close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

ब्लूमबर्ग के सर्वे में भारत निवेश के लिए बेहतर, 10 में से 7 मानकों में भारत नंबर-1

अपने संबोधन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अमेरिकी कंपनियों को भारत आने का न्योता दिया. उन्होंने कहा कि 'हिंदुस्तान आपका इंतजार कर रहा यदि आप बड़े बाजार में निवेश करना चाहते हैं तो भारत आइये.'

ब्लूमबर्ग के सर्वे में भारत निवेश के लिए बेहतर, 10 में से 7 मानकों में भारत नंबर-1

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 27 सितंबर तक अमेरिका के दौरे पर हैं. पीएम मोदी का ये 7 दिवसीय दौरा बेहद ही खास चल रहा है. पूरी दुनिया टकटकी लगाकर हिंदुस्तान के प्रधानमंत्री का दम देख रही है. ऐसा पहली बार हुआ जब पीएम मोदी और ट्रंप एक साथ इस तरह से मंच साझा किया. अपने दौरे के पांचवे दिन पीएम मोदी ब्लूम्बर्ग के CEO मिचेल ब्लूम्बर्ग से मिलें. ब्लूमबर्ग बिजनेस फोरम को पीएम नरेंद्र मोदी ने संबोधित किया.

न्यूयॉर्क में ब्लूमबर्ग बिजनेस फोरम के कार्यक्रम में 200 टॉप बिजनेस लीडर मौजूद रहे. अपने संबोधन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अमेरिकी कंपनियों को भारत आने का न्योता दिया. उन्होंने कहा कि 'हिंदुस्तान आपका इंतजार कर रहा यदि आप बड़े बाजार में निवेश करना चाहते हैं तो भारत आइये.'

व्यापार के लिए भारत आने का दिया न्योता

न्यूयार्क से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि कॉरपोरेट कर में कटौती निवेश आमंत्रित करने वाला कदम है. ऐसे में दुनिया के लिए भारत में सुनहरा मौका है. यदि आप रीयल एस्टेट क्षेत्र में निवेश करना चाहते हैं तो भारत आइये; भारत बुनियादी ढांचा क्षेत्र में भारी-भरकम निवेश कर रहा है.

मंच पर मौजूद मोदी ने बताया कि हमने (भारत) पांच साल में अर्थव्यवस्था में 1,000 अरब डालर जोड़े हैं और अब हम भारत को 5,000 अरब डॉलर की अर्थव्यवस्था बनाने का लक्ष्य लेकर चल रहे हैं. लोकतंत्र, राजनीतिक स्थिरता, सुनिश्चित नीति, स्वतंत्र न्यायपालिका निवेश को गारंटी देती हैं.

'भारत में जारी रहेगी कर सुधार की प्रक्रिया'

उन्होंने कहा कि भारत को पिछले पांच साल में 286 अरब डॉलर का प्रत्यक्ष विदेशी निवेश (एफडीआई) मिला है, जो इससे पिछले 20 सालों में मिले एफडीआई का आधा है. मोदी ने अमेरिकी उद्योग जगत से कहा, 'आपकी इच्छाएं और हमारे सपने पूरी तरह से मेल खाते हैं. आपकी प्रौद्योगिकी और हमारी प्रतिभा दुनिया को बदल सकती है.'

भारतीय पीएम नरेंद्र मोदी ने बताया कि नवीकरणीय ऊर्जा के 175 गीगावाट के लक्ष्य में से 120 गीगावाट हासिल कर लिया गया. निकट भविष्य में 450 गीगावाट का लक्ष्य है.

पीएम ने अपने लक्ष्य को दोहराते हुए एक बार फिर कहा कि अर्थव्यवस्था को 5 ट्रिलियन डॉलर तक पहुंचाएंगे, लक्ष्य को हासिल करने के लिए हम सक्षम हैं. 

इस दौरान पीएम मोदी ने इस बात पर जोर दिया कि भारत में तेजी से विकास हो रहा है. उन्होंने कहा कि इन्फ्रास्ट्रक्चर पर अब तक का सबसे ज्यादा निवेश हो रहा है, इन्फ्रास्ट्रक्चर पर 100 लाख करोड़ तक खर्च करेंगे. हमने ग्राउंड लेवल पर व्यवस्थाओं में सुधार किया है. ब्लूमबर्ग के सर्वे में भारत निवेश के लिए बेहतर है, 10 में से 7 मानकों में भारत नंबर-1 है