सके. 

ज्यादा शिकायत वाली जगहों पर लगाए गए हैं ड्रोन
पुलिस को जिन इलाकों से लॉकडाउन तोड़ने की ज्यादा शिकायतें मिल रही हैं. वहां पर ज्यादा निगरानी की जा रही है. हिमाचल प्रदेश की राजधानी शिमला के पहाड़ी रास्तों और गलियों में ऐसे नजर रखना बेहद मु्श्किल है. इसलिए वहां पर ड्रोन से नजर रखना मजबूरी हो गई है. वहां ड्रोन के डर से लोग घरों से निकल नहीं रहे हैं. 


कुछ ऐसा ही नजारा पंजाब के मोगा में भी है. जहां पर पुलिस पहले भी सीमा पार से तस्करी पर निगाह रखने के लिए ड्रोन का सहारा लेती थी. लेकिन अब मोगा में ड्रोन से लॉकडाउन तोड़ने वालों पर निगाह रखी जा रही है. 
केरल के कोझिकोड में भी ड्रोन का कुछ इसी तरह से इस्तेमाल किया जा रहा है.