close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

दुनिया भर में पीएम मोदी का डंका, अमेरिका में मिला 'ये' बड़ा सम्मान

मोदी ने इस अवॉर्ड को लेते वक्त उन तमाम लोगों को भी याद किया जिनमें से किसी को शौचालय के लिए अपनी बकरियां बेचनी पड़ी, तो किसी महिला को अपना मंगलसूत्र बेचना पड़ा. यहां तक कि रिटायर्ड शिक्षकों ने अपनी पूरी पेंशन दान में दे दी.

दुनिया भर में पीएम मोदी का डंका, अमेरिका में मिला 'ये' बड़ा सम्मान

नई दिल्ली: दुनिया भर में हिंदुस्तान के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का डंका बज रहा है. सबसे ताकतवर मुल्क की सरजमीं पर मोदी का जादू ऐसा छाया है कि अमेरिका में भी मोदी-मोदी की गूंज सुनाई दे रही है यही वजह है अंतर्राष्ट्रीय मंच पर मोदी के नाम एक और कामयाबी जुड़ गई है.

पीएम मोदी को न्यूयॉर्क में स्वच्छ भारत मिशन के लिए ग्लोबल गोलकीपर अवॉर्ड से सम्मानित किया गया. मोदी को ये सम्मान बिल और मेलिंडा गेट्स फाउंडेशन की तरफ से मिला. और फाउंडेशन के को-चेयरपर्सन बिल गेट्स ने पीएम मोदी को न्यूयॉर्क में इस सम्मान से नवाजा. इस मौके पर पीएम ने कहा कि ये अवॉर्ड देश के उन 130 करोड़ लोगों को समर्पित है जिन्होंने स्वच्छ भारत मिशन को एक जनआंदोलन में बदल दिया. प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि राष्ट्रपिता महात्मा गांधी जी ने जो सपना देखा था वो पूरा होने जा रहा है. इसके साथ ही उन्होने कहा कि गांधी की 150वीं जयंती पर ये अवॉर्ड दिया जाना मेरे लिए व्यक्ति तौर पर काफी मायने रखता है.

मंच पर पीएम मोदी हो गए भावुक

पीएम मोदी अवॉर्ड लेते वक्त मंच पर भावुक भी हो गए. उन्होंने कहा कि शौचालय होने का मतलब क्या होता है इसका दर्द वही जानता है जो इस सुविधा से कल तक वंचित था. इस मिशन ने सबसे ज्यादा लाभ देश के गरीब को, देश की महिलाओं को पहुंचाया है.

मोदी ने इस अवॉर्ड को लेते वक्त उन तमाम लोगों को भी याद किया जिनमें से किसी को शौचालय के लिए अपनी बकरियां बेचनी पड़ी, तो किसी महिला को अपना मंगलसूत्र बेचना पड़ा. यहां तक कि रिटायर्ड शिक्षकों ने अपनी पूरी पेंशन दान में दे दी.

मोदी ने ऐसी तमाम स्कूली बच्चियों का भी जिक्र किया जो स्कूल में शौचालय नहीं होने की वजह से उन्हें पढ़ाई छोडकर घर पर बैठने को मजबूर होना पड़ता है. लेकिन मोदी की वजह से आज तस्वीर बदल चुकी है.

'सिंगल यूज प्लास्टिक से मिलेगा छुटकारा'

सिंगल यूज प्लास्टिक ने जिस तरह भारत की सूरत बिगाड़ कर रख दी है. पीएम मोदी का संकल्प ही है कि आज लोग जागरुक होकर सिंगल यूज प्लास्टिक से धीरे-धीरे किनारा कर रहे हैं. मोदी ने एक बार फिर दोहराया कि साल 2022 तक भारत में सिंगल यूज प्लास्टिक से मुक्ति का अभियान तेजी से चल रहा है. और ये आने वाले वक्त में पूरी तरह बंद हो जाएगा.

मोदी ने अपने भाषण में बिल एंड मेलिंडा गेट्स फाउंडेशन की जमकर तारीफ की, और स्वच्छ भारत मिशन में अहम भागीदार के लिए धन्यवाद भी दिया.

मोदी ने इस बात का भी जिक्र किया कि बिल एंड मेलिंडा गेट्स फाउंडेशन. आज स्वच्छ भारत मिशन से लाखों जिंदगियों को बचाने का माध्यम बना है. पीएमने विश्व स्वास्थ्य संगठन यानी WHO की उस रिपोर्ट का भी जिक्र किया जिसमें स्वच्छ भारत की वजह से 3 लाख जिंदगियों को बचाया जा सका.

मोदी को क्यों मिला सम्मान?

आपको बताते दें, बिल एंड मेलिंडा गेट्स फाउंडेशन द्वारा दिए जाना वाला ग्लोबल गोलकीपर अवॉर्ड एक विशेष सम्मान है. जो एक ऐसे राजनेता को दिया जाता है जिसने वैश्विक लक्ष्यों को हासिल करने की दिशा में देश या फिर वैश्विक स्तर पर प्रभावशाली नेतृत्व का परिचय दिया हो. पीएम मोदी ने 2 अक्टूबर 2014 को देश में स्वच्छ भारत मिशन की शुरुआत की थी. इस मिशन के तहत अब तक देश में 9 करोड़ शौचालय का निर्माण कराया जा सका है.