• देश में कोविड-19 से सक्रिय मरीजों की संख्या 89,995 पहुंची, जबकि संक्रमण के कुल मामले 1,82,143: स्त्रोत-PIB
  • कोरोना से ठीक होने वाले लोगों की संख्या- 86,984 जबकि अबतक 5,164 मरीजों की मौत: स्त्रोत-PIB
  • अनलॉक 1.0- कंटेनमेंट ज़ोन के बाहर चरणबद्ध तरीके से गतिविधियों को फिर से शुरू करने की मंजूरी
  • अंतर-राज्यीय और राज्य के भीतर व्यक्तियों और सामान की आवाजाही पर कोई बंदिश नहीं होगी
  • देश भर में 10,541 क्वारंटीन केंद्र और 7,304 कोविड देखभाल केंद्र में 6,64,330 बेड उपलब्ध हैं
  • केंद्र ने राज्यों / केंद्र शासित प्रदेशों / केंद्रीय संस्थानों को 119.88 लाख एन 95 मास्क और 96.14 लाख पीपीई प्रदान किए हैं
  • रेलवे ने राज्य सरकारों से श्रमिक स्पेशल ट्रेनों के लिए योजना और समन्वय को बढ़ावा देने का अनुरोध किया
  • आईटी मंत्री ने राष्ट्रीय AI पोर्टल लॉन्च किया, जो AI से संबंधित विकास और संसाधन केन्द्र का एक वन स्टॉप डिजिटल प्लेटफॉर्म है
  • सावधान रहें: कोविड-19 जैसी बीमारी से लड़ते समय, जानकारी सबसे बड़ा हथियार है

लॉकडाउन में दिखा रहे रामायण, दूरदर्शन पर खूब आ रही है कृपा

लॉकडाउन में रामायण का प्रसारण सुबह 9-10 बजे एक एपिसोड और रात में 9-10 बजे दूसरा एपिसोड दिखाया जा रहा है. सरकार का लिया हुआ ये फैसला शानदार साबित हो रहा है. 

लॉकडाउन में दिखा रहे रामायण, दूरदर्शन पर खूब आ रही है कृपा

नई दिल्ली: 21 दिनों तक के लिए जारी लॉकडाउन के बीच लोग इस समय परिवार के साथ समय बिता रहे हैं. शूटिंग बंद होने से धारावाहिकों के भी नए एपिसोड नहीं बन पर रहे हैं, लिहाजा इस वक्त टीवी भी फुलस्क्रीन से फूल स्क्रीन हो गई है. लोगों का घर में बैठकर समय पास करना एक बड़ी चुनौती है.

इसको देखते हुए सूचना प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने प्रसिद्ध सीरियल 'रामायण' (Ramayan) के दोबारा प्रसारण की बात कही थी. अब इस प्रसारण की वजह से दूरदर्शन के लिए अच्छी खबर आई है. 

लोग बड़े चाव से देख रहे हैं रामायण
एक बार फिर 28 मार्च से दूरदर्शन यानी DD National पर रामायण सीरियल देखा जा रहा है. इसका प्रसारण सुबह 9-10 बजे एक एपिसोड और रात में 9-10 बजे दूसरा एपिसोड दिखाया जा रहा है. सरकार का लिया हुआ ये फैसला शानदार साबित हो रहा है.

इन धार्मिक टीवी शोज को दर्शकों से भरपूर प्यार मिला है. इसके साथ ही महाभारत का भी प्रसारण किया जा रहा है. दोनों ही टीवी सीरियल्स को दर्शक पूरे परिवार के साथ बड़े चाव से देख रहे है.

आसमान छू रही है TRP
टीवी सीरियल 'रामायण' को दर्शकों से मिले प्यार के चलते टीवी शो की टीआरपी (TRP) आसमान छूती हुई दिखाई दे रही हैं. रामायण ने टीआरपी के मामले में सारे रिकॉर्ड तोड़ कर शानदार रिस्पॉन्स हासिल किया है. इसका ऐलान खुद प्रसार भारती के सीईओ शशि शेखर ने किया है.

शशि शेखर ने सोशल मीडिया पर ‘रामायण’ देखने वालों को बधाई देते हुए एक ट्वीट किया है. इसी ट्वीट के जरिए प्रसार भारती के सीईओ शशि शेखर ने जानकारी दी है कि इस टीवी शो को दर्शकों से जबरदस्त रिस्पॉन्स मिला है और ये टीवी शो दूरदर्शन का हाईएस्ट टीआरपी वाला शो बन गया है. 

पीएम मोदी की देश से अपील, 5 अप्रैल को रात 9 बजे घर के सामने दीपक जलाएं

प्रसारण के समय भी रामायण ने रचा था इतिहास
शशि शेखर (Shashi Shekhar) ने ट्वीट करते हुए लिखा है, 'मुझे ये बताते हुए काफी खुशी हो रही है कि 'रामायण' साल 2015 से लेकर अब तक दूरदर्शन पर सबसे अधिक टीआरपी हासिल करने वाला शो बन गया है.' 90 के दशक में पहली बार टीवी पर प्रसारित होने वाले इस धार्मिक टीवी शो का निर्देशन रामानंद सागर ने किया था.

साल 1988 में जब इसका प्रसारण हुआ था, तब भी इस टीवी शो ने इतिहास रचा था. उस वक्त इस टीवी शो को दर्शकों का इतना प्यार मिला था कि 'रामायण' के प्रसारण के वक्त लोग घरों से बाहर नहीं निकलते थे. रामानंद सागर के निर्देशन में बने इस टीवी शो में सिर्फ राम और सीता ही नहीं, बल्कि सभी किरदारों ने लोगों के दिलों में अपनी एक अलग जगह बनाई थी.

लॉकडाउन ने सुधारी पर्यावरण की सेहत, कहीं दिख रहे पहाड़, नदियां हुईं निर्मल