हत्या के आरोपी ओलंपिक पदक विजेता सुशील कुमार के खिलाफ गैर जमानती वारंट, समझिये क्या है पूरा मामला

पहलवान सागर की मौत के मामले में दिल्ली पुलिस को पहलवान सुशील कुमार की तलाश है, जो फरार चल रहे हैं. 

Written by - Adarsh Dixit | Last Updated : May 15, 2021, 10:15 PM IST
  • पुलिस ने कुछ दिनों पहले ही जारी किया था लुकआउट
  • पहले भी सुशील कुमार पर लग चुके हैं गंभीर आरोप
हत्या के आरोपी ओलंपिक पदक विजेता सुशील कुमार के खिलाफ गैर जमानती वारंट, समझिये क्या है पूरा मामला

नई दिल्ली: हिंदुस्तान को ओलंपिक खेलों में दो बार पदक दिलाने वाले सुशील कुमार को इस समय दिल्ली पुलिस जोरों से तलाश कर रही है. दिल्ली पुलिस ने ओलंपिक पदक विजेता पहलवान सुशील कुमार के खिलाफ बड़ी कार्रवाई करते हुए गैर जमानती वारंट (NBW) जारी किया है.

पहलवान की हत्या करवाने का आरोप

गौरतलब है कि पहलवान सागर की मौत के मामले में दिल्ली पुलिस को पहलवान सुशील कुमार की तलाश है, जो फरार चल रहे हैं. पहलवान सागर राणा की हत्या के मामले में दिल्ली पुलिस की टीम करना चाहती है सुशील कुमार से पूछताछ, लेकिन वो पिछले काफी दिनों से फरार हैं.

समझिए पूरा मामला

दरअसल सुशील कुमार भी दिल्ली की छत्रसाल स्टेडियम में ही पहलवानी के गुर सीखते थे. उन्हें आज भी देश के कई युवा पहलवान अपनी प्रेरणा मानते हैं और उनकी पहलवान बनकर देश को ओलंपिक मेडल दिलाने की मेहनत करते हैं.

सुशील कुमार पर आरोप है कि उन्होंने किसी द्वेष के चलते अपने जूनियर पहलवान सागर राणा की हत्या करवाई. कुछ लोगों का तो ये भी कहना है कि सुशील को भय था कि कहीं छत्रसाल स्टेडियम से निकलकर कोई पहलवान उनसे भी ज्यादा सफल न हो जाये और उनके मुकाम को हासिल कर ले, इसी जलन के कारण उन्होंने सागर राणा की हत्या की साजिश रची. हालांकि ये आरोप मृत सागर राणा के परिजनों ने लगाया है.

पुलिस के मुताबिक जूनियर पहलवान सागर राणा के साथ हुई मारपीट और बाद में उसकी हत्या के दौरान सुशील कुमार और उसके कई साथी मौके पर मौजूद थे. मौके पर मौजूद चश्मदीदों और CCTV फुटेज के बाद दिल्ली पुलिस सुशील कुमार को तलाश रही है.

पुलिस ने कुछ दिनों पहले ही जारी किया था लुकआउट

दिल्ली पुलिस ने कुछ दिन पहले सुशील कुमार के खिलाफ लुकआउट नोटिस जारी किया था जिसके बाद सुशील कुमार देश के बाहर नहीं जा सकते हैं. इससे पहले पु‍लिस ने शुक्रवार को द‍िल्‍ली सरकार को पत्र ल‍िखकर अवगत कराया था कि सुशील हत्या और अपरहण के मामले में फरार चल रहा है.

ये भी पढ़ें-  क्या है राज्य सरकारों की चिंता बढाने वाली बीमारी ब्लैक फंगस? जानिये लक्षण और बचाव के तरीके

सुशील पहलवान दिल्ली सरकार के अंतर्गत आने वाले छत्रसाल स्टेडियम में डिप्टी डायरेक्टर के पद पर तैनात है. ये पड़ निष्पक्ष जांच में बाधक हो सकता है.

पहले भी सुशील कुमार पर लग चुके हैं गंभीर आरोप

सुशील कुमार पर पहले भी गंभीर आरोप लगते रहे हैं. उन पर सबसे बड़ा आरोप लगा था कि उन्होंने ही अपने जूनियर पहलवान नरसिंह यादव को साजिश करने डोप टेस्ट में फंसाया था.

नरसिंह यादव रियो ओलंपिक में भाग भी नहीं ले सके थे. नियमों के मुताबिक सुशील कुमार की जगह नरसिंह यादव को रियो ओलंपिक में भाग लेने के लिए कुश्ती महासंघ ने भेजा था जिसका विरोध सुशील कुमार कर रहे थे.

दावा किया जा रहा है कि सुशील कुमार हरिद्वार के एक आश्रम में छिपे हुए हैं. ये आश्रम देश के बड़े योगगुरु का है और उनकी सहायता से ही वे पुलिस से बचे हुए हैं. पुलिस ने दबिश देकर सुशील के कुछ सहयोगियों को रोहतक से पकड़ा है जिनमें से एक ने ये दावा किया है कि वो खुद सुशील को आश्रम तक छोड़कर आया है.

Zee Hindustan News App: देश-दुनिया, बॉलीवुड, बिज़नेस, ज्योतिष, धर्म-कर्म, खेल और गैजेट्स की दुनिया की सभी खबरें अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें ज़ी हिंदुस्तान न्यूज़ ऐप.  

ज़्यादा कहानियां

ट्रेंडिंग न्यूज़