व्हाइट हाउस ने पहले किया फॉलो फिर अनफॉलो, अब देनी पड़ी सफाई

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप कब क्या बोल देंगे, ये खुद उन्हें नहीं पता होता है. ठीक वैसे ही अमेरिका का व्हाइट हाउस कब, किसे ट्विटर पर फॉलो करने लगेगा और कब अनफॉलो कर देगा ये खुद उसे नहीं पता.  

व्हाइट हाउस ने पहले किया फॉलो फिर अनफॉलो, अब देनी पड़ी सफाई

नई दिल्ली: अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कोरोना संक्रमण से बचने के लिए भारत के सामने हाथ फैलाये थे और भारत ने अपने ह्रदय की विशालता दिखाते हुए अमेरिका की मदद भी की थी. इसके बाद व्हाइट हाउस ने पीएम मोदी, राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद समेत भारत के कई सरकारी ट्विटर एकाउंट्स को फॉलो किया था जिन्हें अब अनफॉलो कर दिया गया है. व्हाइट हाउस के इस कृत्य पर दुनियाभर में लोगों ने उसे खूब ट्रोल किया है. अब अमेरिका ने भारत के गुस्से से बचने के लिए सफाई पेश की है. 

जानिए व्हाइट हाउस ने क्या दिया बयान

व्हाइट हाउस की ओर से कहा गया है कि जब भी अमेरिकी राष्ट्रपति किसी देश की यात्रा पर जाते हैं, उस वक्त व्हाइट हाउस की ओर से उन देशों के आधिकारिक ट्विटर अकाउंट को फॉलो किया जाता है. फरवरी के आखिरी वक्त में जब डोनाल्ड ट्रंप भारत आए थे, तभी व्हाइट हाउस ने पीएम नरेंद्र मोदी समेत अन्य ट्विटर हैंडल को फॉलो किया था.  व्हाइट हाउस ने कहा कि इसके बाद जब यात्रा खत्म हो जाती है तो उस देश के पहले की तरह अनफॉलो कर दिया जाता है.

इनको किया था फॉलो

आपको बता दें कि कुछ दिन पहले अमेरिका के व्हाइट हाउस ने पीएम नरेंद्र मोदी समेत कई ट्विटर एकाउंट को फॉलो किया था. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, प्रधानमंत्री कार्यालय, भारतीय दूतावास, भारत में अमेरिकी दूतावास जैसे ट्विटर हैंडल को फॉलो किया गया था.

मात्र 13 लोगों को फॉलो करता है व्हाइट हाउस

आपको बता दें कि व्हाइट हाउस का ट्विटर हैंडल अब मात्र 13 लोगों को फॉलो करता है, जो कि अमेरिकी सरकार के शीर्ष लोगों के हैंडल हैं. कई बार अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप आधारहीन बातें भारत के बारे में कह चुके हैं इसलिये आसानी से उनके कथन पर लोगों को अमेरिकी राष्ट्रपति भरोसा नहीं होता है. उन्होंने कश्मीर मुद्दे पर मध्यस्थता करने की बात कही थी लेकिन भारत के भारी विरोध के बाद उन्हें मुँह की खानी पड़ी थी.

ये भी पढ़ें- बॉलीवुड सुपरस्टार ऋषि कपूर ने दुनिया को अलविदा कहा

उल्लेखनीय है कि डोनाल्ड ट्रंप अपने पहले आधिकारिक दौरे पर फरवरी में भारत आए थे तब उनका परिवार भी उनके साथ था. यहां अहमदाबाद, आगरा और नई दिल्ली में ट्रंप का शानदार स्वागत किया गया था.