यह कोई मीम नहीं साहब, बल्कि प्याज केक है

एक समय में प्याज की कीमत बाजार में ₹100 से ₹160 किलो तक पहुंच चुकी थी. प्याज को लेकर सोशल मीडिया में कई तरह के मीम बनाए गए. हमने कई ऐसे वीडियो भी देखे जिसमें कहीं प्याज की माला बनाई गई तो कहीं प्याज दे कर प्यार का इजहार करने का भी सीन देखने को मिला. लेकिन अब प्याज की एक नई रेसिपी बाजार में आ रही है.

यह कोई मीम नहीं साहब, बल्कि प्याज केक है

कोलकाता: क्रिसमस के मौके पर दुनिया भर के बाजारों में केक की दुकानों में अलग-अलग वेरायटी और फ्लेवर के केक दिखाई देते हैं. अपने क्रिसमस ट्री को सजाने के लिए तरह-तरह की सामग्री और अन्य वस्तुओं को लेकर लोग व्यस्त हो जाते हैं. 

किस तरह से और कितनी सुंदरता से अपने घर को क्रिसमस डे के अवसर पर सजाएं, यह सबके जेहन में होता है. और जब सजाने की बात आती है तो क्रिसमस के केक को हम कैसे भूल सकते हैं. अलग-अलग वेरायटी के केक कोई नई बात तो नहीं है, लेकिन महंगाई के इस बाजार में प्याज ने जिस तरह से जनता को रुलाया है इसको लेकर प्याज के विषय में भी सोचना अर्थ जागरण के हिसाब से जरूरी हो जाता है.

यह क्रिसमस केक है या प्याज लहसुन

प्याज की महत्ता को देखते हुए अब इसका उपयोग केक बनाने में भी किया जा रहा है या यूं कहें कि अब क्रिसमस केक में प्याज ने अपनी जगह बना ली है. लेकिन दिलचस्प बात तो यह है कि यहां प्याज़ असली में इस्तेमाल नहीं किया जा रहा है, बल्कि प्याज़ के डिज़ाइन को देकर एक केक बनाया गया जा रहा है. ऐसा कर दिखाया है सिलीगुड़ी के एक बेकरी शॉप के मालिक ने. उसने प्याज की तरह ही एक केक बना डाला और सिर्फ प्याज ही नहीं बल्कि  लहसुन अदरक और मिर्च का भी डिजाइन उपलब्ध कराया जा रहा है. उसे केक के पास रखा गया है. ये खास प्रयोग पश्चिम बंगाल के सिलिगुड़ी में किया गया है.

क्यों बना रहे इस तरह केक प्याज

प्याज के थीम का बना हुआ यह अनोखा केक जिसकी सुंदरता देखने में बनती है, इसको बनाने वाले अभिजीत पाल ने बताया प्याज हमारा हर रोज इस्तेमाल किए जाने वाला एक अहम खाद्य पदार्थ है. इसका दाम जिस तरह से आसमान छू रहा है उसके चलते इस तरह का मॉडल बनाने का हमारा एक ही उद्देश्य है और वह यह कि

हम अपनी बात सरकार तक पहुंचा सकें ताकि प्याज के दामों में स्थिरता लाया जाए. इस अनोखे केक को देखने के लिए जनता की भीड़ आनी भी शुरू हो गई है.

अन्य मॉडलों में भी है केक उपलब्ध, जो चाहिए ले लो

इसके  साथ जो अन्य केक के मॉडल बनाए गए हैं, उनमें बंगाल सफारी की तरह दिखने वाला भी एक केक बनाया गया है और साथ ही Chandrayaan-2 के मॉडल का भी एक केक बनाया गया है.

इस केक को बनाने वाले विश्वरंजन दास ने बताया भारत में बंगाल सफारी जैसा इतना सुंदर प्रोजेक्ट और कहीं नहीं है. हर साल क्रिसमस डे के दिन हम लोग कुछ नया करने के बारे में सोचते हैं. इस साल हमने बंगाल सफारी और chandrayaan-2 को ध्यान में रखते हुए यह केक के मॉडल बनाए. हालांकि तस्वीरों में इन केक को देखकर आप अंदाजा लगा ही सकते हैं अगर यह केक आपके सामने आ जाएं तो आप इनको खाएंगे या फिर अपने घर को सजाने के लिए इन केक को लेकर के जाएंगे.