close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

राम मंदिर पर बड़बोले नेताओं को पीएम मोदी ने दी ये नसीहत

पीएम मोदी ने जम्मू-कश्मीर के मसले पर भी खुलकर बात की. पीएम ने विपक्षी नेताओं के उन बयानों को आड़े हाथों लिया, जिनका इस्तेमाल बीते दिनों पाकिस्तान ने संयुक्त राष्ट्र में किया था.

राम मंदिर पर बड़बोले नेताओं को पीएम मोदी ने दी ये नसीहत

महाराष्ट्र में सियासी सरगर्मी बढ़ने का सिलसिला तेज हो गया है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को महाराष्ट्र में विधानसभा चुनाव का शंखनाद कर दिया. नासिक की रैली में पीएम के निशाने पर विपक्षी नेता रहे. नासिक की धरती से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अयोध्या मुद्दे पर भी बोले. पीएम मोदी ने राममंदिर पर आये दिन बयानबाजी करने वाले नेताओं को नसीहत देते हुए कहा कि लोगों को अनाप-शनाप बयानबाजी करने की बजाय देश की न्याय व्यवस्था पर भरोसा रखना चाहिए.

'आंख बंद करके कुछ भी अनाप-शनाप न बोलें'

पीएम मोदी ने कहा, 'कुछ बड़बोले लोग अयोध्या राम मंदिर को लेकर अनाप-शनाप बयान देना शुरू कर देते हैं, देश के सभी लोगों के मन में सुप्रीम कोर्ट का सम्मान होना जरूरी है. मामला सुप्रीम कोर्ट में चल रहा है. कोर्ट में सभी लोग अपनी बात रख रहे हैं. ऐसे में ये बयान बहादुर कहां से आ गए? मैं ऐसे बयान बहादुर लोगों को हाथ जोड़कर निवेदन करता हूं कि भगवान के लिए, भगवान राम के लिए भारत की न्याय प्रणाली में विश्वास रखें और आंख बंद करके कुछ भी अनाप-शनाप न बोलें.'

साथ ही पीएम मोदी ने जम्मू-कश्मीर के मसले पर भी खुलकर बात की. पीएम ने विपक्षी नेताओं के उन बयानों को आड़े हाथों लिया, जिनका इस्तेमाल बीते दिनों पाकिस्तान ने संयुक्त राष्ट्र में किया था. इस दौरान प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि देश जम्मू-कश्मीर के सपनों को साकार करने के लिए चल पड़ा है.

'अब हर हिंदुस्तानी कहेगा, हमें नया कश्मीर बनाना है'

प्रधानमंत्री ने कहा, 'जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के समाधान के लिए नई कोशिश करेंगे। देश उस सपनों को साकार करने की दिशा में चल पड़ा है। कल तक हम कहते थे- कश्मीर हमारा है, अब हर हिंदुस्तानी कहेगा, हमें नया कश्मीर बनाना है, हर कश्मीरी को गले लगाना है और हमें वहां फिर से स्वर्ग बनाना है।'

मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस की महाजनादेश यात्रा के समापन के मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक ओर जहां अपनी सरकार की दूसरी पारी के 100 दिन के कामकाज को लेकर कहा कि इस पहले शतक में 'प्रॉमिस है, परफॉर्मेंस है और डिलिवरी' है. तो मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस की भी जमकर पीढ़ थपथप्पाई. पीएम मोदी ने कहा कि फडणवीस सरकार में बीते पांच साल में राज्य को स्थिरता, विकास, कानून व्यवस्था का विश्वास मिला है. इसके साथ ही आधुनिक इन्फ्रास्ट्रक्चर और राज्य की सांस्कृतिक भव्यता को मान-सम्मान मिला है.

इस मौके पर पीएम मोदी ने विरोधी दलों पर भी खूब निशाना साधा. पीएम मोदी ने आरोप लगाया कि महाराष्ट्र को जिस रफ्तार से आगे बढ़ना चाहिए था पहले की सरकारों के वक्त में वो उतनी रफ्तार से आगे नहीं बढ़ पाया.

महाराष्ट्र में इसी साल विधानसभा के चुनाव होने है. फिलहाल महाराष्ट्र में बीजेपी-शिवसेना की सरकार है. हालांकि सीट बंटवारे को लेकर दोनों के बीच तनाव की खबरें भी है. लेकिन दोनों पार्टियों के नेता अभी ज्यादा खुलकर बोलने से बच रहे है.

गौरतलब है कि साल 2014 में भी बीजेपी और शिवसेना के बीच सीट बंटवारे को लेकर बात बिगड़ गई थी. जिसके बाद दोनों दलों ने अलग-अलग चुनाव लड़ा था. अलग-अलग चुनाव लड़ने से बीजेपी जहां महाराष्ट्र में बड़े भाई की भूमिका में उभरी तो गठबंधन में शिवसेना का कद भी घट गया. ऐसे में इस बार के चुनाव में कई दिलचस्प मोड़ सामने आ सकते हैं.