गुरु नानक जयंति की धूम! प्रकाश पर्व पर जगमग हुआ पूरा देश

पूरा देश प्रकाश पर्व को बड़े ही धूम-धाम से मना रहा है. हर तरफ जगमग और उत्सव का माहौल है. आइए आपको बताते हैं कि कहां कैसे-कैसे गुरू पर्व मनाया जा रहा है.

गुरु नानक जयंति की धूम! प्रकाश पर्व पर जगमग हुआ पूरा देश

नई दिल्ली: देश और दुनिया आज प्रकाश पर्व मना रही है. सिख धर्म के संस्थापक गुरु नानकजी की जयंति को प्रकाश पर्व या गुरु पर्व के तौर पर मनाया जाता है. इस बार का प्रकाश पर्व कुछ खास है. आज गुरु नानकजी की 550वीं जयंति है. इस अवसर पर पूरे देश के गुरुद्वारों में खास आयोजन किए जा रहे हैं.

गुरुद्वारों में अरदासों का दौर जारी

रौशनी से जगमगाए गुरुद्वारों में अरदासों का दौर जारी है. आज 'पंज प्यारे की अगुवाई में तमाम जगहों पर 'नगर कीर्तन निकाले जाते हैं जिसमें बड़ी संख्या में श्रद्धालु भाग लेते हैं और भजन गाते हैं. हर तरफ गुरबानी का स्वर गूंजता है. गुरु नानक जयंती के दिन सिख समुदाय के लोग 'वाहे गुरु, वाहे गुरु' जपते हुए सुबह-सुबह प्रभात फेरी निकालते हैं. गुरुद्वारे में शबद-कीर्तन करते हैं, रुमाला चढ़ाते हैं, शाम के वक्त लोगों को लंगर खिलाते हैं. गुरु पर्व के दिन सिख धर्म के लोग अपनी श्रृद्धा के अनुसार सेवा करते हैं और गुरु नानक जी के उपदेशों यानी गुरुवाणी का पाठ करते हैं.

1). सुल्तानपुर लोधी भव्य आयोजन

सुल्तानपुर लोधी में खास कार्यक्रम का आयोजन किया गया है. राष्ट्रपति कोविंद सुल्तानपुर लोधी आएंगे और माथा टेकेंगे. यहां 30 लाख श्रद्धालुओं के पहुंचने की उम्मीद है. पावन धरती सुल्तानपुर लोधी में संगत सेवा कर रहे हैं वहीं गुरुओं का सिमरन भी किया जा रहा है. खास तौर पर लड़कियां और महिलाएं कीर्तन कर रहीं है.

2). करनाल में विशाल समागम

करनाल में गुरु नानक देव जी के 550 में प्रकाश पूर्व को लेकर निर्मल कुटिया सेक्टर 12 में आज गुरु ग्रंथ साहब जी के 52 अखंड पाठ आरंभ हुए. एक विशाल समागम का आयोजन होगा, कीर्तन कथा वाचक पहुंचकर संगत को निहाल करेंगे वही गुरु का लंगर भी लगातार चल रहा है.

3). हिमाचल में रंगबिरंगा माहौल

हिमाचल प्रदेश के अलग अलग जिलों से आये छात्र चंबा में अपनी शिक्षा ग्रहण कर रहे है. स्कूली बच्चों ने श्री गुरु नानक देव महाराज जी के 550वें प्रकाशोत्स्व पर उनकी जीवनी के बारे बताया.

4). दिल्ली हुई जगमग

गुरु पर्व को लेकर एक नगर कीर्तन दिल्ली के शीश गंज गुरुद्वारा से होते हुए गुरुद्वारा नानक प्याओ तक निकाला गया इस नगर कीर्तन में सबसे पहले पंच प्यारे चल रहे थे. उसके बाद गुरु की पालकी और पीछे कीर्तन करते लोग जा रहे थे. नगर कीर्तन का मकसद गुरु नानक देवजी के प्रेम भाईचारे का उपदेश जनता के बीच में पहुंचाना होता है.

5). मोतिहारी में धूम

गुरुनानक देव की 550 जयन्ति मोतिहारी में धुमधाम से मनाया जा रहा है. सिख धर्म से जुड़े लोगों ने मोतिहारी के ज्ञानबाबू चौक गुरुद्वारा से शोभा यात्रा निकाली. जिसमें बड़ी संख्या में महिला और पुरुषों ने भाग लिया. शोभायात्रा नगर के प्रमुख मार्गों से गुजरी. सभी धर्म के लोगों ने शोभायात्रा का स्वागत किया.

6). पावटा साहिब में नगरकीर्तन

550वें प्रकाशोत्सव पर पावटा साहिब में नगरकीर्तन का आयोजन किया गया है. नगरकीर्तन में हजारों की संख्या में श्रद्धालु पहुंचे.

7). फतेहगढ़ साहिब में उत्सव

श्री गुरु नानक देव जी के 550वें प्रकाश पर्व को फतेहगढ़ साहिब में ऐतिहासिक गुरुद्वारा पातशाही छेंवी में भी नगर कीर्तन निकाला गया.

आज जो जत्था पाकिस्तान करतारपुर कॉरिडोर दर्शन करने जाएगा. उनसे पाकिस्तान की तरफ से कोई फीस नहीं ली जाएगी. ज़ी हिन्दुस्तान के तमाम पाठकों को गुरु पर्व की हार्दिक शुभकामनाएं.