• देश में कोविड-19 से सक्रिय मरीजों की संख्या 1,10,960 पहुंची, जबकि संक्रमण के कुल मामले 2,26,770: स्त्रोत-PIB
  • कोरोना से ठीक होने वाले लोगों की संख्या- 1,09,462 जबकि अबतक 6,348 मरीजों की मौत: स्त्रोत-PIB
  • अंतर्राष्ट्रीय टीकाकरण गठबंधन के लिए भारत ने 15 मिलियन डॉलर देने का वचन दिया
  • केंद्र ने 4 जून, 2020 को राज्यों / संघ राज्य क्षेत्रों को जीएसटी मुआवजे के तौर पर 36,400 करोड़ रुपया जारी किया
  • कोविड-19 की रोकथाम हेतु MoHFW ने निवारक उपायों पर एसओपी जारी किया
  • ट्यूलिप– सभी यूएलबीऔर स्मार्ट शहरों में नए स्नातकों को अवसर प्रदान करने के लिए शहरी अध्ययन प्रशिक्षण कार्यक्रम की शुरूआत
  • स्वास्थ्य मंत्री ने दिल्ली को आक्रामक निगरानी, ​​संपर्क का पता लगाने और कड़े नियंत्रण कार्यों के साथ जांच बढ़ाने की आवश्यकता जोर
  • आइए कोविड-19 के खिलाफ भारत की लड़ाई को मजबूत करें और सरकार द्वारा जारी किए गए सभी दिशानिर्देशों का पालन करें
  • मनरेगा के तहत मजदूरी और सामग्री दोनों के ही लंबित बकाये को समाप्त करने के लिए राज्यों को 28,729 करोड़ रुपये जारी किए गए
  • पीएमजीकेपी के तहत (02.06.2020 तक): चालू वित्तीय वर्ष में 48.13 करोड़ मानव कार्य-दिवस के रोजगार का सृजन

मंत्रिमंडल विस्तार पर सीएम शिवराज की नजर, अगस्त में 26 सीटों पर उपचुनाव संभव

मध्यप्रदेश में 15 महीने बाद ही कांग्रेस की सरकार को उखाड़ फेंकने वाले शिवराज सिंह चौहान की नजर अब अपने मंत्रिमंडल के विस्तार पर है. माना जा रहा है कि जल्द ही 24 विधायकों को मंत्री बनाया जा सकता है.

मंत्रिमंडल विस्तार पर सीएम शिवराज की नजर, अगस्त में 26 सीटों पर उपचुनाव संभव

भोपाल: मध्यप्रदेश में शिवराज सिंह चौहान चौथी बार मुख्यमंत्री बन चुके हैं. 15 सालों तक लगातार सत्ता चलाने वाली भाजपा ने मात्र 15 महीने में ही कांग्रेस को सत्ता से बाहर कर दिया और पुनः राज्य में सरकार बना ली. अब मुख्यमंत्री शिवराज सिंह के लिए मन्त्रिमण्डल विस्तार बड़ी चुनौती है.

24 सीटों पर उपचुनावों में जीत हासिल करना बड़ी चुनौती

प्रदेश में 24 विधानसभा सीटों पर होने वाले उप चुनाव अब अगस्त के बाद होने की संभावना है. जौरा और आगर मालवा विधानसभा सीट के उप चुनाव 21 जून तक कराए जाना था, लेकिन फिलहाल इन सीटों पर उप चुनाव कराए जाने के लिए बनाए गए निर्वाचन अधिकारी कोरोना महामारी से जनता के बचाव में लगे हैं. निर्वाचन अधिकारी को सामान्य स्थिति में चुनाव कराए जाने में दो महीने का समय लगता है.

उल्लेखनीय है कि 22 सीटों पर विधानसभा उप चुनाव 20 सितंबर तक कराया जाना है. अभी तक यह माना जा रहा था कि लाॅक डाउन खुलने के बाद चुनाव आयोग जहां विधानसभा में उप चुनाव कराए जाना है, वहां के रिटर्निंग आफिसर से चर्चा कर चुनाव की तारीखों की घोषणा कर सकता है.

कोरोना ने तोड़ी देशभर के किसानों की कमर, न कट रही फसल, न मंडी पहुंच रहा अनाज

मंत्रियों के बिना सीएम शिवराज को हो रही हैं मुश्किलें

मध्यप्रदेश में शिवराज सिंह चौहान को कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ने में तकलीफ़ों का सामना करना पड़ता है. सभी विभागों का अकेले कार्यभार संभालने से उन पर बोझ भी बढ़ रहा है. करीब एक पखवाड़ा पहले मुख्यमंत्री बने शिवराज सिंह चौहान अकेले ही करीब ढाई दर्जन मंत्रियोें का काम कर रहे हैं.

मंत्रिमंडल विस्तार पर नजर

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के मंत्रिमंडल में विधायक संख्या के 15 फीसदी यानी 29 मंत्री हो सकते हैं. कोराना संकटकाल में स्वास्थ्य, चिकित्सा शिक्षा, नगरीय प्रशासन, होम, खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति, पंचायत एवं ग्रामीण विकास, ऊर्जा, श्रम समेत करीब एक दर्जन ऐसे महकमे हैँ, जिनमें समन्वय और प्रशासन चुस्ती परम आवश्यक है.

दिन रात अकेले जूझ रहे सीएम शिवराज

कोरोना वायरस से मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान अकेले जूझ रहे हैं. वर्तमान मेे अकेले मुख्यमंत्री समूची सरकार की तरह दिन-रात जूझ रहे हैं. तंत्र का आलम यह है कि 21 के टोटल लॉक डाउन में भी राजधानी भोपाल समेत ज्यादातर शहरोें और कस्बों में इसका उल्लंघन होता रहा. इससे कोरोना संकमण के फैलाव की आशंका होने के चलते अब मंगलवार से सख्त लॉक डाउन करने के निर्देश दिए गए हैं.

मध्य प्रदेश का सियासी गणित, यहां पढ़िए असली कहानी