'गुदड़ी के लाल' श्रीनिवास गौड़ा की बदल सकती है किस्मत, खेल मंत्रालय ने बुलाया

भारतीय इंटरनेट की दुनिया में इन दिनों श्रीनिवास गौड़ा छाए हुए हैं. उन्होंने 9.55 सेकंड में 100 मीटर की दूरी तय की है. जो कि विश्व रिकॉर्ड बनाने वाले धावक उसेन बोल्स के रिकॉर्ड 9.58 सेकेंड में 100 मीटर से बेहतर है. अब खेल मंत्रालय ने श्रीनिवास को ट्रायल के लिए बुलाया है.  

'गुदड़ी के लाल' श्रीनिवास गौड़ा की बदल सकती है किस्मत, खेल मंत्रालय ने बुलाया

नई दिल्ली: कर्नाटक के श्रीनिवास गौड़ा तब इंटरनेट जगत की सुर्खियों में छा गए जब उन्होंने भैंसों के साथ 100 मीटर की दूरी महज 9.55 सेकेंड में पूरी कर ली. वो एक 'पैडी' हैं, जो भैंसों की रेस में हिस्सा लेते हैं. खास बात ये है कि ये कारनामा श्रीनिवास ने भैसों की लगाम अपने हाथों में थामकर की.

खेल मंत्री की नजर पड़ी
श्रीनिवास गौड़ा का इंटरनेट पर वायरल हो रहा था. जिसे भाजपा के वरिष्ठ नेता और राष्ट्रीय महासचिव मुरलीधर राव ने ट्विट किया. उन्होंने लिखा कि 'भारत उठेगा और चमकेगा.. महज 9.55 सेकंड में 100 मीटर की रेस पूरा करना एक अद्भुत कारनामा है.  श्रीनिवास गौड़ा को उचित प्रशिक्षण निश्चित रूप से देश के लिए नाम कमाने में उनकी मदद करेगा.  मेरी शुभकामनाएं.  मुरलीधर राव ने अपने ट्विट में खेल मंत्री किरण रिजिजू और पीएम मोदी को टैग किया था.
जिसके बाद खेल मंत्री किरण रिजिजू के संज्ञान में ये मामला आया. जिसके बाद उन्होंने जानकारी दी कि उन्होंने स्पोर्ट्स अथॉरिटी ऑफ इंडिया(SAI) के अधिकारियों को आदेश दिया है कि वह श्रीनिवास गौड़ा का ट्रायल लें.

बदल सकती है श्रीनिवास गौड़ा की किस्मत
ताजा समाचार मिलने तक स्पोर्ट्स अथॉरिटी ऑफ इंडिया(SAI) के अधिकारियों ने श्रीनिवास रेड्डी से संपर्क कर भी लिया है. उनकी यात्रा के लिए रेल का टिकट बुक किया जा चुका है. श्रीनिवास सोमवार को स्पोर्ट्स अथॉरिटी ऑफ इंडिया(SAI) के कार्यालय पहुंचेंगे. जहां पर SAI के अधिकारी और कोच उनका ट्रायल कराएंगे.

दक्षिण कर्नाटक के निवासी हैं श्रीनिवास गौड़ा
श्रीनिवास की उम्र 28 साल है. वह दक्षिण कर्नाटक के मूदाबिदरी जिले के रहने वाले हैं. उन्होंने कर्नाटक के परंपरागत कंबाला रेस में हिस्सा लिया था. जो कि भैंसों की लगाम थामकर कीचड़ मे दौड़ी जाती है. इसी दौड़ में श्रीनिवास ने 100 मीटर की दूरी महज 9.55 सेकेंड में पूरी कर ली. जबकि जमैका के धावक उसेन बोल्ट का वर्ल्ड रिकॉर्ड 9.58 सेकेंड का है.
खास बात ये है कि श्रीनिवास ने यह दौड़ कीचड़ से भरे रास्ते पर हाथ में भैसों की लगाम थामकर लगाई. फिर भी वह उसेन बोल्ट से 0.03 सेकेंड ज्यादा तेज निकले.

अब देखना है कि आरामदायक रेसिंग ट्रैक पर श्रीनिवास की स्पीड कितनी रहती है. सोमवार को उनके ट्रायल पर पूरे भारत की नजर रहेगी.

ये भी पढ़ें--टिक टॉक का नशाः उल्लू ने कटवा दिया 25 हजार का चालान, जानिए कैसे

ये भी पढ़ें--काशी में धूम मचा रही है सोफिया

ये भी पढ़ें--बंगाल में मत्स्य उत्पादन को बढ़ावा देने के लिए चलाई जाएगी एंबुलेन्स